नसीम क्यों नहीं बचा पाईं दामोदर को?

अजमेर देहात जिला कांग्रेस के महामंत्री व पुष्कर के पूर्व पालिकाध्यक्ष दामोदर शर्मा को स्वायत्त शासन विभाग द्वारा छह साल के लिए चुनाव लडऩे के लिए अयोग्य ठहराए जाने पर सभी को आश्चर्य हो रहा है। वे पुष्कर में सबसे दमदार कांग्रेसी नेता माने जाते हैं। अव्वल तो मामला भाजपा शासनकाल का है और फैसला कांग्रेस सरकार के रहते आया है, इस कारण ज्यादा अचरज हो रहा है। सवाल ये भी उठ रहा है कि क्या दामोदर शर्मा को कार्यवाही होने की भनक तक नहीं नहीं? एक सवाल ये भी उठ रहा है कि पुष्कर की विधायक व शिक्षा राज्य मंत्री श्रीमती नसीम अख्तर इंसाफ ने कार्यवाही रुकवाने के लिए अपने प्रभाव का इस्तेमाल क्यों नहीं किया।
-तेजवानी गिरधर

Leave a Comment