जरूरतमंद की सेवा से बढ़ कर कोई पुण्य कार्य नहीं – श्रीमती शांता खींचा

हमारी ओर से किसी जीव को कष्ट नहीं होना चाहिए। हमारा प्रयास यही होना चाहिए कि हम जीवों के कष्ट कम कर सकें। इसी बात को ध्यान में रखते हुए जैन सोशियल ग्रुप क्लासिक के तत्वावधान में चलाई जा रही रसोई सेवा प्राप्त करने वालों को
सम्मान सहित भोजन के पैकेट्स का वितरण करवाते हुए समाजश्रेष्ठी श्रीमंती शांता जी खींचा ने कहा कि परिस्थिति कई बार धनाढ्य लोगों को भी मजबूर बना देती है। ऐसे में सेवा के हाथ नजदीक आएं तो परमात्मा के हाथ नजर आते हैं। जरूरतमंद की सेवा से बढ़ कर कोई पुण्य कार्य नहीं होता है। ग्रुप के संस्थापक अध्यक्ष व कार्यक्रम संयोजक मुकेश कर्णावट ने बताया कि अस्पताल परिसर में आने वाले रोगियों उनके परिजनों को व अन्य जरूरतमन्दों को यहां सुबह एवम शाम अक्षय कलेवा प्रोग्राम के माध्यम से निशुल्क भोजन के पैकेट्स उपलब्ध कराए जा रहे है । सोशियल डिस्टनेंसिंग का ध्यान में रखकर दी जा रही इस सेवा से हर वर्ग के व्यक्तियों को भोजन की सेवा दी जा चुकी है। ग्रुप की वरिष्ठ सदस्य मोंटू कर्णावट ने बताया कि इस सेवा में अजमेर ही नहीं वरन पूरे भारतवर्ष के भामाशाह सहयोग करने की स्वीकृति दे रहे हैं। साथ ही आज की भोजन सेवा में सहयोगी शांता जी खींचा परिवार के प्रति आभार व्यक्त किया।
मुकेश कर्णावट
संयोजक

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!