जिओ की बादषाहत बरकरार, एयरटेल में भी दम आया

जयपुर, 21 जनवरी। करीब तीन महिने पहले आईयूसी चार्ज लगने के बाद भी रिलायंस जिओ राजस्थान में लगातार अपने ग्राहकों की संख्या और राजस्व में बादषाहत बनाए हुए है। पिछले नवंबर माह में तो नए उपभोक्ताओं की संख्या में 3.96 लाख की वृद्धि दर्ज की गई है जिसे मिलाकर प्रदेष में इसकी कुल ताकत दो करोड़ 39 लाख ग्रहकों की हो गई। राजस्थान में कुल टेलीकॉम उपभोक्ताओं में 37 प्रतिषत तो केवल जिओ से ही जुड़े हैं।
अर्से बाद भारती एयरटेल ने भी अपने ग्रहकों की संख्या में एक लाख 26 हजार का इजाफा किया है जिससे इसकी क्षमता 2 करोड़ 13 लाख ग्राहकों के साथ प्रदेष की कुल उपभोक्तओं में 33 प्रतिषत हो गई। सरकारी उपक्रम बीएसएनएल ने 14 हजार ग्राहक जोड़े हैं और कुल 61 लाख ग्राहकों के साथ प्रदेष में 9 प्रतिषत भागीदारी में है।
ट्राई के अनुसार उपरोक्त तीन आपरेटरों के ग्राहकों की संख्या में तो बढ़ोतरी हुई लेकिन एक पुराने आपरेटर वाडाफोन आइडिया की हालत लगातार कमजोर हो रही है। उसके ग्राहकों की संख्या नवंबर तक मात्र एक करोड़ 40 लाख रह गई और एक महिने में उसने 14 लाख ग्राहक खोकर अपनी उपस्थिति केवल 22 प्रतिषत पर कर ली।

टेलीकॉम नियामक ट्राई की ओर से जारी नवंबर माह के आंकड़ों को देखें तो मात्र तीन साल पहले टेलीकॉम सेवा क्षेत्र में आई मुकेष अंबानी की कंपनी, रिलायंस जिओ ने चार माह पहले प्रदेष में पुराने आपरेटरों को पीछे छोड़ कर अपना वर्चस्व बना लिया था। अभी जनवरी में ही रिलायंस ने अपने ग्राहकों को वॉय फॉय से सीधे वायस कॉल और वीडियो कॉल की सुविधा बिना किसी षुल्क के उपलब्ध करवाई है।

रिपोर्ट से एक खास बात यह पता चलती है कि जिओ, एयरटेल और बीएसएनएल के ग्राहकों में इजाफे के बावजूद राजस्थान में मोबाइल फोन उपभोक्तओं के आधार में गिरावट दर्ज हुई और यह अब 6 करोड़ 54 लाख पर आ गई जो करीब 8 लाख कम है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!