पूर्व मंत्री स्वर्गीय रमजान खान के पुत्र फैयाज खान भी उतरे मैदान में

पुष्कर में लोगों से किया जनसंपर्क इसके अलावा पुराने भाजपा कार्यकर्ताओं से भी की मुलाकात
पुष्कर विधानसभा से दावेदारी कर रहे सभी लोगों में मची हलचल
पुष्कर विधानसभा का चुनाव अब और भी रोचक होता जा रहा है।

जहां एक और वर्तमान संसदीय सचिव व विधायक सुरेश सिंह रावत फिर से विकास के दम पर अपनी दावेदारी जता रहे है। तो वहीं कपालेश्वर महादेव मंदिर के महंत सेवानंदगिरी भी रावत व संत समाज मे अपनी पकड़ के बलबूते अपनी दावेदारी मजबूत मान रहे है। विधायक पद की दावेदारी की लाइन में पीसांगन प्रधान अशोक सिंह का नाम दिख रहा है।
तो वहीं अब पुष्कर से भाजपा खेमे में एक और नाम सामने आने लगा है ओर वो है पूर्व मंत्री स्वर्गीय रमज़ान के पुत्र फैयाज खान का।
फैयाज खान अपने पिता रमजान खान की पुष्कर विधानसभा क्षेत्र में लोकप्रियता के कारण पार्टी से टिकट की मांग कर रहे है। इसके लिए फैयाज खान ने शुक्रवार को पुष्कर में लोगों से जनसंपर्क कर पुराने बीजेपी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। जिससे दावेदारी कर रहे सभी लोगों में हलचल मच गई।
पुष्कर विधानसभा क्षेत्र से लगातार पांच बार भाजपा के प्रत्याशी रहे पूर्व मंत्री स्वर्गीय रमजान खान के पुत्र जो वर्तमान में राजस्थान मदरसा बोर्ड के सदस्य हैं ने पुष्कर विधानसभा से पार्टी का टिकट की मांग की है।
फैयाज खान ने बताया कि उनके पिता के कार्यकाल में पुष्कर में हुए विकास कार्य को लोग आज भी उदाहरण के रूप में पेश करते हैं और पुष्कर के गांव गांव ढाणी ढाणी में आज भी लोगों के दिलों में उनकी छवि विद्यमान है। खान ने बताया कि उन्होंने पुष्कर के प्रबुद्ध नागरिकों से विचार-विमर्श कर अपनी दावेदारी पेश की है और पूरा विश्वास जताया कि यदि पार्टी उन्हें टिकट देती है तो निश्चित रूप से वह भारी मतों से विजय प्राप्त करेंगे। क्योंकि पुष्कर विधानसभा क्षेत्र की जनता का अपार स्नेह और समर्थन उन्हें प्राप्त है साथ ही फैयाज खान ने बताया कि उन्होंने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से लेकर जिला स्तर तक अपनी दावेदारी प्रस्तुत की है। अब जो भी पार्टी का निर्णय होगा वह स्वीकार्य होगा। खान ने अपनी जीत की प्रमुख वजह केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं और अपने स्वर्गीय पिता का 20 वर्षों तक पुष्कर विधानसभा क्षेत्र की जनता से जुड़ाव माना है। साथ ही उन्होंने पुष्कर के सर्वागीण विकास हेतु क्षेत्र के मतदाताओं से अपील की है कि पार्टी नेतृत्व के सामने उनकी दावेदारी का पुरजोर समर्थन करें ताकि पुष्कर में विकास की वहीं गंगा बहाई जा सके जो जनप्रिय विधायक रमजान खान जी के समय थी।

*फैयाज खान का जीवन परिचय*
फैयाज खान पूर्व मंत्री स्वर्गीय रमजान खान के पुत्र हैं इनका जन्म 12 अगस्त 1976 को हुआ है। इनकी माता का नाम जन्नत बानो है। इन्होंने अंग्रेजी माध्यम से स्नातक किया है साथ ही एलएलबी भी किया है। वर्तमान में यह राजस्थान मदरसा बोर्ड के सदस्य हैं।
राजस्थान मदरसा बोर्ड के सदस्य के तौर पर यह केंद्र व राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को जनता तक पहुंचाने लाभ दिलाने के लिए प्रयत्नशील है।

*राजनीतिक पृष्ठभूमि*
स्वर्गीय रमजान खान ने सरपंच से लेकर प्रधान, विधायक,मंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष,कायमखानी महासभा अध्यक्ष,बैंक चेयरमैन, राजस्थान चीता मेहरात काठात महासभा के महामंत्री आदि पदों को सुशोभित किया है जिससे संपूर्ण क्षेत्र में उनकी पैठ बनी और आज भी विद्यमान है।
रमज़ान खान ने 1980 से 2003 तक लगातार छह विधानसभा के चुनाव लड़े जिसमें पांच बार पुष्कर से चुनाव लड़ा। जिससे संपूर्ण पुष्कर विधानसभा क्षेत्र के गांव गांव ,ढाणी ढाणी में उनकी पहचान बनी।
पुष्कर विधानसभा क्षेत्र एक मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र है जहां से फैयाज खान ने अपनी जीत सुनिश्चित मानी है।
फैयाज खान कायमखानी मुस्लिम समाज से आते हैं, वही उनका ननिहाल चीता मेहरात काठात समाज में होने के कारण इस समाज का पूरा समर्थन उन्हें प्राप्त है । इसके अलावा उनके पिता रमजान खान के व्यक्तिगत संपर्क के वोट भी उन्हीं के पक्ष में आएंगे।
फैयाज खान की छवि निर्विवाद व बेदाग है जिससे भी उनका जीतना तय माना जा रहा है।
whats app

Leave a Comment