सरकार ने राशन देने का निर्णय को लेकर बहुत अच्छा कदम उठाया है

लक्ष्मण बडेरा
कोरोना महामारी से बेरोजगार हुए लोगों को सरकार ने राशन देने का निर्णय को लेकर बहुत अच्छा कदम उठाया है सरकार के इस निर्णय का कमठा मजदूर यूनियन बाड़मेर ने स्वागत किया मजदूर नेता लक्ष्मण बडेरा ने प्रेस बयान जारी कर राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व खाद्य मंत्री रमेश चंद मीणा को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बताया कि सरकार ने कोरोना महामारी की चपेट में आए राज्य के सभी कामगारों मंदिरों के पुजारियों मस्जिदों के मौलवियों व इमामो तथा बाल काटने वालों कपड़े धुलाई ओर प्रेस करने वाले पालिश करने वाले घर में साफ सफाई व खाना बनाने वाले जो लोग चौराहे पर अपना सामान बेचते हैं रिक्शा चलाने वाले ऑटो चलाने वाले,पान की दुकान चलाने वाले, व्यक्ति रेस्टोरेंट और होटल के वेटर और रसोइए तथा रद्दी बीनने वाले भवन निर्माण के कार्य में नियोजित सभी कमठा मजदूरश्रमिक व कोरोना के कारण बंद हुए उद्योगों में लगे हुए श्रमिक प्राइवेट पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कार्यरत ड्राइवर और कंडक्टर स्ट्रीट वेंडर धार्मिक संस्थानों में पूजा और ईबादत कर्मकांड धार्मिक कार्य करने वाले व्यक्ति और ऐसे धार्मिक व्यक्ति जो विवाह और निकाह व अन्य धार्मिक कार्य संपन्न कराने वाले ओर मैरिज प्लेस और कैटरिंग में काम करने वाले मजदूरों को सिनेमाहॉल में काम करने वाले कामगारों को व कोचिंग संस्थानों के सफाई और सहायता करने वाले कामगारों, विवाह समारोह आदि में बैंड ढोल बजाने वाले ,घोड़ी वाले, गाने बजाने वाले तथा नगीनो आभूषण चूड़ियों के काम में लगे सभी मजदूर फर्नीचर के काम में लगे सभी मजदूर बूकबाइंडर्स प्रिंटिंग प्रेस के काम में लगे सभी मजदूर सभी प्रकार की रंगाई और पुताई के काम में लगे सभी मजदूर पर्यटन गाइड का काम करने वाले कामगार कठपुतली दिखाने वाले और बनाने वाले व्यक्तियों के अलावा वे मजदूर फूल मालाओं का काम करने वाले मजदूर व टायर पंचर बनाने वाले मजदूर पत्तल और दोना बनाने वाले मजदूर घुमंतु व अर्ध घुमंतु व्यक्ति गाड़िया लोहार ,झूले वाले ,खेल तमाशा दिखाने वाले ,जादू करतब दिखाने वाले लोक कलाकार कालबेलिया मंगनियार इत्यादि कुली ओर हमाल मिट्टी के बर्तन बनाने वाले सभी कामगारों को भी शामिल किया है इनके अलावा अन्य जो कोरोना बीमारी से बेरोजगार हो गये है उन सभी विशेष श्रेणियों को राज्य सरकार 2 महीने तक मई और जून में प्रति व्यक्ति 5 किलो गेंहूँ देने का निर्णय लिया है इसके साथ में ही राज्य सरकार ने दूसरे प्रदेशों से जो प्रवासी मजदूर कामगार मिस्त्री अपने गांव में आए हैं उन लोगों को भी 2 महीने तक का राशन देने का निर्णय लिया है यह निर्णय एक बहुत ही स्वागत योग्य कदम है कमठा मजदूर यूनियन ने इस कदम का स्वागत करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री को हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित किया है मजदूर नेता लक्ष्मण बडेरा ने सभी प्रभावित कोरोना की बीमारी से और इन सभी श्रेणियों के लोग इन सभी प्रकार के मजदूर काम धंधे में लगे हुए अन्य श्रेणी के मजदूर भीजो कोरोना महामारी की मार से बेरोजगार हो गए हैं तथा इसके जो प्रवासियों को सरकार ने बड़ी राहत देते हुए खाद्यान्न उपलब्ध कराने का भी निर्णय लेकर प्रवासियों को हिम्मत बंधाई हैं मजदूर नेता लक्ष्मण बडेरा ने उन सब लोगों से अपील करते हुए कहा ह है कि ई मित्र के माध्यम से आप अपना जन आधार कार्ड ले जाकर आवेदन भरकर सरकार को भेजे ताकि सरकार जल्दी सबको गेंहू उपलब्ध करा सके मजदूर नेता ने सभी सामाजिक कार्यकर्ता व जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे इस काम मे गरीब लोगों का मार्गदर्शन करके राहत पहुंचाने में मददगार बने।

Leave a Comment

error: Content is protected !!