पर्यटन का नया केन्द्र बनेगा अजमेर – देवनानी

अजमेर, 13 सितम्बर। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में अजमेर शहर में सैंकड़ों करोड़ रूपए के कार्य कराए गए हैं। शहर शीघ्र ही पर्यटन का नया केन्द्र बनेगा। शहर की यातायात समस्या के समाधान के लिए स्मार्ट सिटी योजना के तहत 220 करोड़ की लागत से एलिवेटेड रोड बनवाया जा रहा है।
शिक्षा राज्यमंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने बलदेव नगर में सड़क व नाली निर्माण कार्य तथा तोपदड़ा स्थित स्काउट गाईड मण्डल मुख्यालय में नए कक्ष के निर्माण का शिलान्यास किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य की लगभग सभी महत्वपूर्ण योजनाएं अजमेर शहर में लागू की गई हैं। केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी योजना, अमृत, ह्रदय, आइकोनिक सिटी, आईपीडीएस व अन्य फ्लैगशिप योजनाओं से शहर के लोग लाभान्वित हो रहे हैं। केंद्र की इन योजनाओं से शहर में दो हजार करोड़ से ज्यादा के काम होंगे। इसी तरह राज्य सरकार की तमाम फ्लैगशिप योजनाओं के साथ ही बजट में करोड़ों रुपए के प्रावधान कर शहर को विकसित बनाया जा रहा है।
श्री देवनानी ने कहा कि शहर में यातायात जाम सबसे बड़ी समस्या थी। स्टेशन रोड, कचहरी रोड और पृथ्वीराज मार्ग आदि मार्गों से शहर की अधिकतम टै्रफिक गुजरता है। हजारों लोग रोजाना ट्रेफिक जाम की समस्या से जूझते हैं। स्मार्ट सिटी योजना के तहत 220 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले एलीवेटेड रोड का काम शुरू करवा दिया गया है।
उन्होंने कहा कि ऎतिहासिक आनासागर झील के चारो ओर चौपाटी से शहर की सुन्दरता ओर बढ़ गई है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में शहर के लोग इन स्थानों पर घूमने आते हैं। अब तो बर्ड वाचिंग के लिए भी यह नया ठिकाना बन गया है। श्री देवनानी ने कहा कि लोगों को उनके घर के आसपास ही चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए पंचशील में 5 करोड़ रुपए की लागत से शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बन रहा है। इसे सैटेलाइट अस्पताल की तर्ज पर विकसित किया जाएगा। करीब एक लाख लोगों को इससे फायदा होगा। इसी तरह वैशाली नगर, रामनगर एवं कोटड़ा डिस्पेंसरी भी नए भवन में और बेहतर संसाधनों से लैस हो गई हैं। करीब 80 हजार लोगों को इससे फायदा हो रहा है।
श्री देवनानी ने कहा कि सुभाष उद्यान. शास्त्री नगर में डेढ़ करोड़ रुपए की लागत से नगर वन उद्यान, जवाहर स्कूल में एक करोड़ की लागत से बन रहे इंडोर स्टेडियम, लोहागल रोड पर संस्कृत कॉलेज, महाराणा प्रताप स्मारक, शहर के स्कूलों में स्मार्ट क्लासरूम, शहर में पचास करोड़ की लागत से बनी नई सडक़ें, नई पाइप लाइन, डेढ़ सौ करोड़ की राशि से विद्युत सशक्तिकरण के कार्य, अजमेर का किला, फिल्म लाइब्रेरी, शहीद स्मारक, विजय स्मारक, रेलवे स्टेशन का नया एंट्री गेट, नगर निगम, गांधी भवन, हैरीटेज वाक वे और ऎसे ही दूसरे विकास कार्य भी इन साढ़े चार सालों में हमने कराए हैं। विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड और ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक गांव में करोड़ों रुपए के विकास कार्य कराए हैं। इस अवसर पर महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

शिक्षा राज्यमंत्री ने किया राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं का शुभारम्भ
अजमेर, 13 सितम्बर। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में खेलों के उन्नयन के लिए संकल्पबद्ध होकर काम कर रही है। हमने स्कूली स्तर पर खेल प्रतिभाओं को तराशने का अभियान शुरू किया है। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे चाहती है कि राजस्थान खेल महाशक्ति के रूप में देश में उभरे।

शिक्षा राज्यमंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने आज राज्य स्तरीय स्कूली बेडमिंटन एवं जिमनास्टिक प्रतियोगिताओं का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में श्री देवनानी ने कहा कि राजस्थान को खेल महाशक्ति के रूप में उभारने के लिए हमने पूरी गम्भीरता के साथ काम शुरू किया है। स्कूली स्तर पर खेल प्रतिभाओं को तलाशा और तराशा जा रहा है। प्रतिभाशाली युवाओं को संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने स्कूलों में खेल उपकरण खरीदने के लिए करोड़ों रूपए का बजट निर्धारित किया है। प्रत्येक स्कूल को 25 हजार रूपए दिए गए हैं। राजस्थान की कई खेल प्रतिभाएं अन्तर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर शानदार प्रदर्शन कर रही है। हमारा प्रयास है कि हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, दक्षिण भारत की तरह राजस्थान के खिलाड़ी भी आगे आए। इसके लिए नीति बनाकर काम किया जा रहा है।

इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं खिलाड़ी उपस्थित थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!