इंडियास्किल्स 2021 राष्ट्रीय प्रतियोगिता में राजस्थान चमका, 5 उम्मीदवारों को नई दिल्ली में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक से सम्मानित किया गया

नई दिल्ली, जनवरी, 2022- शानदार कौशल, प्रतिभा, जोश और उत्साह के प्रदर्शन के बाद इंडियास्किल्स नेशनल कॉम्पिटिशन 2021 में आज राजस्थान ने कुल 5 पदक जीते. 3 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य। मिलाकर प्रतियोगिता में 185 उम्मीदवारों को विजेता घोषित किया गया था। नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में राजेश अग्रवाल, सचिव, कौशल एवं विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय, भारत सरकार ने इन विजेताओं को सम्मानित किया। विजेताओं को रु 100,000 का नकद पुरस्कार दिया गया, वहीं पहले रनर-अप को रु 75,000 और दूसरे रनर-अप को रु 50,000 की राशि से सम्मानित किय गया।
क्लोज़्ड-डोर प्रतियोगिता का आयोजन राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा एमएसडीई के मार्गदर्शन में किया गया था। प्रतियोगियों ने 54 तरह के कौशल जैसे कन्स्ट्रक्शन वर्क, ब्यूटी थेरेपी, कार पेंटिंग, हेल्थ एवं सोशल केयर, विज़ुअल मर्चेन्डाइजि़ंग, ग्राफिक डिज़ाइन टेक्नोलॉजी, वॉल एण्ड फ्लोर टाइलिंग, वेल्डिंग आदि में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।
इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता युवाओं की प्रतिभा को पहचान कर उन्हें सम्मानित करती है, इस साल प्रतियोगिता में 26 राज्यों/ केन्द्र शासित प्रदेशों से 500 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिताओं का आयोजन 7 से 9 जनवरी के बीच दिल्ली-एनसीआर के कई स्थानों और प्रगति मैदान में किया गया। प्रतियोगिता के दौरान स्थानीय अधिकारियों एवं दिल्ली सरकार द्वारा निर्देशित कोविड-19 के सभी नियमों का पालन किया गया। साथ ही सुरक्षा के अन्य सभी प्रोटोकॉल्स का भी सख्ती से पालन किया गया जैसे आगंतुकों/ दर्शकों को प्रवेश की अनुमति न देना, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करना और प्रतियोगिता स्थल पर नियमित रूप से सैनिटाइज़ेशन करना आदि। इसके अलावा बैंगलुरू और मुंबई में 3 से 5 जनवरी के बीच आठ प्रकार के कौशल में भी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
वेद मणि तिवारी, मुख्य परिचालन अधिकारी और कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी, राष्ट्रीय कौशल विकास निगम, प्रकाश शर्मा, निदेशक, वर्ल्डस्किल्स इंडिया और कर्नल अरूण चंदेल, सीनियर हैड, वर्ल्डस्किल्स इंडिया भी आज कार्यक्रम में मौजूद थे।
राजेश अग्रवाल, सचिव, कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने कहा, ‘‘इंडियास्किल्स प्रतियोगिता में उम्मीदवारों की प्रतिभा को देखकर मुझे बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। यह प्रतियोगिता युवाओं को अपने कौशल का प्रदर्शन करने का मौका देती है, साथ ही अन्य युवाओं को भी व्यवसायिक प्रशिक्षण के लिए प्रेरित करती है। मैं प्रतियोगिता के दौरान आयोजन स्थल पर गया और साइबर सिक्योरिटी, प्लम्बिंग, केबिनेट मेकिंग, इलेक्ट्रिकल इन्सटॉलेशन, विज़ुअल मर्चेन्डाइजि़ंग आदि के प्रतिभागियों से बातचीत की। मैं कहना चाहूंगा कि यह प्रतियोगिता युवाओं में नए कौशल, आध्ुानिक तकनीकों को बढ़ावा दे रही है।’’
वेद मणि तिवारी, मुख्य परिचालन अधिकारी और कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी, राष्ट्रीय कौशल विकास निगम ने कहा, ‘‘कौशल से अवसर उत्पन्न होते हैं, समाज निर्माण और आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलता है। कौशल प्रतियोगिता, कौशल के महत्व के बारे में जागरुकता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और युवाओं को नौकरियों एवं भावी चुनौतियों के लिए तैयार करती है। नए दौर के कौशल के साथ, इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता युवाओं को भावी कारोबारों एवं जॉब रोल्स के लिए तैयार कर रही है। यह निश्चित रूप से ज़्यादा से ज़्यादा युवाओं को कौशल अर्जित करने और इन क्षेत्रों में करियर बनाने के लिए प्रेरित करेगी।’’

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!