सेक्लुरिज्म की जीत के आसार

अजमेर, 11 अप्रेल। आज हुए मतदान पर सेक्लुरिज्म की जीत के आसार दिख रहे हैं। विश्व प्रसिद्ध सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के गद्दीनशीन एस. एफ. हसन चिश्ती ने कहा है कि देश में जिस-जिस जगहां आज मतदान हुए है वहां पर सेक्लुरिज्म की जीत के आसार दिख रहे हैं। सेक्लुरिज्म की जीत को देखते हुए सेक्लुरिज्म के खिलाफ आवाज उठाने वालों को हार नजर आ रही है वे हार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे है और उजुल-फिजुल बयान दे रहे हैं। कभी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहते है कि मुसलमानों के पास अली हैं तो हमारे पास बजरंगबली है तो कभी भारतीय जनता पार्टी के मुजफ्फरनगर के प्रत्याशी संजीव बालियान मुस्लिम नकाबपोश महिलाओं को गैर आदमी को चेहरा दिखाकर वोट डालने से महिलाओ ंके अपमान की बात करते है। हसन चिश्ती ने कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा है कि जात-पात, धार्मिक भावनाओं के खिलवाड़ के बिना सूबे व राज्य एवं देश के विकास की और संविधान की सुरक्षा के लिए राजनैतिक पार्टियों को वोट मांगना चाहिए। लेकिन आज देखने में यह आ रहा है कि चुनाव सभाओं में इस तरहां की आपतिजनक भाषाओं का जमकर उपयोग किया जा रहा है जिसकी भी कठोर शब्दों में निंदा करते हुए देश के सभी मतदाताओं से अपील की है कि वे देश के संविधान को कायम रखने के लिए सेक्यूलर पार्टी को कामयाब बनाएं तभी देश का विकास हो सकेगा और संविधान की जीत होगी।

Leave a Comment

error: Content is protected !!