आसाराम के भय से भूमिगत हुआ लड़की का परिवार

asharamशाहजहांपुर : आसाराम पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की के परिजन हमले के डर से भयभीत हैं. इस घटना के बाद से पूरा परिवार भूमिगत है. एक करीबी ने मीडिया को फोन कर बताया कि आसाराम र्समथक आरोप लगाने वाली लडकी के घर पर हमला कर सकते हैं. जिस ट्रांसपोर्टर की बेटी ने आसाराम पर यौन शोषण का आरोप लगाया है, चांदापुर वाला आश्रम उसी ट्रांसपोर्टर ने अपनी जमीन देकर बनावाया था. सारी देखरेख भी वही करते थे. आसाराम के भक्त हतप्रभ हैं. कट्टर अनुयायी की बेटी के साथ ऐसा हुआ होगा. कई तो भरोसा नहीं कर पा रहे है तो कुछ बोलने से बच रहे हैं.

शाहजहांपुर में कई अन्य उद्योगपति भी आसाराम के भक्त हैं. फिलहाल आरोप लगाने वाली लड़की का परिवार घर पर नहीं है. मीडियाकर्मी जब पीड़ित लड़की के परिजनों से मिलने उनके आवास पर पहुंचे तो एक नौकर ही बैठा मिला. उसने कहा कि परिवार का कोई व्यक्ति घर पर नहीं है और उसे यह भी पता नहीं कि सब कहां गए हैं. इससे पूर्व पीड़ित लड़की के परिवार के एक करीबी व्यक्ति ने मीडियाकर्मियों को सूचना दी थी कि आसाराम समर्थक दबाव डाल सकते हैं और घर पर हमला भी कर सकते हैं.

उधर आसाराम के चांदापुर रोड स्थित आश्रम पर उनके आठ दस अनुयायी बैठे नजर आए. मीडिया कर्मियों को उन्होंने कैमरे नहीं खोलने दिए और कहा कि यह सब साजिश है आसाराम को बदनाम करने की. इनका कहना है कि पहले भी आसाराम को बदनाम कराया गया, अब फिर वही दोहराया जा रहा है. एक समर्थक ने तो यहां तक कहा कि पिछली बार आसाराम को बदनाम करने के लिए मीडिया को खरीदा गया था. हालांकि चांदापुर रोड पर आश्रम के लिए मुड़ी सड़क पर छोटी दुकान लगाए लोगों ने कहा कि लड़की का पिता बहुत सज्जन व्यक्ति है. लोगों ने कहा कि आजकल साधू-संतों का कोई धरम नहीं रह गया है. ज्यादातर लुटेरे और दुराचारी हैं लेकिन फिर भी लोग इनके चक्कर में फंसते है. http://www.bhadas4media.com

Leave a Comment