वृश्चिक सक्रांति

ज्योति दाधीच
16 नवंबर को देर रात 11बजकर 48 मिनट पर सूर्य देव तुला राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे और बता दें कि जिस दिन सूर्यदेव किसी एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं, उस दिन सूर्य की संक्रांति होती है अतः शनिवार की रात सूर्य की वृश्चिक संक्रांति है और इसका पुण्य काल रविवार सूर्योदय से दोपहर तक रहेगा | दरअसल आपको बता दूं कि लगभग 30 दिनों के अंतराल पर सूर्यदेव एक-एक करके सभी बारह राशियों में गोचर करते हैं। ये चक्र मेष राशि से शुरू होकर मीन राशि तक चलता है और फिर मेष राशि से दोबारा शुरू हो जाता है। संक्रांति एक ऐसा त्योहार है जिसकी तिथि का निर्धारण सूर्य की गति के आधार पर होता है, जबकि भारतीय पंचांग की अन्य तिथियां चन्द्रमा की गति के आधार पर तय की जाती हैं।

शास्त्र के अनुसार एक साल में 12 संक्रांतियां होती हैं जिनमें से 6 दक्षिणायन और 6 उत्तरायण होती हैं | सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही उत्तरायण और कर्क राशि में प्रवेश होते ही दक्षिणायन काल शुरू हो जाता है। फिलहाल दक्षिणायन चल रहा है।

किसी भी संक्रांति में पुण्यकाल का बहुत महत्व होता है | संक्रांति के पुण्यकाल के दौरान पवित्र नदी सरोवर में स्नान का महत्व है , साथ ही दीपदान का भी बड़ा ही महत्व है।

सूर्य की वृश्चिक संक्रांति एवं स्थिर योग और आर्द्रा नक्षत्र कि अब बात करते है इस दिन विभिन्न राशि वाले लोगों को कौन सा उपाय करने से क्या फल प्राप्त होंगे। जानें ।

मेष राशि – अगर आपकी जल्द ही शादी होने वाली है और आप अपना रूप-सौन्दर्य बनाये रखना चाहते हैं, तो आपको स्नान से पहले तिल का तेल या तिल का उबटन लगाना चाहिए और उसके कुछ देर बाद स्नान करना चाहिए। साथ ही चौदह कन्याओं को कोई सौन्दर्य प्रसाधन गिफ्ट करना चाहिए । ऐसा करने से आपका रूप-सौन्दर्य बना रहेगा और शादी में आपके चेहरे पर एक अलग ही रौनक दिखेगी। वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय मेष राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

वृष राशि- अगर आप आर्थिक रूप से अपनी उन्नति करना चाहते हैं, तो आपको तिल और गुड़ से बने चौदह लड्डूओं का मन्दिर में दान करना चाहिए । साथ ही खुद भी तिल के लड्डू खाने चाहिए । ऐसा करने से आर्थिक रूप से आपकी उन्नति ही उन्नति होगी । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय वृष राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

मिथुन राशि- अगर आप चाहते हैं कि एग्जाम में आपको कम मेहनत में अधिक लाभ मिल जाये, तो आपको मिट्टी के तीन पात्र लेकर, एक में तिल, दूसरे में गुड़ और तीसरे में फल रखकर किसी ब्राह्मण को दान करने चाहिए । साथ ही एक विद्या यंत्र लेकर अपने गले में धारण करना चाहिए । ऐसा करने से आपको कम मेहनत में भी अधिक लाभ मिलेगा । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय मिथुन राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

कर्क राशि – अगर आप हर तरह की सुख-सुविधा पाना चाहते हैं, अपना कल्याण करना चाहते हैं, तो आपको मत्स्य पुराण में दिये गये इस श्लोक का 11 बार पाठ करना चाहिए। श्लोक इस प्रकार है –
‘यथा भेदं न पश्यामि शिव विष्णवर्क पद्मजान्।
तथा ममास्तु विश्वात्मा शंकरः शंकरः सदा।।‘
साथ ही आपको चौदह अलग-अलग पोटलियों में मूंग की दाल और चावल बांधकर दान करना चाहिए । ऐसा करने से आपको हर तरह की सुख-सुविधा मिलेगी। वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय कर्क राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

सिंह राशि – अगर आप चाहते हैं कि आपके जीवन में कभी किसी प्रकार की रुकावट ना आये, तो इसके लिये आपको किसी जरूरतमंद को चौदह किलो लकड़ी का दान करना चाहिए। ऐसा करने से आपके जीवन में कभी किसी प्रकार की रुकावट नहीं आयेगी । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय सिंह राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

कन्या राशि – अगर आप अपने जीवन में खुशियों की डोर को हमेशा मजबूत बनाये रखना चाहते हैं, तो आपको 14 बच्चों को पतंग गिफ्ट करनी चाहिए । ऐसा करने से आपके जीवन में खुशियों की डोर हमेशा मजबूत बनी रहेगी। वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय कन्या राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

तुला राशि – अगर आप चाहते हैं कि आपके परिवार की तरक्की को कभी किसी की नजर ना लगे, तो इसके लिये आपको परिवार के साथ मिलकर घर के आग्नेय कोण, यानी दक्षिण-पूर्व दिशा के कोने में बैठकर अग्नि में तिल की 108 आहुतियां देनी चाहिए । साथ ही चौदह सुहागिन महिलाओं को सुहाग का सामान दान करना चाहिए । ऐसा करने से आपके परिवार की तरक्की को कभी किसी की नजर नहीं लगेगी । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय तुला राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

वृश्चिक राशि- अगर आप अपने तेज से, अपने कॉन्फिडेंस से सबको प्रभावित करना चाहते हैं, तो आपको सूर्यदेव को जल चढ़ाते हुए उनके इस मंत्र का 21 बार जप करना चाहिए। मंत्र है – ‘ऊँ घृणि सूर्याय नमः।’इसके साथ ही आपको अपने घर में सूर्य यंत्र की स्थापना करनी चाहिए और चौदह मौसमी फलों का दान करना चाहिए । ऐसा करने से आप अपने तेज और कॉन्फिडेंस से सबको प्रभावित करने में सफल होंगे। वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय वृश्चिक राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

धनु राशि – अगर आप चाहते हैं कि आप हमेशा स्वस्थ रहें, तो आपको गंगा नदी के जल से स्नान करना चाहिए । लेकिन अगर आपके लिये वहां जाना संभव नहीं है, तो आपको घर पर ही पानी में थोड़ा-सा गंगाजल मिलाकर स्नान करना चाहिए । साथ ही 14 पानी की बोतलें या 14 गिलास का दान करना चाहिए । ऐसा करने से आप हमेशा स्वस्थ रहेंगे । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय धनु राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।_

मकर राशि – अगर आप एक के बाद एक सफलता की सीढ़ियां चढ़ना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको दाल-चावल की खिचड़ी बनाकर, उसमें थोड़ा-सा घी मिलाकर, पांच अलग-अलग मन्दिरों में दान करना चाहिए । ऐसा करने से आप एक के बाद एक सफलता की सीढ़ियां चढ़ते जायेंगे । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय मकर राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

कुंभ राशि – अगर आप अपने दाम्पत्य जीवन में प्यार को बरकरार रखना चाहते हैं, तो आपको सूर्यदेव को जल में लाल फूल डालकर अर्पित करना चाहिए और मन्दिर में गुड़ की रेवड़ियां दान करनी चाहिए । ऐसा करने से आपके दाम्पत्य जीवन में प्यार बरकरार रहेगा । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय कुंभ राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

मीन राशि – अगर आप किसी विशेष प्रोजेक्ट में कामयाबी हासिल करना चाहते हैं, तो आपको किसी ब्राह्मण को कम्बल का दान करना चाहिए और उनका आशीर्वाद लेना चाहिए। ऐसा करने से आपको अपने विशेष प्रोजेक्ट में कामयाबी जरूर हासिल होगी । वैसे तो मौजूदा ग्रह स्थिति के अनुसार ये उपाय मीन राशि वालों के लिये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं।

जय माताजी की
ऐस्ट्रो ज्योति दाधीच,तीर्थराज पुष्कर,राजस्थान।

Leave a Comment

error: Content is protected !!