शहरवासियों की 50 दिनों से पानी की किल्लत होगी दूर-अजीत सिंह

20161007_120909टोंक। पिछले दो माह से पेयजल समस्या से परेशान शहर वासियों को अब 24 घंटे के भीतर पेयजल समस्या से छुटकारा मिल जायेगा। ये आश्वासन टोंक विधायक अजीत सिंह मेहता ने शहर की जनता को बनास नदी के रपटे पर चले रहे क्षतिग्रस्त पाईन लाईन के दुरूस्ती कार्य के निरीक्षण के दौरान दे रहे थे। विधायक अजीत सिंह मेहता ने कहा कि बीसलपुर बांध के कैंचमेन्ट एरिया में हुई भारी बारिश के चलते 9 अगस्त को बनास नदी में छोड़े जाने से नदी में उफान आ गया ओर बनास के गहलोद रपटे से गुजरी रही नाथड़ी पम्प हाऊस से टोंक शहरवासियों को पेयजल सप्लाई करने वाली लाईन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। जिससे शहर में पेयजल समस्या का संकट खड़ा हो गया। जब तक बनास का जल स्तर कम नहीं होता और लाईन को ठीक नहीं किया जाता तब तक जिला प्रशासन और जलदाय विभाग के अधिकारियों ने इस पेयजल संकट से निपटने के लिए बनास नदी से सटे कुओ, ट्यूबवैलों, टैंकरों के माध्यम से पेयजल व्यवस्था शुरू की। विधायक मेहता ने कहा कि टोंक शहर की जनता ने भी हालात को समझ ध्यैर्य बनाते हुए विभाग द्वारा की गई पेयजल आपूर्ति से ही संतोष किया। जिला प्रशासन ने बनास का जल स्तर कम होने के बाद हमारे अथक प्रयासों से स्वीकृत हुई 80 लाख रूपये की राशि से लाईन लाईन का कार्य युद्ध स्तर पर शुरू कर कार्य को पूर्ण कर लिया गया है। विधायक ने बताया कि शनिवार को विभागीय अधिकारियों द्वारा लाईन को जांच कर रविवार से शहर में पूर्व की तरह पेयजल व्यवस्था सुचारू रूप से शुरू कर दी जायेगी। विधायक अजीत सिंह मेहता ने शहर पेयजल समस्या को देखते हुए जलदाय विभाग के अधिकारियों द्वारा इतने कम समय में लाईन को ठीक कर जनता को राहत पहुंचाने पर धन्यवाद ज्ञापित किया।

पुरूषोत्तम जोशी टोंक

Leave a Comment

error: Content is protected !!