बजरी माफियों के कारण राज्य की अर्थव्यवस्था कमजोर हुई-पूर्व मंत्री बेनीवाल

बीकानेर,दिसम्बर। लूणकरनसर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस
प्रत्याषी पूर्व मंत्री वीरेन्द्र बेनीवाल ने कहा कि राजस्थान में भाजपा
के ये दावे सरासर झूठे है कि उसने 15 लाख नौकररियों के विरूद्ध 44 लाख से
अधिक नौकरियां दी है। यह सरासर युवाओं और बेरोजगारों के साथ मजाक है।
बेनीवाल रविवार को लूणकरनसर विधानसभा क्षेत्र के गांव उदेशिया, ऊंचाईडा,
दुलमेरा, हनीवाला, फूलदेसर, ढाणी भोपालराम, कालवास, चक 303 में अपने
समर्थकों के साथ नुक्कड़ सभाओं में आमजन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने
कहा कि भाजपा ने समाज के सभी वर्गों के साथ धोखा किया है। किसान,मजदूर व
गरीब लोगों को लोक लुभावने वादे किए है। इन वादों पर वह खरा नहीं उतरी।
आज जनता अपने-आपको ठगा हुआ महसूस कर रहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य
सरकार ने बजरी माफियाओं को संरक्षण देकर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को
प्रभावित किया है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार चाहती तो हाल में बजरी पर
जो छूट मिली है वह उससे पहले मिल जाती,लेकिन ऐसा नहीं किया गया।
पूर्व मंत्री बेनीवाल ने नोटबंदी को गैरवाजिब बताया और कहा कि भाजपा ने
स्वयं स्वीकार किया है कि नोट बंदी के कारण कृषि पर बहुत बुरा असर पड़ा
है। प्रदेश की जीडीपी में कृषि क्षेत्र का योगदान 2014 में 28 प्रतिशत से
घटकर 2018 में 24 प्रतिशत रह गया है,जो भाजपा सरकार की विफल कृषि नीति का
प्रमाण है। उन्होंने कहा कि इस सरकार से पहले किसी भी सरकार ने कृषि में
काम आने वाले उपकरण व खाद्य व दवाओं पर कर नहीं लगा,परन्तु आज जीएसटी
लगाकर किसानों की आर्थिक स्थिति को कमजोर किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में नकली बीजों का वितरण एक बड़ी समस्या बन रही
है। राष्ट्रीय बीज निगम द्वारा सप्लाई किए गए नकली बीज झालावाड़ में
किसानों को बांटे गए। इस बात को भाजपा नेता ने एक टीवी डिबेट में स्वीकार
भी किया है। उन्होंने किसानों के कर्ज माफी को धोखा बताया और कहा कि
किसानों का जो कर्जा माह किया गया है वह 5 से 50 हजार है,उसमें भी केसीसी
पंजीकृत किसान शामिल नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने घोषणा पत्र में
कृषक सुरक्षा अधिनियम लागू करने की बात कही है,इस मामले में वह एक इंच
कदम भी नहीं उठाया।
पूर्व मंत्री ने कहा कि उनके पिता स्वर्गीय भीमसेन ने क्षेत्र के
भूमिहीन किसानों को कृषि भूमि आवंटन करवाए जाने पर जोर दिया और बडे़
पैमाने पर भूमि आवंटन के कार्य करवाए,जिससे क्षेत्र में अन्न उत्पादन
बढ़ने से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ व मंडिया विकसित हुई।
उन्होंने कांग्रेस की सरकार के दौरान चिकित्सा,शिक्षा,आधारभूत सुविधाओं
सुलभ कराने की दिशा में हुए प्रयासों की जानकारी दी।

Leave a Comment