केजरीवाल की पार्टी बिना आत्मा का शरीर?

श्रीमती कीर्ति पाठक-अंशुल कुमार

लोकपाल व काले धन के मुद्दे पर एक हो कर केन्द्र सरकार हमला बोलने वाले अन्ना हजारे व बाबा रामदेव के समर्थक कल तक गलबहियां करते हुए एक होने का प्रहसन करते थे, आज टीम अन्ना के अहम सदस्य अरविंद केजरीवाल के राजनीतिक पार्टी बनाने की दिशा में कदम उठाने के बाद एक दूसरे का फूटी आंख नहीं सुहाते। इसका मुजाहिरा स्थानीय स्तर पर ही नजर आने लगा है।
हाल ही टीम अन्ना आंदोलन की अजमेर प्रभारी श्रीमती कीर्ति पाठक ने फेसबुक के जरिये यह सूचना जारी की कि अजमेर इंडिया अगेंस्ट करप्शन पार्टी की जिला आन्दोलन कार्यसमिति के गठन हेतु एक मीटिंग रविवार शाम सात बजे पार्टी कार्यालय 566-ए ,जी ब्लाक, माकड़वाली रोड पर रखी गयी है। पार्टी के मेम्बर बनने के इच्छुक व्यक्ति कृपया आ कर अपना नाम रजिस्टर कराएं और देश को भ्रष्टाचार मुक्त कराने में अपना योगदान दें और पार्टी के कार्यों को संपादित करने हेतु प्रभार ग्रहण करें। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बाबा रामदेव के भारत स्वाभिमान आंदोलन के अजमेर जिला अध्यक्ष अंशुल कुमार ने यह प्रतिक्रिया दी- We are sorry but without Anna your party is like a body without soul.
उनकी इस प्रतिक्रिया से यह साफ जाहिर है कि बाबा रामदेव के समर्थकों की नजर में केजरीवाल व उनकी पार्टी के बारे में क्या राय है। वैसे भी केजरीवाल के अलग होने के बाद जिस प्रकार बाबा रामदेव व अन्ना हजारे एक दूसरे के नजदीक आने की कोशिश कर रहे हैं और पिछले दिनों आरएसएस के एक स्वयंसेवक के जरिए गुप्त बैठक कर चुके हैं, यह राय बनना स्वाभाविक ही है।
बहरहाल, जो कुछ भी हो, कीर्ति पाठक की ओर से जारी ताजा सूचना से यह साफ है कि केजरीवाल की पार्टी के गठन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, तभी तो जिला स्तर पर भी कवायद शुरू हो गई है। अब देखना ये होगा कि उसे अजमेर में कितनी कामयाबी मिलती है। देखना ये भी होगा कि आंदोलन से जुड़ कार्यकर्ताओं का कितना रुझान केजरीवाल की ओर होता है।

-तेजवानी गिरधर

Leave a Comment

error: Content is protected !!