झटका खाने के बाद भी नहीं सुधरी टीम अन्ना

आपसी मतभेंदों और उन्हें सार्वजनिक रूप से उजागर करने की वजह से अपने आंदोलन का कचरा करने वाली टीम अन्ना अभी नहीं सुधरी है। कानाफूसी है कि कोयला ब्लॉक आवंटन में कथित घोटाले पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और बीजेपी अध्यक्ष नितिन गडकरी के घरों का घेराव करने को लेकर पूर्व टीम अन्ना के संगठन इंडिया अंगेस्ट करप्शन के सदस्यों अरविंद केजरीवाल और किरन बेदी में मतभेद पैदा हो गए हैं।
सूत्रों के मुताबिक किरन बेदी बीजेपी अध्यक्ष के घर के घेराव के खिलाफ हैं। बेदी चाहती हैं कि इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के घर का ही घेराव किया जाना चाहिए। इससे किरन बेदी के कल घेराव में शामिल होने को लेकर भी अटकलें लगाई जा रही हैं। गौरतलब है कि इंडिया अंगेस्ट करप्शन ने रविवार को पीएम और बीजेपी अध्यक्ष के घरों के घेराव का ऐलान किया है। अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, प्रशांत भूषण का मानना है कि कोयला ब्लॉक आवंटन में हुए कथित घोटाले के लिए जितनी जिम्मेदार कांग्रेस है, उतनी ही बीजेपी भी है।

Leave a Comment