माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का 219 करोड 14 लाख रूपये के बजट मंजूर

अजमेर 25 अप्रेल। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के प्रबन्ध मण्डल ने गुरूवार को वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए 219 करोड 14 लाख रूपये के बजट को स्वीकृति प्रदान की। इस बजट में 9 करोड 12 लाख 28 हजार रूपये का घाटा दर्शाया गया है। यह घाटा गत वर्ष की तुलना में लगभग 3 करोड रूपये कम है। बजट में परीक्षा शुल्क से चालू वित्तीय वर्ष में प्रस्तावित आय 138 करोड 28 लाख रूपये दर्शायी गयी है। बोर्ड ने विद्यार्थियों के शैक्षिक उन्नयन, कार्य गोष्ठियों, छात्रवृत्ति व पदक वितरण, अध्यापकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम मद में इस बजट में 356 लाख रूपये का प्रावधान किया है। बजट में सम्पूर्ण राज्य में शेष रहे जिलों के लिए जिला स्तर पर विद्यार्थी सेवा केन्द्र खोलने के लिए भी प्रावधान किया गया है।
बजट प्रस्तुत करते हुए बोर्ड के अध्यक्ष प्रो. बी.एल. चौधरी ने कहा कि बोर्ड की कार्य प्रणाली जन आकांक्षाओं के अनुरूप है एवं उसे सतत् रूप से इनके स्तर को बनाए रखना एवं और अधिक ऊँचाईयों पर ले जाने के लिए पुरजोर निरन्तर प्रयास करने पड़ते है। अतः इसके लिए आपातकालीन वित्तीय प्रबन्धन की व्यवस्था भी बोर्ड को करनी पड़ती है। इसलिए परम्परागत रूप से अनुसरणित वित्तीय प्रबन्धन को नयी दिशा देने का भी प्रयास किया जा रहा है। बोर्ड द्वारा पिछले वर्षों में किये गये नवाचारों के कारण खर्चों में वृद्धि हुई है लेकिन महत्वपूर्ण है कि इन नवाचारों के कारण अन्य क्षेत्रों में परम्परागत व्यवस्था में किये जाने वाला व्यय कम हुआ है। इन नवाचारों की सराहना सर्वत्र हुई है। ’’माध्यमिक शिक्षा बोर्ड न लाभ न हानि‘‘ के सिद्धान्त पर काम कर रहा है। प्रबन्ध मण्डल ने अप्रेल व मई माह हेतु बोर्ड अध्यक्ष द्वारा स्वीकृत 52.36 करोड रूपये के लेखानुदान को भी अपनी सहमति दी।
प्रो. चौधरी ने प्रबन्ध मण्डल के समक्ष प्रस्ताव रखा कि बोर्ड परीक्षा में प्रविष्ट होेने वाले सैना, पुलिस और राज्य सरकार द्वारा घोषित शहीदों के आश्रितों को परीक्षा शुल्क से मुक्त रखा जाये जिसे प्रबन्ध मण्डल ने ध्वनिमत से स्वीकार कर लिया। प्रबन्ध मण्डल को बोर्ड अध्यक्ष ने सूचित किया कि बोर्ड का दीक्षान्त समारोह आगामी 24 मई को आयेाजित किया जायेगा। इस समारोह में शिक्षा रत्न, खेल रत्न और कला रत्न पुरस्कारों का भी वितरण किया जायेगा। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के माध्यमिक शिक्षा से जुडे विद्यार्थियों के शैक्षणिक स्तर में सुधार करने के लिए कार्य योजना तैयार करने के लिए प्रबन्ध मण्डल की बैठक में सहमति बनी। इस हेतु प्रबन्ध मण्डल की सदस्या डॉ. सुमित्रा पारीक और डॉ. राजीव कुमार सक्सेना के संयुक्त संयोजन में जयपुर में एक कार्यशाला आयोजित कर रिपोर्ट तैयार की जायेगी। आगामी कुछ माह में ऐसी कुछ कार्यशालायें प्रदेश के अन्य भागों में भी आयोजित होगी।
प्रबन्ध मण्डल ने वर्ष 2018 की पूरक परीक्षाओं एवं वर्ष 2019 की मुख्य परीक्षाओं के लिए आवेदन करने और परीक्षा आयोजन की तिथियों के प्रस्ताव को भी स्वीकार किया, जो निम्नानुसार है:-

पूरक परीक्षा
आवेदन करने की अन्तिम तिथियां पूरक परीक्षा-2018
परीक्षा शुल्क नियमित व स्वयंपाठी छात्रों हेतु
1. सामान्य परीक्षा शुल्क सोमवार 09 जुलाई 2018
2. एक अतिरिक्त परीक्षा शुल्क सहित सोमवार 16 जुलाई 2018
3. असाधारण परीक्षा शुल्क
रू. 1500/- सहित परीक्षा प्रारम्भ होने तक शुल्क केवल परीक्षा केन्द्र पर डी.डी. से जमा होगा।
परीक्षा आरम्भ तिथि
1. पूरक परीक्षा (प्रायोगिक) बुधवार, 01 अगस्त 2018
2. पूरक परीक्षा (सैद्धान्तिक) गुरूवार, 09 अगस्त 2018

मुख्य परीक्षा 2019
आवेदन करने की अन्तिम तिथियां मुख्य परीक्षा-2019
नियमित परीक्षार्थियों/स्वयंपाठी परीक्षार्थियों हेतु
1. सामान्य परीक्षा शुल्क से प्रारम्भिक तिथि अन्तिम तिथि
2. एक अतिरिक्त परीक्षा शुल्क सहित 02.08.2018 10.09.2018
3. असाधारण परीक्षा शुल्क
(केवल जिला मुख्यालयों पर स्वयंपाठी परीक्षार्थियों हेतु)
रू. 2150/- सहित 11.09.2018 20.09.2018
पूरक परीक्षा में उत्तीर्ण/अनुत्तीर्ण रहने वाले छात्रों के लिए परीक्षार्थ आवेदन पत्र ऑनलाईन भरने तथा परीक्षा शुल्क जमा कराने की अंतिम तिथियां
परीक्षा शुल्क नियमित व स्वयंपाठी छात्रों हेतु
प्रारम्भिक तिथि अन्तिम तिथि
1. सामान्य परीक्षा शुल्क 24.09.2018 08.10.2018
2 एक अतिरिक्त परीक्षा शुल्क सहित 09.10.2018 22.10.2018
3. असाधारण परीक्षा शुल्क
(केवल स्वयंपाठी परीक्षार्थियों हेतु) शुक्रवार, 30 नवम्बर 2018

3. परीक्षा आरम्भ तिथि- मुख्य परीक्षा-2019
1. उच्च मा./उ.मा. व्यावसायिक/
वरि.उपा.परीक्षा गुरूवार, 07 मार्च 2019
2. माध्यमिक/माध्य.व्यावसायिक/
प्रवेशिका परीक्षा गुरूवार, 14 मार्च 2019
4. पात्रता प्रमाण पत्र बनवाने की अन्तिम तिथियां
स्वयंपाठी व नियमित परीक्षार्थियों हेतुं परीक्षा वर्ष-2019
1. सामान्य शुल्क रू. 100/- सोमवार, 10 सितम्बर 2018
2. विलम्ब शुल्क रू. 200/- सहित गुरूवार, 20 सितम्बर 2018
केवल स्वयंपाठी परीक्षार्थियों के लिये (असाधारण परीक्षा शुल्क से परीक्षा आवेदन करने हेतु) रू. 300/- शुक्रवार, 30 नवम्बर 2018

प्रबन्ध मण्डल ने प्रस्ताव पारित कर बोर्ड परीक्षा 2018 और राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा 2017 के सफल आयोजन के लिए बोर्ड अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए धन्यवाद प्रस्ताव भी पारित किया। इस प्रस्ताव पर बोलते हुए प्रबन्ध मण्डल के सदस्य डॉ. अशोक कलवार ने कहा कि परीक्षा आयोजन करने वाली संस्थाओं के सामने समयबद्धता, पारदर्शी और अनुचित साधनों से विहिन परीक्षा कराना एक चुनौती बन गया है परन्तु राजस्थान बोर्ड ने इस वर्ष लगभग 42 लाख अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा आयोजन कर एक मिसाल कायम की है।
बैठक में बोर्ड सदस्य प्रो. पी.के. शर्मा, बजरंग प्रसाद मंजेजी, डॉ. एस.डी. पुरोहित, साधना कोठारी, प्रो. राजीव सक्सैना, प्रो. सुरेश अग्रवाल, डॉ. ओम प्रकाश गुप्ता, सुमित्रा पारीक, श्री प्रदीप गोयल, देवलाल गोचर, डॉ. अशोक कलवार, बृजनंदन श्रंृगी, राजेन्द्र सिंह तंवर, दीपक जौहरी, मोहनलाल पुरोहित, भरत मेहता, सुभाषचन्द मीणा, महेशचन्द आमेटा, सुरेशचन्द कुन्तल, उमरावमल वर्मा, प्रकाश पाठक और बृजमोहन रामदेव, बोर्ड सचिव श्रीमती मेघना चौधरी, विशेषाधिकारी-परीक्षा श्रीमती प्रिया भार्गव और वित्तीय सलाहकार -श्रीमती आनन्द आशुतोष भी उपस्थित थी।

उपनिदेशक (जनसम्पर्क)

Leave a Comment

error: Content is protected !!