गांवों की समस्याओं का गांवों में ही होगा समाधान-नसीम

भीलवाडा,  भीलवाडा जिले की प्रभारी शिक्षा राजयमंत्राी श्रीमती नसीम अख्तर इंसाफ ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रहे प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत अब गांव की समस्याओं का गांव में ही समाधान हो सकेगा। श्रीमती अख्तर आज हुरडा पंचायत समिति के गागेडा ग्राम में आयोजित प्रशासन गांवों के संग शिविर में उपसिथत ग्रामीणजनों को संबोधित कर रही थी।  उन्होंने शिविर का अवलोकन किया।  ग्रामीणों की समस्याएं सुनी और लाभानिवतों को पटटे एवं चेक वितरित किये।
प्रभारी मंत्राी ने ग्रामीणों से कहा कि वे शिविरों में भाग लेकर अपनी देनंदिन समस्याओं का समाधान करावें, व्यकितगत व सामुदायिक महत्व के लंबित प्रकरणों का निपटारा करायें।
अख्तर ने अधिकारियों व कर्मचारियों से भी कहा कि वे राज्य सरकार की मंशा के अनुरुप सेवा की भावना से लोगों के काम करें और अभियान को सफल बनावें।  उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्राी ब्याजरहित ऋण योजना में भीलवाडा जिले में सर्वाधिक राशि के ऋण बांटे गये तथा बी.पी.एल. आवास योजना में भी प्रशंसनीय कार्य हुआ है।
भीलवाडा जिले के प्रभारी सचिव पी0के0 गोयल ने कहा कि सरकार ने जनता के फायदे के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलार्इ है उनका लाभ पात्रा व्यकितयों को इस अभियान में उठाना चाहिए।  उन्होंने विभिन्न विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों से कहा कि वे आपसी समन्वय के साथ ज्यादा से ज्यादा लोगों के काम निपटाएं।
पूर्वमंत्राी एवं माण्डल क्षेत्रा के विधायक रामलाल जाट ने कहा कि अभियान के माध्यम से घर बैठे गंगा आर्इ है जिसका लाभ लेने से नहीं चूकें।  गांवों में राजीव गांधी सेवा केन्द्र खोले गये ैं जिनके माध्यम से लोग देश और दुनियां से जुड सकेंगे।  ब्याजमुक्त ऋण दिया जा रहा है, आवासीय पटटे दिये जा रहे हैं, पेंशन स्वीकृत की जा रही है, राजस्व संबंधी मामले निपटाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिविरों में बिजली के कृषि कनेक्शन की फाइलें भी बनार्इ जायेगी।  उन्होंने किसानों को सिंचार्इ के लिए दिन में बिजली देने की भी जरुरत बतार्इ साथ ही कहा कि अब विभिन्न योजनाओं में लाभानिवतों को अनुदान राशि सीधी उनके खाते में जमा हो सकेगी।
जिला प्रमुख श्रीमती सुशीला सालवी ने भी संबोधित करते हुए जन प्रतिनिधियों का आव्हान किया कि वे प्रत्येक शिविर में जायें और लोगों के काम करवायें।
आसीन्द क्षेत्रा के विधायक रामलाल गुर्जर ने अधिकारियों से कहा कि वे शिविर में जनता को लाभानिवत करने की मंशा से कार्य करें।
जिला कलक्टर ओंकार सिंह ने कहा कि जन समस्याओं के समाधान हेतु प्रत्येक विभाग की टीम द्वारा गांव में अगि्रम पहुंचकर समस्याओं का चिन्हीकरण किया जा रहा है।  हमने आमजन कीसुविधा के लिए 12 प्रचार रथ गांवों में भेजे हैं, शिविर स्थल पर हेल्प डेस्क स्थापित की है जहां फोटोकापी, लेमीनेशन, फोटोग्राफी, इन्टरनेट आदि की सुविधाएं उपलब्ध करार्इ है।  शिविरों में पेंशन, पालनहार, बीपीएल की पात्राता वालों को भी लाभानिवत किया जा रहा है।  सभी का यही प्रयास है कि आमजन को इन शिविरों मेंं अधिकाधिक राहत प्रदान की जाए।
शिविर में प्रभारी मंत्राी ने सर्इदा बानू को दो हजार रु0 की सहयोग राशि प्रदान की।  5 निर्धन व्यकितयों का मौके पर ही बीपीएल में चयन किया गया और उन्हें जिला कलक्टर की ओर से कम्बले प्रदान की गर्इ।  लादूलाल नामक विकलांग को विकलांग पेंशन स्वीकृत की गर्इ।  नरेगा में अपना खेत अपना काम के पांच आवेदन स्वीकृत किये गये।  मुख्यमंत्राी बी.पी.एल. आवास योजना में 13 फार्म भरवाये और 28 पटटे वितरित किये गये।
उपखण्ड अधिकारी हरिराम मीणा ने बताया कि शिविर में नामान्तरण के 52, खातेदारी के 4, बंटवाडे के 15, इन्द्राज दरुस्ती के 3, सीमाज्ञान के 2, भूमिरुपान्तरण का एक,प्रमाण पत्रा जारी करने के 51, पेंशन के 35, आवासीय पटटे जारी करने के 121, पालनहार योजना के 3 प्रकरणों का निस्तारण किया।  तीन व्यकितयों को खेत में पार्इपलाइ्रन बिछाने के लिए अनुदान राशि के चेक प्रदान किये।
शिविर में उप जिलाप्रमुख गजमल जाट, केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष भंवरु खां एवं पंचायत समिति प्रधान सहित अनेक जनप्रतिनिधिव अधिकारीगण भी उपसिथत थे।
प्रभारी सचिव ने आलमास शिविर का शुभारंभ किया
भीलवाडा जिले के प्रभारीसचिव पी0के0 गोयल ने माण्डल पंचायत समिति के आलमास ग्राम में प्रशासन गांवों के संग शिविर का शुभारंभ किया,  अवलोकन किया, जनसमस्याएं सुनी और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। विधायक रामलाल जाट, जिलाप्रमुख सुशीला सालवी, जिला कलक्टर ओंकार सिंह, प्रधान गोपाल सारस्वत ने भी शिविर में जनसमस्याए ंसुनी और ग्रामीणों को अभियान का पूरा लाभ उठाने की बात कही। आलमास शिविर में 101 जनों को आवासीय पटटे जारी किये गये,  25 पेंशन स्वीकृतियां जारी की, मुख्यमंत्राी बीपीएल आवास योजना में 22 आवेदन पत्रा भरे गये, जन्म प्रमाण पत्रा 9 व  मृत्यु प्रमाण पत्रा 35 जारी किये गये।  फार्मपोण्ड योजना में 4 स्वीकृतियां जारी की।  पशु चिकित्सा शिविर लगाकर 235 पशुओं का उपचार किया गया।  आलमास सहकारी समिति के माध्यम से 8 4लाख रु0 का ऋण वितरण किया जा चुका है।  शिविर में 20 नये सदस्यों को किसान के्रडिट कार्ड भी जारी किये गये।  6 खराब हेण्डपंपों को ठीक कराया गया।  41 स्वयं सहायता समूहों का गठन किया गया।  आलमास शिविर में प्रभारी सचिव ने  प्रशासन गांवों के संग निर्देशिका  का भी विमोचन किया। शिविर में मुख्यमंत्राी आवास योजना के 10 पटटे वितरित कियें गयें। तीन व्यकितयों को निराश्रित सबंल योजना में दो दो हजार रू0  के चेक दियें , ओर कबलें प्रदान की गर्इ। स्वंम सहायता समुह को 10-10 हजार रू0 की राशि के चेक प्रदान किये। 10 व्यकितयो को मोके पर ही आवासीय पटटे दियें गयें , 10 व्यकितयो को पेंशन पीपीओ जारी कियें गयें। प्रभारी सचिव ने गागेडा एवं आलमास शिविर में विकास रथो का भी अवलोकन किया ओर इसे प्रशासन की अभिनव पहल गताया ।
प्रभारी सचिव ने रूपाहेली में राजीव गाधी सेवा केन्द्र का लोकार्पण किया
प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत आज सुवाणा पंचायत समिति के रुपाहेली ग्राम में लगे शिविर में पहुंचे जिले के प्रभारी सचिव ने भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र का लोकार्पण किया।
प्रभारी सचिव पी0के0 गोयल, जिला कलक्टर ओंकार सिंह तथा विधायक रामलाल जाट ने शिविर में किये जारहे कार्यो का निरीक्षण किया और ग्रामीणजनों को संबोधित किया।  शिविर में रुपाहेली की नानू गाडरी को हाथोंहाथ विकलांग पेंशन स्वीकृत की गर्इ।
प्रभारी सचिव ने सात व्यकितयों को एक लाख 62 हजार रु0 की ऋण  राशि के चैकप्रदान किये।  उपखण्ड अधिकारी राजकुमार सिंह ने बताया कि शिविर में बंटवारा के 12, नामान्तरण के 60, नकल जारी करने के 95, रेकार्ड में कुंए दर्ज करने के 7, अतिक्रमण हटाने के एक, विधवा पालनहार के 9, पुश्तेनी पटटे जारी करने के 35, विकलांग प्रमाण पत्रा 4, बीपीएल विधुत कनेक्शन के 43, मीटर बदलने के 32 प्रकरणों का निस्तारण किया।  12 जन्म एवं 3 मृत्यु प्रमाण पत्रा जारी किये। विकास अधिकारी गिरीराज प्रसाद मीणा ने बताया कि शिविर में शोचालय निर्माण के 75 आवेदन भरे गये, कृषि विभाग द्वारा फव्वारा सेट के 6, पार्इपलार्इन के 2 प्रकरण निपटाये। सेन्ट्रल बैंक आफ इणिडया द्वारा 20 नरेगा श्रमिकों को 30 हजार रु0 का मोके पर ही भुगतान किया गया।  मूल निवास प्रमाण पत्रा 53 हजारी किये, जातिप्रमाण पत्रा 103, पेंशन स्वीकृति के 30 मामले निपटाये।
-मूलचंद पेसवानी 

Leave a Comment

error: Content is protected !!