उन्नत फसल के लिए अनुसंधान की आवश्यकता

राजस्थान के कृषि एवं पशुपालन मंत्री हरजीराम बुरडक ने कहा है कि प्रदेश व देश के कृषि वैज्ञानिकों को गेहूं एवं जौ की उन्नत फसल के लिए शोध करने की निरंतर आवश्यकता है ताकि खेती एवं किसानों के विकास के लिए वरदान साबित हो सके।

बुरडक ने कहा कि वर्तमान समय में कृषि वैज्ञानिकों को मौसम आधारित पैदावार को बढ़ावा देने के साथ पाला एवं सर्दी के बचाव के मौसम आधारित बीज तैयार करने की आवश्यकता पर बल देने की जरूरत है।

बुरडक शनिवार को यहां पंचायत राज संस्थान के सभागार में स्वामी केशवानन्द कृषि विश्वविद्यालय एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित ‘गेहूं एवं जौ सुधार परियोजना ‘ कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

कार्यशाला में देश एवं विदेशों के लगभग 400 कृषि वैज्ञानिकों भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि कृषि वैज्ञानिक जितना शोध कार्य कर रहे हैं वह किसानों के विकास के लिए अत्याधिक लाभकारी रहेगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!