रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड के तिमाही नतीज़े घोषित

शानदार रही चौथी तिमाही, 7398 करोड़ का हुआ शुद्ध मुनाफ़ा
वर्षिक और Q4(FY 2015-15) नतीज़ो के मुख्य बिंदु

Reliance_Industries• वार्षिक कंसोलिडेटिड शुद्ध लाभ 17% बढ़कर 27,630 करोड़ की रेकॉर्ड ऊचॉई पर पहुंचा

• साल के कंसोलिडेटिड PBDIT ने 14.2% बढ़कर 52,503 करोड़ के रेकॉर्ड स्तर को छुआ

• तिमाही का कंसोलिडेटिड शुद्ध लाभ 15.9% बढ़कर 7,398 करोड़ के रेकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

• तिमाही का कंसोलिडेटिड PBDIT 16.9% बढ़कर 13,994 करोड़ के रेकॉर्ड स्तर पर जा पहुंचा

• वार्षिक रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल EBIT ने रेकॉर्ड स्तर को छुआ

• तिमाही का राजस्व 8.9% की कमी के साथ 64,569 करोड़ रूपये रहा

• तिमाही का EBIT मार्जिन 322bps बढ़कर 12.1% रहा

• तिमाही का कर पूर्व लाभ 12.9% बढ़कर 9,610 करोड़ रूपये जा पहुंचा

• तिमाही का नकद लाभ (असाधारण आइटम को छोड़कर) 13.8% बढ़कर 10,826 करोड़ रूपये रहा

• इस साल रिलायंस रिटेल ने 624 नए स्टोर खोलें है। स्टोरस् की कुल संख्या अब 3,245 हो गई है

श्री मुकेश डी अंबानी, चेयरमैन, रिलायंस इंड्स्ट्रीज़ लिमिटेड का व्यक्तव्य
“वैश्विक आर्थिक अनिश्चितताओं के बावजूद हमारे हाइड्रोकार्बन कारोबार के लिए वित्तीय वर्ष 2015-16 उत्कृष्ट उपलब्धियों का साल रहा है। रिफाइनिंग और पेट्रोकैमिकल का परिचालन और वित्तीय प्रदर्शन शानदार रहा। हमारी रिफाइनरीस् का GRMs दो अंको में रहा है साथ ही उनकी क्षमता का उपयोग पूरे वर्ष रेकॉर्ड स्तर पर किया गया। पेट्रोकैमिकल में हमारा पोर्टफोलियो संतुलित रहा। यह सभी प्रोडक्टस् और फीड स्टॉकस् में संतुलित रहा। इसने हमें उन्नत नाप्था क्रैकिंग इकोनोमिक्स और अनुकूल पॉलीमर मार्किट का लाभ उठाने में मदद मिली। रिलायंस रिटेल लगातार लाभ और विस्तार के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। इस वर्ष उसने 23% की मजबूत बढ़त हासिल की है। हम अपने हाइड्रोकार्बन और उपभोक्ता संबधित कारोबारों में नए आयाम (प्लेटफॉर्म) जोड़ने तथा उनकी त्रुटिहीन शुरूआत और स्थिरता के लिए प्रतिबद्ध है। इस साल जियो का व्यवसायिक रोल-आउट करोड़ों भारतीयों को डिजिटली सक्षम बनाने के साथ भारत और रिलायंस को विकास की राह पर ले चलेगा।“

Leave a Comment

error: Content is protected !!