तमिलनाडु एक्सप्रेस में आग, 48 जिंदा जले

हैदराबाद। दिल्ली से चेन्नई जा रही तमिलनाडु एक्सप्रेस के एक डिब्बे में सोमवार तड़के आग लग जाने से करीब 48 यात्रियों की मौत हो गई है और 28 अन्य घायल हो गए। हालांकि रेलवे ने फिलहाल 15 यात्रियों की मौत की पुष्टि की है। बोगी में लगी आग की चपेट में आने वाले सबसे अधिक चेन्नई के लोग थे। इस बीच, रेलमंत्री मुकुल राय ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने हादसे में मारे गए यात्रियों के परिजनों को पांच लाख रुपये व घायल हुए लोगों के परिजनों को 25 हजार रुपये मुआवजा देने का एलान किया है।

हैदराबाद से करीब 450 किलोमीटर दूर दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश में नेल्लोर रेलवे स्टेशन से चेन्नई को जाने के लिए निकली इस रेलगाड़ी की एस-11 बोगी में तड़के करीब 5:30 बजे आग लग गई। नेल्लोर के जिला कलेक्टर बी श्रीधर ने बताया कि रेलगाड़ी से पांच शव व 15 घायलों को बाहर निकाला गया है। घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

माना जा रहा है कि 15 यात्री बोगी में आग लगने पर उससे बाहर कूद पड़े। अन्य यात्रियों के संबंध में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। इस बोगी में कुल 72 यात्री यात्रा कर रहे थे। एक प्रत्यक्षदर्शी सुधीर के मुताबिक जब लपटों ने बोगी को अपनी चपेट में लिया तो कई लोग वहां फंस गए थे। उन्होंने बताया कि इस हादसे में वह तो हादसे में बच गए लेकिन कई यात्री नहीं बच सके क्योंकि बोगी के दो दरवाजे जाम थे और धुआं तेजी से फैल रहा था।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक लगाड़ी अपनी पूरी गति में नहीं थी इसलिए कुछ यात्री या तो समीप की बोगियों में चले गए या रेलगाड़ी से कूद गए। वैसे ऊपरी बर्थो पर सो रहे यात्री खुद को नहीं बचा सके क्योंकि धुआं तेजी से फैल रहा था और दरवाजे भी नहीं खुल रहे थे।

दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाया और राहतकर्मी शवों को बाहर निकालने के लिए गैस कटर्स व अन्य उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे है। घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए घटनास्थल पर एम्बुलेंस पहुंच गई है। जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक सहित शीर्ष अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए है और राहत एवं बचाव कार्य पर नजर रखे हुए है।

जिला कलेक्टर ने बताया कि क्षतिग्रस्त डिब्बे को ट्रेन से अलग कर बाकी ट्रेन को चेन्नई के लिए रवाना कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि कुछ प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बोगी में शौचालय के नजदीक शॉर्टसर्किट होने से आग लगी।

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, नई दिल्ली-चेन्नई तमिलनाडु एक्सप्रेस की एस 11 बोगी में 72 यात्री सफर कर रहे थे, जिनमें 28 चेन्नई और 17 दिल्ली के थे।

अग्निकांड से प्रभावित हुई नई दिल्ली-चेन्नई-तमिलनाडु एक्सप्रेस चेन्नई सेंट्रल स्टेशन पर पहुंच गई है। आग की चपेट में आई बोगी को अलग करने के बाद रेलगाड़ी को यहां भेजा गया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!