कृत्रिम अंग/उपकरण वितरण के लिए शिविर लगेंगे

अजमेर, 25 अप्रेल। राज्य सरकार के निर्देशानुसार पं. दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविर के अन्तर्गत तृतीय चरण में कृत्रिम अंग /उपकरण का वितरण नगरीय निकाय मुख्यालयों एवं पंचायत समिति मुख्यालयों पर किया जाएगा। उपकरण वितरण किए जाने के संबंध में तिथियों का निर्धारण कर दिया गया है। प्रत्येक क्षेत्र के लिए संबंधित उपखण्ड अधिकारी नोडल अधिकारी रहेंगे।
जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि यह शिविर एक मई को पंचायत समिति श्रीनगर में आयोजित होगा। जबकि 3 मई को अरांई, 8 मई को मसूदा, 10 मई को भिनाय, 15 मई को जवाजा, 17 मई को पंचायत समिति पीसांगन में आयोजित होगा। इसी प्रकार 22 मई को नगर पालिका केकड़ी, 24 मई को सरवाड़, 29 मई को किशनगढ़, 31 मई नगरपालिका बिजयनगर में, 5 जून को अधीशाषी अधिकारी केन्टोमेंट नसीराबाद, 7 जून को पुष्कर, 12 जून को नगर परिषद ब्यावर तथा 14 जून को सूचना केन्द्र अजमेर में शिविर लगाया जाएगा।
उन्होंने समस्त उपखण्ड अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने क्षेत्र के शिविर में संबंध्ाित जनप्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित करें। वहीं विकास अधिकारियों को शिविर स्थल पर चिन्हित दिव्यांगों को लाने एवं वापस पहुंचाने तथा शिविर की आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने अजमेर विद्युत वितरण निगम को शिविर स्थल पर विद्युत आपूर्ति व्यवस्था बनाए रखने, महिला एवं बाल विकास विभाग को दिव्यांगों की शिविर स्थल पर देखभाल करने, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को संबंधित क्षेत्र के ऑनलाइन चिन्हित दिव्यांगजनों जिन्हें अंग उपकरण वितरण किए जाने है कि सूची मय पता तैयार करने, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को शिविर स्थल पर पंजीकृत दिव्यांगों का निशक्तता प्रमाण पत्र उपलब्घ कराने के साथ ही प्राथमिक उपचार की व्यवस्था करने, रोडवेज को दिव्यांगजनों का पात्रता अनुसार रोडवेज पास बनाने, शिक्षा विभाग को चिन्हित दिव्यांगजन विद्यार्थियों को शिविर स्थल तक लाने तथा उपकरण उपलब्ध कराने, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग को शिविर स्थल पर आवेदन व अन्य कार्यो हेतु ई – मित्र, क्यिोस्क की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए।
जिला कलक्टर ने निर्देशित किया कि शिविर में सभी दिव्यांगजनों के साथ पूर्ण सहयोग किया जाए। शिविर स्थल पर छाया, पीने के पानी एवं बैठने की व्यवस्था पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित की जाए।

महानरेगा के तहत 43 कार्यों के लिए 4 करोड़ 3 लाख 40 हजार रूपए स्वीकृत
अजमेर, 25 अप्रेल। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी स्कीम के तहत मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान तृतीय चरण में प्राप्त प्रस्तावों अनुसार जिले की श्रीनगर, केकड़ी, मसूदा, पीसांगन एवं सिलोरा पंचायत समितियों में 43 कार्यों के लिए 4 करोड़ 3 लाख 40 हजार रूपए की वित्तीय स्वीकृति जारी की गई है।
जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि महानरेगा योजना के तहत श्रीनगर पंचायत समिति में 9 कार्य के लिए 83 लाख 83 हजार रूपए, केकड़ी में 9 कार्य के लिए 63 लाख 99 हजार रूपए, मसूदा में एक कार्य के लिए 2 लाख 87 हजार रूपए, पीसांगन में 19 कार्य के लिए 2 करोड़ 96 हजार रूपए तथा सिलोरा में 5 कार्य के लिए 51 लाख 75 हजार रूपए की वित्तीय स्वीकृति जारी की गई है।

राजकीय भवनों के उद्घाटन /शिलान्यास जनप्रतिनिधि ही करेंगे
अजमेर, 25 अप्रेल। राज्य सरकार के निर्देशानुसार राजकीय भवनों के उदघाटन एवं शिलान्यास के कार्यक्रम जनप्रतिनिधियों से ही सम्पादित करवाए जा सकेंगे। समस्त राजकीय विभागों/राजकीय उपक्रमों/ बोर्ड/ निगमों / स्वायतशाषी संस्थाओं को इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दे दिए गए है।
जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि सार्वजनिक राशि के उपयोग से आयोजित होने वाले राजकीय भवनों के शिलान्यास / उद्घाटन कार्यक्रमों व अन्य राजकीय समारोह चाहे व किसी राजकीय उपक्रम, बोर्ड, निगम या स्वायतशाषी संस्थाओं के हो। उनमें कार्यक्रम स्थल क्षेत्र से संबंधित जनप्रतिनिधियों को आवश्यक रूप से आमंत्रित किया जाएगा। ऎसे कार्यक्रमों के शिलान्यास/उद्घाटन/लोकार्पण जनप्रतिनिधियों से ही सम्पन्न कराए जाएंगे।

राजस्व लोक अदालत अभियान ः न्याय आपके द्वार
चिकित्सा विभाग ने डॉ. किराडिया को बनाया नोडल अधिकारी

अजमेर, 25 अप्रेल। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.के.सोनी ने एक आदेश जारी कर आगामी एक मई से आयोजित होने वाले राजस्व लोक अदालत अभियान ः न्याय आपके द्वार के लिए चिकित्सा विभाग की ओर से उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (स्वास्थ्य) डॉ. रामस्वरूप किराडिया को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

विधानसभा के उपाध्यक्ष 28 को किशनगढ़ आएंगे
अजमेर, 25 अप्रेल। राजस्थान विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री राव राजेन्द्र सिंह शनिवार 28 अप्रेल को दोपहर 12 बजे जयपुर से किशनगढ़ पहुंचेंगे। वे यहां ‘‘संकल्प से सिद्धि नए भारत का निर्माण’’ के अन्तर्गत आयोजित अजमेर संभागीय कार्यशाला में भाग लेंगे। वे उसी दिन सायं 4 बजे जयपुर के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।

जिला महिला सहायता समिति को 80 जी का प्रमाण पत्र प्राप्त
अजमेर, 25 अप्रेल। जिला महिला सहायता समिति को आयकर अधिनियम,1961 की धारा 12एए के अधीन न्यास/संस्थाओं का पंजीकरण व 80 जी के अधीन छूट का प्रमाण पत्र प्राप्त हो गया है। समिति को 80 जी के प्रमाण पत्र दानदाताओं द्वारा उत्पीड़ित एवं निराश्रित महिला को आर्थिक सहायता दिये जाने के लिये समिति को दान दिये जाने पर उसे उक्त आशय का प्रमाण पत्र दिया जा सकता है।
महिला अधिकारिता के सहायक निदेशक श्री नगेन्द्र कुमार तोलम्बियां ने बताया कि इच्छूक दानदाता समिति को दान दे सकते है। इस हेतु वे जयपुर रोड़ स्थित ग्राम बन्दिया में सहायक निदेशक,महिला अधिकारिता, अजमेर कार्यालय में आकर सम्पर्क कर सकते है।

घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम,2005 का क्रियान्वयन
अजमेर, 25 अप्रेल। महिलाओं को घरेलू हिंसा से संरक्षण प्रदान करने,आकस्मिक परिस्थितियों में सहयोग देने और उन्हे तात्कालिक राहत पहुंचाने के उद्वेश्य से घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम,2005(वर्ष 2005 केन्द्र अधिनियम,43) तथा घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण नियम,2006 भारत सरकार द्वारा प्रवत्त कर दिये गये है।
महिला अधिकारिता के सहायक निदेशक श्री नगेन्द्र कुमार तोलम्बियां ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा ही उपनिदेशक, महिला एवं बाल विकस विभाग, अजमेर, सहायक निदेशक, महिला अधिकारिता,अजमेर व ब्लॉंक स्तर पर बाल विकास परियोजना अधिकारी, प्रचेता को संरक्षण अधिकारी नियत किया गया है। जो कि निर्देशानुसार कार्य सम्पादित करते है। ब्लॉंक स्तर पर परामर्शदाता के रूप में प्रचेता, महिला पर्यवेक्षक,साथिन,आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ताओ को जोड़ा गया है।
उन्होंने बताया कि अधिनियम के अन्तर्गत अधिसूचित किये गये आश्रय गृह व चिकित्सालय की सूची बाल विकास परियेाजना अधिकारियों व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को विभागीय निर्देशानुसार उपलब्ध करवा दी गयी है। वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी जिला चिकित्सालय (अस्पताल), सेटलाइट हॉेंस्पिटल, उप जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रो, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, डिन्सपेन्सरी को इस अधिनियम के अन्तर्गत चिकित्सालय सुविधा उपलब्ध करवाने हेतु अधिसूचित किया गया है। कोई भी पीड़िता उक्त चिकित्सालयों में जाकर निःशुल्क चिकित्सकीय सुविधा प्राप्त कर सकती है। उन्होंने बताया कि पंजीकृत सेवा प्रदाताओं की सूची उपलब्ध करवाये जाने पर उक्त सूची को बाल विकास परियेाजना अधिकारियों को उपलब्ध करवा दी गयी है। साथ ही उल्लेख है कि इस जिले से सेवाप्रदाता के रूप में भारतीय मानव सहायता संस्थान एवं झुंझुनू जिला पर्यावरण सुधार समिति, चिड़ावा, झुंझुनू को घरेलू हिंसा से व्यथित महिलाओं का सलाह प्रदान करने के उद्वेश्य से उक्त अधिनियम,2006 के नियम 11 के उपनियम(2) के अनुसरण में सेवाप्रदाता के रूप में पंजीकृत कर लिया गया है। कोई भी पीड़िता सेवाप्रदाताओं से सम्पर्क कर अपनी व्यथा से अवगत करवा सकती है, उक्त अधिनियम में पंजीकृत सेवाप्रदाता एजेन्सी पीड़िता को सुनकर उसे हर संभव प्रयास कर समयबद्व रूप से राहत पहुंचावेगी।
उन्होंने बताया कि कोई भी पीड़िता संरक्षण अधिकारी, सेवाप्रदाताओं से सम्पर्क कर अपनी व्यथा को अवगत करवा सकती है, संरक्षण अधिकारी पीड़िता को सुनकर उसे प्राथमिक तौर पर यथा जैसा भी परिस्थतिवश हो चिकित्सकीय, आश्रय गृह, कानूनी सहायता सहित अन्य प्रकार की सहायता उपलब्ध करवायेंगे एवं प्रकरण मे घरेलू घटना रिपोर्ट तैयार कर सक्षम स्तर पर प्रस्तुत करेंगे। संरक्षण अधिकारी माननीय न्यायालयों के निर्देशानुसार प्रकरण में घरेलू घटना रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।
पीड़ित,उत्पीड़ित एवं निराश्रित महिला महिला सुरक्षा एंव सलाह केन्द्र जो कि पुलिस जिला अजमेर में अलवर गेट थाना के समीपस्थ महिला थाना के पास है में जाकर अपनी व्यथा प्रस्तुत कर सकती वहां स्थित परामर्शदाता उसे आवश्यक सहायता उपलब्ध करवायेंगे साथ ही सरकार द्वारा वन स्टॉप सेन्टर सखी केन्द्र की भी स्थापना कर दी गयी है जो कि लोक सेवा आयोग के पुराना भवन,भूतल पर स्थित है में जाकर भी सम्पर्क कर सकती है।

कैम्पस प्लेसमेंट शिविर का आयोजन 27 को
अजमेर, 25 अप्रेल। रोजगार कार्यालय द्वारा कैम्पस प्लेसमेंट शिविर 27 अप्रेल को आईएल एण्ड एफएस स्किल डवलपमेंट सेन्टर महिला इंजिनियरिंग कॉलेज के सामने नसीराबाद रोड अजमेर में आयोजित किया जाएगा। शिविर में मुख्यतः निजी क्षेत्र के विभिन्न नियोजकों /संस्थानों द्वारा तकनीकी / कुशल एवं अकुशल आशार्थियों को शिविर स्थल पर प्रारम्भिक चयन की प्रक्रिया की जाएगी।
विभाग के सहायक निदेशक ने बताया कि इच्छुक आशार्थी 27 अप्रेल को प्रातः 10 बजे मूल दस्तावेजों सहित शिविर स्थल आईएल एण्ड एफएस स्किल डवलपमेंट सेन्टर महिला इंजिनियरिंग कॉलेज के सामने नसीराबाद रोड अजमेर में उपस्थित हो सकते हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!