जिलास्तर पर 7 शिक्षक सम्मानित

दृष्टिबाधित 33 विद्यार्थियों को दिए एन्ड्रोयड फोन

bikaner samacharबीकानेर, 5 सितम्बर 2017। शिक्षक दिवस के अवसर पर राजकीय महारानी बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय सभागार में मंगलवार को जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस अवसर पर उल्लेखनीय सेवाओं हेतु 7 शिक्षकों का सम्मान किया गया, साथ ही राजकीय विद्यालयों में अध्ययनरत, 33 दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को एन्ड्रोयड फोन व मेमोरी कार्ड प्रदान किए गए।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने कहा कि शिक्षा संस्कार पैदा करती है। जिस प्रकार कुम्हार गीली मिट्टी को सधे हाथों से आकार देकर आकर्षक आकृतियां बनाता है, उसी प्रकार शिक्षक भी अबोध बच्चों को संस्कारित करता है। शिक्षक पूर्ण निष्ठा से दायित्व निर्वहन करते हुए दूरदराज के गांवों में शिक्षा की अलख जगाएं। महापौर नारायण चौपड़ा ने कहा कि शिक्षक, विद्यार्थियों को राष्ट्रसेवा के लिए तैयार करते हैं। भारत के युवा विदेशों में भी देश का नाम रोशन कर रहे हैं। डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा दृष्टिबाधित बच्चों को एन्ड्रोयड फोन व मेमोरी कार्ड प्रदान करना अनुकरणीय कार्य है। उन्होंने कहा कि मिशन मेरिट अभियान को शिक्षक पूर्ण गंभीरता से क्रियान्वित करें। सहीराम दुसाद ने कहा कि शिक्षक ही बच्चों को नई दिशा देकर राष्ट्र सेवा की प्रेरणा देता है। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालयों में महापुरूषों की मूर्तियां व तस्वीरें लगाई जाएं, जिससे बच्चे प्रेरित हो सकें।

इनका हुआ सम्मान- इस अवसर पर शिक्षा क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 7 शिक्षकों का सम्मान किया गया। इनमें डॉ. मदनगोपाल लढ्ढ़ा, मक्खनलाल, डॉ. विष्णुदत्त जोशी, चित्रा मुहाल, देवकिशन कड़वासरा, मोहरसिंह, दीपक जोशी शामिल हैं।

एडीपीसी हेतराम साहरण ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम का संचालन मोनिका गौड व रोहिताश ने किया। विद्यालय की छात्राओं ने सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत किया। विद्यालय परिसर में शिक्षा विभाग के उल्लेखनीय कार्यों सम्बंधी फोटो प्रदर्शनी भी लगाई गई।

इस अवसर पर संयुक्त निदेशक नूतनबाला कपिला, उपनिदेशक देवलता, एडीईओ रमेश ओझा, भूपसिंह तिवाड़ी, शिवशंकर चौधरी, एडीपीसी भंवरलाल शर्मा, राजेन्द्र जोशी, नवाब अली उपस्थित थे।

– मोहन थानवी

Leave a Comment