वंदना नोगिया ने किया पंचायतराज मंत्री राठौड़ का स्वागत

zp-ajmer-1अजमेर 18 दिसम्बर। पिछले दो वर्षो से अपनी विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे सरपंचों के लिए ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री ने राजेन्द्रसिंह राठौड़ ने कहा कि पंचायत राज विभाग की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी सरपंचों की विकास कार्य कराने की मंशा पर किसी भी प्रकार की शंका कर सवाल उठाना ठीक बात नही है। पंचायत राज मंत्री राठौड़ रविवार को अजमेर जिला प्रमुख वंदना नोगिया द्वारा जिला परिषद के सम्मान समारोह में उपस्थित जनप्रतिनिधियों द्वारा किये गए स्वागत का आभार व्यक्त करे थे।
पंचायतराज मंत्री राठौड़ ने दो टुक शब्दों में स्पस्ट कहा कि राजस्थान किसी भी जिले में सरपंच संघ को हड़ताल करने की जरूरत नही पड़ेगी। सरपंचों के कार्य में प्रशासनिक दखल को बढ़ावा नही दिया जाकर समस्याओं का समाधान निकाला जायेगा। वसुन्धरा सरकार के इस कार्यकाल में चिकित्सा मंत्री से पंचायतराज मंत्री का कार्यभार आने पर पंचायतराज मंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि मेरे सामने वही स्थिति पैदा हो गयी है जैसे पढ़ने वाले बच्चे के लिए अचानक अद्धवार्षिक परीक्षा शुरू हो जाती है। उन्होने कहा कि मेने पंचायत राज को समझने के लिए विभागीय कार्यो की समीक्षा शुरू कर दी है और आने वाले समय में केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी पंचायत राज योजनाओं को लागू करवाने में बेहतर क्रियान्वति के प्रयास किये जायेगें। उन्होनें सरपंचों का पक्ष लेते हुए कहा कि सरपंचों के साथ किसी भी तरह का कुठाराघात नही होने दिया जायेगा। अजमेर जिले के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों से आए सरपंचों ने सरपंच संघ अध्यक्ष महेन्द्रसिंह मझेवला के नेतृत्व में पंचायत राज मंत्री राजेन्द्रसिंह राठौड़ का स्वागत किया। इस अवसर पर जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी निकया गोहाएन, भीलवाड़ा जिला प्रमुख शक्तिसिंह हाड़ा, पीसांगन पंचायत समिति सरपंच संघ अध्यक्ष शक्तिसिंह रावत, भिनाय सरपंच संघ अध्यक्ष रंगलाल भील, सरवाड़ सरपंच संघ अध्यक्ष फूलसिंह जोताया, जिला परिषद से पंचायत प्रसार अधिकारी मुकेश काकाणी, कर्णसिंह जोधा, पुरूषोत्तम चौहान, मंत्रालयिक कर्मचारी संघ की ओर से रवि जोशी ने पंचायत राज मंत्री राठौड़ का स्वागत किया।

(विकास जादम)
जिला समन्वयक, आईईसी
जिला परिषद, अजमेर
9829357770, 9530300419

Leave a Comment

error: Content is protected !!