8311 स्थानों पर बिजली चोरी :3.40 लाख की वसूली

अजमेर। अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. के सर्तकता दलों द्वारा बिजली चोरी रोकने के लिए की गई प्रभावी कार्यवाही के तहत चालू वित्तीय वर्ष के मई माह तक 17 हजार 692 स्थानों पर छापामार कार्यवाही की जाकर 8 हजार 311 स्थानों पर बिजली चोरी पकड़ी गयी है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक पी.एस.जाट ने बताया कि बिजली चोरी रोकने के लिए चालू वित्तीय वर्ष के दौरान मई माह तक की गई कार्यवाही के तहत बिजली चोरी के सामने आए मामलों में 754 प्रकरणों मे पुलिस में प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफ.आई.आर) दर्ज करायी जाकर 27 व्यक्तियों को गिरफ्तार भी किया गया है। उन्होंने बताया कि जिन स्थानों पर बिजली चोरी पकड़ी गयी है वहां उपभोक्ताओं पर 7 करोड़ 31 लाख 53 हजार रूपये का जुर्माना किया गया है। जिनमें से 3 करोड़ 40 लाख 27 हजार रूपये मौके पर ही वसूली की गई है। प्रबन्ध निदेशक ने बताया कि निगम क्षेत्र के जिलों में बिजली चोरी की सर्वाधिक एफ.आई.आर. सीकर जिले मे 134 दर्ज करायी गयी है। जबकि झुंझुनू में 131, चितौडग़ढ़ में 118, नागौर में 106, उदयपुर में 105, भीलवाड़ा में 51, राजसमन्द में 39, अजमेर शहर वृत में 25, डूंगरपुर में 16, बांसवाड़ा में 15, प्रतापगढ़ में 8 तथा अजमेर जिला वृत में 6 प्रकरण दर्ज कराये गए है।
उन्होने बताया कि बिजली चोरी के प्रकरणों में उपभोक्ताओं से वसूली गयी जुर्माना राषि सर्वाधिक नागौर जिले में 55 लाख 74 हजार रूपये हुई जबकि झुंझुनूं में 55 लाख 34 हजार रूपये, सीकर जिले में 50 लाख 38 हजार रूपये, उदयपुर में 47 लाख 66 हजार रूपये, राजसमन्द में 45 लाख 67 हजार रूपये, भीलवाड़ा में 22 लाख 19 हजार रूपये, चितौडग़ढ़ में 21 लाख 66 हजार रूपये, अजमेर शहर वृत में 14 लाख 25 हजार रूपये, बांसवाड़ा में 14 लाख 25 हजार, डूंगरपुर में 5 लाख 77 हजार रूपये, प्रतापगढ़ में 4 लाख 51 हजार तथा अजमेर जिला वृत में 2 लाख 85 हजार,रूपये की जुर्माना राशि वसूली गई हैं।
प्रबंध निदेशक ने बताया कि बिजली चोरी प्रकरणों में सर्वाधिक गिरफ्तारी नागौर एवं अजमेर शहर वृत में 9-9 व्यक्तियों की गई है जबकि भीलवाड़ा में 4, सीकर में 3 तथा उदयपुर एवं झुंझुनू में एक-एक व्यक्तियों की गिरफ्तारी की गई है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!