जिला स्तरीय राष्ट्रीय पोषण मेला आयोजित

अजमेर, 05 मार्च। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा राष्ट्रीय पोषण मिशन के शुभारम्भ की पूर्व तैयारियों के रूप में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को वैशाली नगर स्थित अरबन हाट में जिला स्तरीय राष्ट्रीय पोषण मेला आयोजित किया गया। मेले का शुभारम्भ पुलिस महानिरीक्षक श्रीमती मालिनी अग्रवाल ने किया।
श्रीमती अग्रवाल ने कहा कि राष्ट्रीय पोषण मिशन के अन्तर्गत बच्चों और महिलाओं को स्वस्थ रखने के लिए कार्य किया जाएगा। पर्याप्त पोषण मिलने से बच्चे स्वस्थ तथा सामान्य होंगे। इन बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता अधिक होने से बीमारी से दूर रहेंगे। स्वस्थ परिवार देश निर्माण में अपेक्षाकृत अधिक योगदान प्रदान करता है। वर्तमान समय में जागरूकता बढ़ी है। इस कारण बेटी के जन्म पर भी खुशियां मनाने की परम्परा विकसित हुई है।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा आरम्भ किए जा रहे इस मिशन का उद्देश्य प्रत्येक व्यक्ति को स्वस्थ बनाना है। परिवार में गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के पौष्टिक आहार का पूर्ण ध्यान रखा जाना आवश्यक है। इससे नवजात शिशु कुपोषण से दूर रहेंगे।
शुभारम्भ समारोह में जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने कहा कि राष्ट्रीय पोषण मिशन एक निश्चित समयावधि में देश को कुपोषण मुक्त करने के लिए चलाया जा रहा है। भारत युवाओं का देश है। व्यक्ति, परिवार एवं समाज के स्वस्थ होने से भारत शीघ्र ही विश्व शक्ति बन जाएगा। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित आंगनबाड़ी कार्मिकों का आह्वान किया कि आपका योगदान महत्वपूर्ण है। इसी से जिला कुपोषण रहित होकर एक उपलब्धि कायम करेगा। अपनेे कार्यक्षेत्र के बच्चों को अपने बच्चे की तरह मानकर कार्य करें। समाज तथा देश की सेवा करेन के लिए हम सभी को अपना कर्तव्य ईमानदारी से निर्वहन करना चाहिए। सभी के सम्मिलित प्रयासों से भारत की पूरी पीढ़ी स्वस्थ होगी।
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय पोषण मिशन से जन्म के समय बच्चों में कम वजन संबंधी समस्याओं का प्रत्येक वित्तीय वर्ष में 2 प्रतिशत की कमी आएगी। देश में इस वित्तीय वर्ष के दौरान 315 इसके पश्चात 235 तथा अन्त में समस्त जिलों में लागू किया जाएगा।
मेले में बाल विकास परियोजना अधिकारी, महिला पर्यवेक्षक, आंगनबाड़ी कर्मियों द्वारा पोषक आहार के संबंध में प्रदर्शनी लगायी गयी। कृषि विज्ञान केन्द्र तबीजी, खुशी संस्थान तथा ग्रामीण एवं सामजिक विकास संस्थान ने भी पोषक पदार्थों का प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शनी में कम कीमत में स्वादिष्ट एवं पौष्टिक आहार तैयार करने की विधि तथा लाभ भी बताए गए। तैयार व्यंजनों का अवलोकन किया गया। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच एवं उपचार शिविर लगाया गया।
मेले में 6 माह के 14 बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार किया गया। इसके साथ ही 23 गर्भवती महिलाओं की गोदभराई रस्म आयोजित की गई। यह कार्यक्रम परम्परागत रीति रिवाज के साथ आयोजित किए गए। मेले में धनलक्ष्मी योजना के लाभार्थियों के चैक वितरित किए गए।
मेले में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। स्वच्छता एवं पर्यावरण विषय पर आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता में भावना साहू ने प्रथम, रश्मि ने द्वितीय तथा नेहा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार पेाषण रेसिपी प्रतियोगिता में माया महावर को प्रथम, कान्ता चौहान को द्वितीय तथा विजया बंसीवाल को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए गए।
इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक श्रीमती अनुपमा टेलर, आरसीएचओ डॉ. रामलाल चौधरी, बाल विकास परियोजना अधिकारी श्री नितेश यादव सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी।

पारा में रात्रि चौपाल 9 मार्च को
अजमेर, 05 मार्च। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल द्वारा केकड़ी पंचायत समिति की पारा ग्राम पंचायत में शुक्रवार 9 मार्च को रात्रि चौपाल आयोजित की जाएगी। यह जानकारी जिला परिषद के मुख्यकार्यकारी अधिकारी श्री अरूण गर्ग ने दी।

Leave a Comment