चिकित्सा सेवाओं से मिल रही है पुष्कर वासियो को राहत

◆ *डॉ एम डी कालरा , डॉ आर के गुप्ता , डॉ हरबंश सिंह दुआ और डॉ सुधीर माहेश्वरी की चिकित्सा सेवाओं से मिल रही है पुष्कर वासियो को राहत ••••*

◆ *चिकित्सा प्रभारी गुप्ता के प्रयासों से दिखने लगा है व्यवस्थाओं में सुधार , सामूहिक प्रयासों से बदल सकती है हॉस्पिटल की दशा और दिशा ••••*

राकेश भट्ट
मैंने आपके समक्ष पुष्कर के सरकारी हॉस्पिटल की दुर्दशा और यहां पर व्याप्त अव्यवस्थाओ के बारे में जानकारी दी थी । परंतु यहां जो अच्छाइयां है वह भी जनता के समक्ष रखना मेरा दायित्व है । क्यों कि आज यदि पुष्कर जैसे हॉस्पिटल में हर रोज सात सौ लोग अपना इलाज करवाने पहुंच रहे है । आपको बता दें कि जनवरी से अक्टूबर तक दस महीनो में ही डेढ़ लाख से ज्यादा मरीज यहां आए है तो इसके पीछे जिन लोगो की अथक मेहनत और परिश्रम है उन्हें भी कतई नकारा नही जा सकता ।

*डॉ महेश दर्शन कालरा ••••*
यह वो शख्शियत है जो पिछले कई सालों से पुष्कर सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगो की निस्वार्थ भाव से सेवा कर रहे है । बहुत ही विनम्र और शांत स्वभाव के डॉ कालरा ने लोगो के दिलो में ऐसी जगह और विश्वास स्थापित किया है वह बहुत कम लोगों को नसीब होता है । मरीजो के लिए चौबीस घंटे हमेशा तत्पर रहने वाले कालरा सौ तालों की एक चाबी माने जाते है । इनके पास हर बीमारी का इलाज है यही वजह है कि इस हॉस्पिटल में आने वाले ज्यादातर मरीजो की भीड़ कालरा के चेम्बर में ही लगती है ।

*डॉ आर के गुप्ता ••••*
पीसांगन में अपनी सेवाएं देने के बाद बीते दो सालो पूर्व पुष्कर नियुक्त किये गए डॉ आर के गुप्ता वर्तमान में चिकित्सालय प्रभारी के पद पर तैनात है । इन्होंने चार्ज संभालने के बाद हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं में बहुत बदलाव किए है । इनकी प्रेरणा से कुछ दानदाताओं ने यहां वाटर कूलर लगवाए है तो हॉस्पिटल में स्थित जांच केंद्र , दवाई काउंटर , एक्सरे रूम सहित अन्य चीजों को भी और ज्यादा व्यवस्थित करने का काम किया गया है । अभी कुछ दिनों पहले ही इन्होंने मरीजो के लिए पर्ची का काउंटर भी बाहर की और चालू करवाया है जिससे हॉस्पिटल के दरवाजे में लगने वाली भीड़ अब नजर नही आ रही है । इनके पास भी इलाज करवाने आने वाले लोगो की भारी भीड़ बताती है कि इनके इलाज से लोगो को कितनी राहत मिल रही है ।

*डॉ हरबंश सिंह दुआ •••*
यह वो नाम है जिनकी जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है । एक समय था जब इस क्षेत्र की महिलाओं को गायनिक रोगों का इलाज करवाने और डिलीवरी करवाने के लिए अजमेर स्थित जनाना हॉस्पिटल जाना पड़ता था । लेकिन इनके आने के बाद से गर्भ धारण करने वाली महिलाओं को इतनी सुविधा मिली है जिसे शब्दो मे बयान नही किया जा सकता । आपको जानकर हैरानी होगी कि अब पुष्कर में ही हर महीने लगभग 20 से ज्यादा महिलाओं की डिलीवरी और ऑपरेशन हो रहे है । जो बहुत बड़ी बात है । इनके पास हमेशा महिला मरीजो की भारी भीड़ उमड़ी रहती है और यहां आने वाली सभी महिलाएं पुरुष डॉ होने के बावजूद बेझिझक इन्हें ना सिर्फ अपनी तकलीफ बताती है बल्कि इलाज से संतुष्ट होकर भी जाती है ।

*डॉ सुधीर माहेश्वरी ••••*
सुधीर माहेश्वरी यहां शिशु रोग विशेषज्ञ के रूप में सेवाएं दे रहे है । इनके आने के पश्चात उन माता पिता को बहुत राहत मिली है जिनके बच्चे थोड़े थोड़े दिनों में बीमार हो जाया करते थे । पहले हर माता पिता बच्चो का इलाज करवाने अजमेर जाने को मजबूर थे परंतु इनके आने के बाद परिजनों को बहुत राहत मिली है । आज इनके चेम्बर में भी शिशु रोगियों की भीड़ लगी रहती है जहां हर परिजन निश्चिंत होकर अपने बच्चो का इलाज करवा रहे है ।

डॉक्टर्स के अलावा हॉस्पिटल के स्टाफ में , वीरेंद्र शर्मा , अशोक पाराशर ,पवन जांगीड़ , सविता पाराशर , सुनीता पाराशर , देशराज , विक्रम सहित कई शख्स ऐसे भी है जो काम के प्रति समर्पित भाव से आम जनता की सेवा कर रहे है । इस ब्लॉग में सभी का नाम लिख पाना संभव नही है । पॉवर ऑफ नेशन उन सभी लोगो को भी दिल से सलाम करता है और उम्मीद करता है कि हम सभी लोगो के सकारात्मक प्रयासों से यहां की बची हुई कमियों को दूर कर आने वाले मरीजो को ज्यादा से ज्यादा राहत पहुंचाने का प्रयास आगे भी इसी तरह जारी रहेगा •••••

*राकेश भट्ट*
*प्रधान संपादक*
*पॉवर ऑफ नेशन*
*मो 9828171060*

Leave a Comment