गंगेले ने 1 जुलाई षिक्षा दिवस घोषित कराने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

santosh gangeleभोपाल। गणेष षंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब प्रान्तीय अध्यक्ष संतोष गंगेले ने 10 जून को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी एवं केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्रीमती स्मृतिरानी को अलग -अलग पत्र लिखकर 1 जुलाई को षिक्ष दिवस घोषित करने के लिए ज्ञापन मॉग पत्र भेजा है । प्रान्तीय अध्यक्ष श्री संतोष गंगेले ने भारतीय संस्कृति एवं इतिहास का हवाला देकर कहा कि भारत देष में 1 जुलाई से ही षिक्षा सत्र ष्षुरू होते आ रहे है, इसलिए 1 जुलाई का महत्व भारतीय षिक्षा के क्षेत्र में जीवन के विकास को मुख्य धारा से जोड़ने का खुषी का दिवस होता है इसलिए 1 जुलाई को षिक्षा दिवस घोषित किया जायें इस बात को लेकर ज्ञापन पत्र भारत सरकार केन्द्रीय मंत्री को भेजा गया है । उन्होने कहा कि देष के अंदर अनेक जयंती, स्मृति दिवस मनाये जाते है, देष में माता-पिता दिवस, प्रेम दिवस, प्रेस दिवस, पर्यावरण दिवस, जल दिवस , स्थापना दिवस मनाने की परम्परा और प्रथाये चली आ रही है लेकिन जिस दिवस को व्यक्ति अपने जीवन का भविष्य तय करता है, अपनी संस्कृति-संस्कार, नैतिक एवं व्यवहारिक षिक्षा की षुरूआत करता है उस दिवस को आज तक भारतीय राजनैतिक दलों ने कोई स्थान नही दिया है ।

गणेष षंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब प्रान्तीय अध्यक्ष संतोष गंगेले ने भारत सरकार को पत्र लिख कर भारत के सभी राज्यों में क्षेत्रीय भाषाओं एवं लोक संस्कृति के आधार पर 1 जुलाई से 15 जुलाई तक प्राथमिक एवं हाई स्कूल तक की संस्थाओं में षिक्षा उत्सव दिवस मनाने का सुझाव भी दिया है । इस उत्सव के माध्यम से स्कूल चलों अभियान भी पूर्ण रूप से सफल होगा ।

Leave a Comment