एडटेक स्टार्टअप क्रिएटिव गैलीलियो का अपना दूसरा लर्निंग ऐप टूनडेमी लांच

नयी दिल्ली, जनवरी, 2023: भारत के अग्रणी अर्ली लर्निंग एडटेक स्टार्टअप क्रिएटिव गैलीलियो ने टूनडेमी को लांच करने की घोषणा की है जोकि 3 से 10 वर्ष के बच्चों के लिए एक एजुकेशनल लर्निंग ऐप है। यह ऐप मजबूत नीव और बोध क्षमताओं का निर्माण करने, फोनिक्स सीखने और 21वीं सदी के महत्वपूर्ण कौशल विकास के लिए सीबीएसई, एनईपी और एनसीईआरटी पाठ्यक्रमों की तर्ज पर समग्र रूप से सीखने की यात्रा की पेशकश करता है।
इस कंपनी ने विशेषज्ञों द्वारा डिजाइन अग्रणी भारतीय और अंतरराष्ट्रीय किरदारों को एक प्लेटफॉर्म पर पेश किया है जिससे एनिमेटेड वीडियो और इंटरऐक्टिव गेम्स के जरिये बच्चों को जबरदस्त ढंग से सीखने का अवसर मिल सके।
यह ऐप डिजिटल और फिजिकल फीचर्स दोनों की पेशकश करता है। अवधारणाओं को समझने और व्यवहारिक तौर पर सीखने का अनुभव प्रदान करने के लिए यह कंपनी अपने सब्सक्रिप्शन मॉडल के तहत बच्चों को पर्सनलाइज्ड वर्कशीट्स और किताबों का एक किट उपलब्ध कराएगी। बच्चों के माता पिता अपने बच्चों की प्रगति पर नजर रख सकेंगे और उनके सीखने की यात्रा को लेकर योजना बना सकेंगे।
इस घोषणा के अवसर पर क्रिएटिव गैलीलियो की संस्थापक प्रेरणा झुनझुनवाला ने कहा, “टूनडेमी के साथ हम बच्चों के लिए एक फिजिटल इकोसिस्टम तैयार कर रहे हैं जहां उन्हें सर्वोत्तम डिजिटल एवं फिजिकल लर्निंग का मौका मिलेगा। जहां स्कूल के पाठ्यक्रम के अनुरूप हमारा डिजिटाइज्ड कंटेंट सर्वोत्तम डिजिटल लर्निंग की पेशकश करेगा, वहीं हमारी पै्रक्टिस वर्कशीट्स बच्चों की अवधारणाओं को और मजबूती प्रदान करेगी। जल्द ही हमारी योजना टूनडेमी एकैडमी शुरू करने की है जिसे स्कूलों के साथ गठबंधन में ऐसे मॉड्यूल्स को साझा करने, विकसित करने और लागू करने के लिए शुरू किया जाएगा जिनसे सीखने की क्षमता बढ़ाई जा सके।”
टूनडेमी क्रिएटिव गैलीलियो का दूसरा लांच है जिसे किड्स अर्ली लर्निंग ऐप लिटिल सिंघम की सफलता के बाद लांच किया गया है। कंपनी के पहले ऐप को एक करोड़ डाउनलोड्स मिले। यह बच्चों का अकेला ऐसा लर्निंग ऐप है जिसने प्ले स्टोर, इंडिया पर सभी आयु समूहों के शिक्षा वर्ग में शीर्ष 20 ऐप में जगह बनाई है।
वर्ष 2020 में स्थापित क्रिएटिव गैलीलियो ने भारत और दक्षिणपूर्व एशिया में अग्रणी वीसी से आज की तिथि तक एक करोड़ डॉलर जुटाए हैं।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!