एक घंटा योग रोगमुक्ति के लिए आवश्यक- डॉ0 पूर्णान्दु शर्मा

इण्डियन योग एसोसिएशन का ऑनलाईन योग शिविर प्रारंभ
प्रतिदिन प्रातः 6.30 से 7.30 तक आयोजन
राजस्थान! यदि व्यक्ति प्रतिदिन एक घण्टा योगाभ्यास के लिए समय देता है तो उसके शारीरिक, मानसिक, प्राणिक, बौद्धिक एवं आध्यात्मिक स्वास्थ्य प्राप्त हो सकता है। सूक्ष्म व्यायाम जहाँ स्थूल शरीर को गतिमान कर देते हैं वहीं आसनांे से स्थिरता एवं मानसिक शांति प्राप्त होती है। प्राणायाम हमारी प्राणशक्ति को आयामित करते हुए रोगमुक्ति के लिए अत्यंत प्रभावी है। प्रतिदिन योगाभ्यास से व्यक्ति दिनभर चुस्त दुरूस्त रहता है और उसकी रोगों से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता का विकास भी होता है। उक्त विचार इण्डियन योगा एसोसिएशन के राजस्थान चैप्टर के संयुक्त सचिव डॉ0 पूर्णान्दु शर्मा ने त्रिदिवसीय योगा फॉर होलिस्टिक वैलबीईंग शिविर के प्रथम दिवस के योगाभ्यास कराते हुए व्यक्त किए।
शिविर का उद्घाटन एसोसिएशन के चेयरपर्सन श्री विनोद पारीक ने किया। उन्होंने समग्र स्वास्थ्य के लिए योग की आवश्यकता एवं इसके वैज्ञानिक प्रशिक्षण का सभी योग साधकांे को लाभ उठाने का आह्वान किया। शिविर के कॉर्डिनेटर श्री कपिलदेव केसरी ने बताया कि कि इस शिविर की थीम मुख्यतः इम्यूनिटी विकास रखी गई है किंतु इन अभ्यासों से जोड़ों के दर्द, मोटापा, मधुमेह, थॉयरायड, हाइपरटेण्शन, तनाव, अवसाद तथा अन्य मनोकायिक रोगों में भी लाभ मिलेगा। सचिव डॉ0 स्वतन्त्र शर्मा ने बताया कि शिविर का समापन रविवार 18 अक्टूबर को होगा जिसमें इण्डियन योगा एसोसिएशन के उत्तर क्षेत्र कॉर्डिनेटर डॉ0 जयदीप आर्य का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। संयुक्त सचिव – को मीडिया श्री संदीप कासनियां ने बताया कि ऑनलाईन शिविर का सोशल मीडिया प्रबंधन संयुक्त सचिव श्री हिमांशु पालीवाल देख रहे हैं तथा राजस्थान चैप्टर के सभी पदाधिकारी इस योग शिविर में सहयोग कर रहे हैं।
(संदीप कासनियंा)
संयुक्त सचिव
इण्डियन योगा एसोसिएशन – राजस्थान चैप्टर

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!