अस्तित्व को बचाने के लिए वन क्षेत्र बढ़ाना होगा-कुमार पाल

बीकानेर, 06 अगस्त। हशिचंद्र लोक प्रशासन प्रशिक्षण संस्थान परिसर मंे 70 वां जिला स्तरीय वन महोत्सव मंगलवार को जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम की अध्यक्षता में समारोह पूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर विभिन्न प्रजातियों के 201 पौधे रोपित किए। साथ इन पौधों की सारसंभाल की शपथ ली गई।
जिला कलक्टर गौतम ने कहा कि जंगल हमारे जीवन में कितनी अहम भूमिका निभाते हैं, इससे हमें भलीभांति परिचित होना ही होगा, अन्यथा बहुत देर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि वृक्ष कार्बन आक्साईड लेकर हमें जीवनदायी आक्सीजन देता है। स्वयं जहरीली गैस लेकर हमें प्राणवायु देता है। एक पेड़ अपने आयुकाल में लाखों रूपये की आक्सीजन बनाता है। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति जीवन में जितनी आक्सीजन लेता है, उसे उसकी तुलना में ज्यादा पेड़ लगाने चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें अपने वजूद को बचाए रखने के लिए पेड़ तो लगाने ही होंगे अन्यथा इस धरा से जीव-जन्तुओं का अस्तित्व खतरे में पड़ जायेगा। उन्होंने आमजन को आगाह किया कि अगर हमारा पर्यावरण सुरक्षित नहीं होगा तो हमारा जीवन भी सुरक्षित नहीं होगा। जिस क्षेत्र का पर्यावरण दूषित होगा, वहां विभिन्न तरह की बीमारियां फैलेगी।
गौतम ने कहा कि वन महोत्सव के दौरान गांव-शहर व मौहल्लों में पौधरोपण करवाया जायेगा। उन्हांेने कहा कि पौध लगाने के साथ ही उसे पडे़ बनाना होगा। उसकी सारसंभाल अपने बच्चों की तरह करनी होगी, तभी यह पौध वृक्ष बन सकेंगे। वनों को विनाश से बचाने एवं वृक्षारोपण योजना को वन-महोत्सव का नाम देकर अधिक-से-अधिक लोगों को इससे जोड़कर भू-आवरण को वनों से आच्छादित करना एक अच्छा नया प्रयास है। यद्यपि यह कार्य एवं नाम दोनों ही नए नहीं है। हमारे पवित्र वेदों में भी इसका उल्लेख है।
बीकानेर पंचायत समिति की प्रधान राधा देवी ने जल, जंगल, जर, जमीन व जन (जनता) के महत्व पर प्रकाश डाला और कहा कि वनोपज भी हमारे दैनिक जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हम स्वयं को वनों से अलग नहीं कर सकते। विकास की दौड़ में हम आज कंक्रीट के जंगल तक आ पहुंचे हैं।
इस अवसर पर मुख्य वन संरक्षक एम. के. अग्रवाल ने कहा कि पर्यावरण असंतुलन की वजह से धरती पर घटता-बढ़ता तापमान, आंधी, तूफान, बाढ़, सूखा, भूमिक्षरण, जैसी विभिषिकाओं से जूझता मानव कदाचित अब वनों के महत्व को समझने लगा है। तभी वनों के संरक्षण की दिशा में सोच आगे बढ़ी है। व्यावहारिक रूप से यह उचित भी है और समय की मांग भी यही है। उन्होंने देश में वन महोत्सव के इतिहास और देश-प्रदेश और संभाग में वन क्षेत्रफल की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में वन विभाग ने इस वर्ष 5 लाख से अधिक पौधे वितरित किए हैं।
समारोह में हरीश चंद्र लोक प्रशासन प्रशिक्षण संस्थान के अतिरिक्त निदेशक (प्रशासन) विजय पाल भुल्लर, अतिरिक्त निदेशक (लेखा) योगिता गोयल, अतिरिक्त निदेशक (बीमा) शिशिर चतुर्वेदी, वन सरंक्षक जय प्रकाश, मण्डल वन अधिकारी अनिता, कौशल सक्सेना, वीरेन्द्र जोरा ने भी विचार व्यक्त किए। सेवाश्रम के मूक बधिर बच्चों ने अंहिसा, शान्ति, सौहार्द के संदेश पर आधारित नृृत्य की प्रस्तुति दी। संचालन विनोद जोशी ने किया। मोहम्मद इकबाल ने सांप को पकड़ने की प्रक्रिया के बारे में बताया और सांपों व अन्य जहरीले वन्य जीवों के संरक्षण पर बल दिया। वन महोत्सव में कर्मचारी महासंघ के गोविन्द शर्मा,कर्मचारी संगठन आई.जी.एन.पी,राजस्थान एकाउंट ऐसोशियेशन,सेवाश्रम, मरूधर काॅलोनी पर्यावरण समिति, पवनपुरी दक्षिण विस्तार काॅलोनी की विकास समिति ने सहयोग किया। इससे पहले अतिथियों ने संस्थान परिसर में नीम,गुलमोहर, सेरेश,रोहिड़ा, खेजड़ी,अमलताश की पौध का रोपण किया।
——-
डा एल ए गौरी मेडिसिन विभागाध्यक्ष

बीकानेर, 6 अगस्त। वरिष्ठ आचार्य मेडिसिन डा लियाकत अली गौरी पूर्ववत विभागाध्यक्ष मेडिसिन बने रहेंगे। सरदार पटेल आयुर्विज्ञान महाविधालय एवं सम्बद्ध चिकित्सालय के प्रधानाचार्य ने बताया कि डा आर पी अग्रवाल द्वारा वर्तमान में विभागाध्यक्ष नियुक्त होने पर इस पर नियुक्ति ग्रहण करने की अनिच्छा के बाद यह आदेश जारी किए गए हैं।
——
नोडल अधिकारी नियुक्त
बीकानेर, 6 अगस्त। विधानसभा निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण से पूर्व मतदाताओं का सत्यापन सीएससी, ई-मित्र पर तथा उसके बाद बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा घर-घर जाकर किया जाएगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी कुमार पाल गौतम ने बताया कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद को स्वीप कार्य हेतु व उपनिदेशक सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग को आई टी कार्य हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
——
कैंसर रोग की पहचान के लिए चिकित्सा शिविर बुधवार को

बीकानेर,06 अगस्त। जिला अस्पताल में बुधवार को कैंसर रोग की पहचान, जांच एवं परामर्श शिविर आयोजित होगा।
एस.डी.एम.राजकीय जिला अस्पताल अधीक्षक डाॅ.बी.एल.हटीला ने बताया कि यह शिविर एनसीडी इकाई एवं जिला चिकित्सालय के संयुक्त तत्वावधान में 7 अगस्त को सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक निःशुल्क लगेगा। विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम द्वारा कैंसर रोगियों की जांचकर एवं आवश्यक उपचार उपलब्ध करवाते हुए लोगों को इस रोग के लक्षणों एवं बचाव के बारे में बताया जायेगा। शिविर में कार्यवाहक एन.सी.डी. प्रभारी डाॅ.मनोज मीणा डाॅ.हिमाशु दाधिच,डाॅ.विजय लक्ष्मी व्यास, डाॅ.जसविन्द्र गिल,महेन्द्र सिंह राजपुरोहित अपनी सेवाएं देंगे।
अस्पताल के कार्यवाहक अधीक्षक डाॅ.भुपेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि शिविर में मुख्यतया पुरूषों के मुंह,फेफडे,ग्रासनली और अमाशय के कैंसर तथा स्त्रियों के गर्भाशय,स्तन और मुंह कैंसर से संबंधित सभी जांचे निःशुल्क की जायेगी एवं आवश्यक बचाव व उपचार बताए जायेंगे।
——–
एससी/एसटी एक्ट के तहत 11 लाख से अधिक राशि पीडितों को स्वीकृत

बीकानेर,06 अगस्त। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट कुमार पाल गौतम ने अनुसूचित जाति व अनुसूचित जन जाति एक्ट के तहत पीड़ित व्यक्ति/आश्रितों को 11 लाख 25 हजार रूपये की आर्थिक राशि स्वीकृत की है।
जिला कलक्टर ने बताया कि जिले के विभिन्न तहसीलों के 26 पीडितों को आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। उन्होंने बताया कि रेंवती /भंवर लाल नोखा को 50 हजार,हस्ती राम /दुर्गा राम नोखा को 25 हजार,सुखदेव नाथ शारन/बुधनाथ बीकानेर को 25 हजार,धापू देवी/ अमराराम बीकानेर को 1 लाख रूपये,पोकर राम/बेगाराम जोधासर को 25 हजार,अर्जुनराम और परमेश्वर लाल/फूसाराम स्वरूपदेसर को 50-50 हजार,दुर्गा/दीपाराम बीकानेर को 50 हजार,लिछमा/रामचंद्र बीकानेर को 1 लाख रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है।
गौतम ने बताया कि जेठाराम/मोडा राम नाल को 50 हजार रूपये,शंकरलाल/गंगाराम स्वरूपदेसर को 25 हजार रूपये,सुमन/गंगाराम व लीला नायक/राजूराम को 1-1 लाख रूपये, श्रीमती बेबी/मदनलाल सागर बीकानेर को 25 हजार रूपये,मघाराम/केशुराम मेघवाल गडियाला 25 हजार, राकेश/राधा किसन पेमासर बीकानेर को 25 हजार रूपये,तारादेवी/गोपीराम बखूसर लूणकरनसर 25 हजार रूपये,कन्हैया लाल /गंगाराम बीकानेर को 25 हजार रूपये,चुका देवी/गणेशराम मेघवाल समन्दसर बीकानेर को 50 हजार, करतार/हाकम राम कोलायत को 25 हजार रूपये,विद्यासागर/फूसाराम चायल बीकानेर को 25 हजार रूपये,टीकूराम/गोपालराम रोड़ा नोखा को 25 हजार रूपये,अनिल रैगर/अर्जुन रैगर उदयरामसर बीकानेर को 50 हजार रूपये,देव भरत/जेठाराम कोलायत को 25 हजार रूपये,भूपेन्द्र सिंह/महेश प्रकाश बीकानेर को 25 हजार और सन्तुराम/टीला राम अक्कासर को 25 हजार रूपये की राशि स्वीकृत की है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!