प्रबंध निदेशक ने सुनी आमजन की समस्याएं

अजमेर, 11 फरवरी। अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. के प्रबंध निदेशक श्री बी. एम. भामू ने सोमवार 11 फरवरी को विद्युत उपभोक्ताओं/आम नागरिकों की विद्युत संबंधी शिकायतों के समाधान के लिए हाथी भाटा पावर हाऊस जयपुर रोड अजमेर में जन सुनवाई की।
प्रबंध निदेशक ने बताया कि जनसुनवाई के दौरान कुल 16 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से 13 शिकायतें डिस्कॉम से एवं 3 शिकायतें टाटा पावर से संबंधित थी। प्राप्त शिकायतों में डिस्कॉम क्षेत्रा की बिल संबंधी, नए कनेक्शन संबंधी, लाईन शिफ्ट करवाने संबंधी, मीटर संबंधी, नए कृषि कनेक्शन संबंधी, सतर्कता जांच संबंधी समस्या सहित अन्य समस्याएं थी।
प्रबंध निदेशक ने जनसुनवाई के दौरान परिवादी जीवनराम सुरमा राम जाट कल्याणीपुरा किशनगढ़ (ग्रामीण) एवं शिवराज सुरमाराम जाट कल्याणीपुरा किशनगढ़ (ग्रामीण) के विद्युत चोरी करने पर जुर्माना राशि रूपए लगभग 23-23 हजार रूपए निर्धारण किया गया इनके प्रकरण की जांच कर निर्धारण राशि की 50 प्रतिशत राशि मय समझौता शुल्क जमा कर निगम द्वारा बनाई गई समझौता समिति के माध्यम से अपना वाद दायर करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार मैसर्स तुलसी मिनरल किशनगढ़ ग्रामीण के संस्थान पर पूर्व में की गई विद्युत चोरी के कारण निर्धारित किए गए जुर्माना राशि का 10 प्रतिशत जमा करवाने के पश्चात् भी विवादित राशि का निर्धारण नहीं होने पर सहायक अभियंता किशनगढ़(ग्रामीण) से दूरभाष पर वार्ता कर पूर्ण प्रकरण की जांच कर तुरन्त निस्तारण कर राहत प्रदान करने के निर्देश दिए। इनके अतिरिक्त जनसुनवाई के दौरान ब्यावर उपखण्ड के ग्राम लसानी का बाड्या (देवगढ़) के सात-आठ उपभोक्ताओं के यहां घरेलू कनेक्शन से एलटी लाईन से सीधे तार बोरिंग चला कर सिंचाई कर रहे थे इन उपभोक्ताओं को किसी भी प्रकार की राहत प्रदान नहीं की गई कारण कि वे विद्युत पोल से सीधी लाईन चोरी एवं दुरूपयोग कर रहे थे। घरेलू कनेक्शन का कृषि क्षेत्रा में उपयोग नहीं किया जा सकता है।
जनसुनवाई के दौरान टाटा पावर से संबंधित प्राप्त 3 शिकायतों के निस्तारण के लिए टाटा पावर के प्रतिनिधि को समस्याओं के समाधान कर उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करने के निर्देश दिए गए, साथ ही बताया कि पूर्व में जो समस्याएं प्राप्त हुई है उनका तुरन्त निस्तारण करें।
जनसुनवाई के दौरान संभागीय मुख्य अभियंता (अजमेर जोन) श्री एम. बी. पालीवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षण श्री बन्ने सिंह मीणा, अधीक्षण अभियंता श्री वी. पी. सिंह (योजना), श्री डी. एन. जांगीड (सतर्कता) उपस्थित थें। साथ ही टाटा पावर के प्रतिनिधि श्री आलोक श्रीवास्तव, श्री एसएस शेखावत, दिनेश शर्मा एवं मोहित उपस्थित थे।
—000—
वीडियों कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार की विभिन्न योजनाओं एवं कन्ज्यूमर इंडैक्सिंग की प्रगति की समीक्षा
अजमेर, 11 फरवरी। ऊर्जा सचिव व अध्यक्ष डिस्कॉम्स की अध्यक्षता में राजस्व प्रबंधन एवं बिलिंग प्रणाली के संबंध में की जा रही कन्ज्यूमर इंडैक्सिंग के कार्य की समीक्षा हेतु सोमवार 11 फरवरी को सांय 4 बजे से 6 बजे तक वीडियों कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रदेश के तीनों विद्युत वितरण निगमों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से समीक्षा की गई। विडियों कॉन्फ्रेंस के जरिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों से केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजना की प्रगति की भी जानकारी ली।
उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंस में सभी सौभाग्य योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, आईपी डीएस के कार्यों की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली एवं अधिकारियों को निर्देशित किया कि योजनाओं के अन्तर्गत किए जाने वाले कार्यों को निर्धारित लक्ष्यों के अनुसार तय समय में शत-प्रतिशत पूर्ण होना सुनिश्चित करें।
वीडियों कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने ने कन्ज्यूमर इंडैक्सिंग एवं डीटी इंडैक्सिंग के कार्यों की सत्यता की जांच करने के लिए सहायक अभियंता, कनिष्ठ अभियंता, फीडर इंचार्ज एवं मीटर रीडर से संवाद कर अपडेट रिपोर्ट ली।
प्रबंध निदेशक श्री बी. एम. भामू ने उच्च अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना हेतु डिस्कॉम के संबंधित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को तय समय सीमा में कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।
उक्त वीडियो कॉन्फ्रेंस में भाग लेने के लिए निगम के सभी संबंधित अधिकारी कर्मचारी सूचना एवं प्राद्यौगिकी विभाग के जिला मुख्यालयों पर स्थित जनसेवा केन्द्रों(राजीव गांधी सेवा केन्द्र एवं पंचायत समिति मुख्यालय पर उपस्थित रहे।
इस मौके पर निदेशक (वित्त) श्री एस एम माथुर, निदेशक (तकनीकी) श्री के.पी. वर्मा, मुख्य अभियंता आईटी श्री सी. पी. गांधी , मुख्य अभियंता (मुख्यालय) श्री एच एस मीणा, मुख्य लेखाधिकारी (ईआरबी) श्री एम. के. जैन, अधीक्षण अभियंता वी. पी. सिंह (योजना), श्री ए. के. जगेटिया (डीडीयूजीजेवाय), श्री अशोक कुमार(टीडब्ल्यू), टीए टू एमडी श्री मुकेश चन्द बाल्दी उपस्थित थे।
—-000—-

Leave a Comment

error: Content is protected !!