मारक शकित का प्रवचन

ओम माथुर
पहले मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे को मौत के लिए श्राप दिया था। फिर नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया और अब भाजपा के नेताओं की मृत्यु का कारण विपक्षी दलों की मारक शक्ति को बताकर भोपाल से भाजपा की नगीना सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने साबित कर दिया कि राजनीति में दिमाग लगाने की जरूरत नहीं होती, बस मुंह चलाना आना चाहिए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहे तो विपक्षी नेताओं से बात करके उनसे हस मारक शक्ति को भारतीय सेना के लिए मांग सकते हैं, ताकि सीमा पर ना सैनिकों की जरूरत हो और ना हथियारों की। इसी मारक शकित से पाकिस्तान के आतंकवादियों और सैनिकों को ठिकाने लगा दिया जाए । इससे देश के रक्षा बजट पर खर्च होने वाले अरबों खरबों रुपए भी बचेंगे। जिन्हें देश के विकास में लगाया जा सकेगा।
साध्वी ने मारक शक्ति का यह प्रवचन तब दिया है जबकि उनके पिछले बयानों पर खुद प्रधानमंत्री मोदी कह चुके हैं कि वे प्रज्ञा ठाकुर को कभी मन से माफ नहीं कर सकेंगे । पता ही नहीं चल रहा कि भाजपा की वर्तमान पीढ़ी के नेता ज्यादा प्रतिभाशाली है या साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जैसे भविष्य की पीढ़ी के नेता । इसके लिए अभी प्रज्ञा ठाकुर के कुछ और बयानों का इंतजार करना होगा।

ओम माथुर/ 9351415379

Leave a Comment

error: Content is protected !!