मिर्धा की पुण्यतिथि पर मुख्यमंत्री ने अर्पित किये श्रद्धासुमन

जयपुर । मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को विधानसभा सचिवालय में पूर्व विधानसभाध्यक्ष एवं केन्द्रीय मंत्राी तथा राज्यसभा के उपसभापति रहे स्वर्गीय रामनिवास मिर्धा के चित्रा के समक्ष श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हंे अपनी श्रद्धांजली दी। नागौर जिले के कुचेरा ग्राम में श्री बलदेव राम मिर्धा के घर 24 अगस्त, 1924 को जन्मे स्वरामनिवास मिर्धा 1953 से 1967 तक विधानसभा के सदस्य रहे। स्व. मिर्धा 1957 से 1967 तक विधानसभा अध्यक्ष तथा 1967 में ही उप चुनाव में राज्यसभा के सदस्य चुने गये। जून 1970 में स्वमिर्धा पहली बार केन्द्रीय गृह राज्य मंत्राी बनाये गये। वे 1977 से 1980 तक राज्यसभा के उपसभापति और 1983 से 1989 तक केन्द्र में विभिन्न विभागों के मंत्राी रहे। स्व. मिर्धा दसवीं लोकसभा में भी (1991 से 1996) सदस्य रहे। उस दौरान वे संयुक्त संसदीय समिति के सभापति भी रहे। स्व. मिर्धा केन्द्रीय ललित कला अकादमी के दो बार ( 1976 से 1980 तथा 1990 से 1995) अध्यक्ष मनोनीत किये गये। स्व. मिर्धा ने कई अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में भारत का प्रतिनिधित्व किया तथा भारतीय युवा संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे हैं। इस अवसर पर पूर्व विधायक श्री नवरंग सिंह और गुरूशरण छाबड़ा तथा विधानसभा के विशेषाधिकारी श्री प्रकाशचंद पिछोलिया तथा विधानसभा सचिवालय के अधिकारियांे व कर्मचारियों ने भी स्व. मिर्धा के चित्रा के समक्ष पुष्प अर्पित किये।

Leave a Comment

error: Content is protected !!