कर्मचारी काम के साथ स्वास्थ्य का भी रखें ध्यान – श्याम चौधरी

टाटा पावर के कार्मिकों ने जाने हाथों की स्वच्छता व डेंगू से बचाव के टिप्स
अजमेर, 10 दिसम्बर( )। टाटा पावर अजमेर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के चीफ एच आर श्याम चौधरी ने कर्मचारियों को काम के साथ स्वास्थ्य के प्रति भी पूरा ध्यान देने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि कर्मचारी काम के साथ स्वस्थ रहने के प्रति जागरूक रहेंगे तो वे खुद तो सेहतमंद रहेंगे ही कंपनी का काम भी दुरुस्त तरीके से करेंगे।
श्याम चौधरी मंगलवार को मित्तल हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, अजमेर एवं टाटा पावर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के संयुक्त तत्वावधान में टाटा पावर कार्मिकों के लिए आयोजित हाथों की स्वच्छता एवं डेंगू से बचाव जागरूकता कार्यशाला के समापन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। सिटी पावर हाउस स्थित सेमिनार कक्ष में हुई कार्यशाला में मित्तल हाॅस्पिटल की इंफेक्शन कंट्रोल आॅफिसर मारग्रेट डेनियल मुख्य वार्ताकार थीं। इस अवसर पर चौधरी ने कहा कि काम के प्रति तो सजग और सतर्क रहना ही चाहिए इससे भी ज्यादा अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने की जरूरत है। चौधरी ने कहा कि अपने आस पास के वातावरण को प्रदूषण रहित बनाए रखने की जिम्मेदारी भी हमारी ही है। यह तब ही संभव है जब हम स्वयं स्वच्छ और स्वस्थ रहने के प्रति जागरूक होंगे। उन्होंने बताया कि दैनिक जीवन में छोटी छोटी लापरवाही ही हमें रोगी बनाती है। कर्मचारियों को अपना अनुभव साझा करते हुए उन्होंने कहा कि वे टूथ पेस्ट करने के सही तरीके को इस उम्र में आकर तब समझ पाए जब दांतों की जांच कराने पर चिकित्सक ने उन्हें टूथ पेस्ट करने का सही तरीका समझाया। चौधरी ने कर्मचारियों को हाथ धोने के सभी सात चरणों का बराबर उपयोग कर स्वयं को स्वस्थ बनाए रखने के लिए संकल्पित होने की आवश्यकता बताई। मौसमी बीमारियों के प्रति जागरूक रहते हुए स्वयं स्वच्छ रहने और अपने आस पास के क्षेत्र को स्वच्छ बनाए रखने में सदैव तत्पर रहने की अपेक्षा की। उन्होंने मित्तल हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के इस स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम की सराहना की।
इससे पहले मित्तल हाॅस्पिटल की इंफेक्शन कंट्रोल आॅफिसर मारग्रेट डेनियल ने कर्मचारियों को हाथों की स्वच्छता और डेंगू से बचाव के गुर सिखाए। उन्होंने कार्मिकों को सलाह दी कि कभी भी बीमारी या रोग का कोई लक्षण दिखने पर खुद ही डाक्टर ना बनें। शरीर पर किसी भी तरह का लक्षण स्वयं पर या परिवारजन पर महसूस होने पर नजदीक के चिकित्सक से मिलकर सलाह लें और आवश्यक जांचें कराएं। मारग्रेट डेनियल ने बताया कि स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता ही रोगी होने से बचाव का मूल है। इस मौके पर उन्होंने कर्मचारियों से सवाल जवाब किए और उन्हें सही जवाब देने पर पुरस्कृत भी किया। कार्यशाला के प्रारंभ में मित्तल हाॅस्पिटल के प्रबंधक जनसम्पर्क सन्तोष गुप्ता ने स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम पर प्रकाश डाला। टाटा पावर के एसोसिएट बिजनस एच आर लक्ष्मीकांत ने स्वागत उद्बोधन दिया। अंत में टाटा पावर के चीफ एच आर श्याम चौधरी ने स्मृति चिंह भेट किया।
फोटो- सिटी पावर हाउस स्थित टाटा पावर के सेमिनार कक्ष में हाथों की स्वच्छता एवं डेगू से बचाव कार्यशाला को संबोधित करती मित्तल हाॅस्पिटल की इंफेक्नश कंट्रोल आॅफिसर श्रीमती मारग्रेट।

Leave a Comment

error: Content is protected !!