नगर निगम में 10.15 बजे कलेक्टर ने कमरों के ताले खुलवाए, चाबी नदारद

( आदतन जो अधिकारी-कर्मचारी लेट आ रहे हैं, उन्हें सस्पेंड करने की कार्रवाई अमल में लाई जाए )
बीकानेर, 10 जनवरी। नगर निगम में निर्माण शाखा के विभिन्न कमरों के सुबह 10.15 बजे तक ताले लगे मिले जिन्हें जिला कलेक्टर ने खुलवाया। जबकि एक कमरे की चाबी काफी देर ढूंढ़ने पर भी नहींं मिली। कार्मिकों की इस प्रवृति को कलेक्टर ने गंभीरता से लिया और सभी अनुपस्थित अभियंताओं व कार्मिकों को चार्जशीट देने के निर्देश दिए। दरअसल जिला कलेक्टर कुमारपाल गौतम ने गुरुवार को नगर निगम कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित कर्मचारियों व अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश आयुक्त नगर निगम को दिए। साथ ही पूरे कार्यालय परिसर को स्वच्छ रखने के निर्देश संबंधित शाखा के प्रभारी अधिकारियों को दिए। कार्यालय में कर्मचारियों के देर से आने को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने कहा कि आदतन जो अधिकारी-कर्मचारी लेट आ रहे हैं, उन्हें सस्पेंड करने की कार्रवाई अमल में लाई जाए। जिला कलक्टर ने सभी कमरे खुलवा कर देखे तथा कहा कि सभी अधिकारी कर्मचारी यह सुनिश्चित करें कि वह जहां बैठते हैं वहां की साफ सफाई रखना उनकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी है, सफाई करने में उन्हें शर्म नहीं महसूस करनी चाहिए।

सात दिन बाद होगा निरीक्षण-
कुमारपाल गौतम ने नगर निगम के सभी कक्षों में घूमकर कार्मिकों की उपस्थिति की जांच के बाद सभी अधिकारी-कर्मचारियों से कहा कि वह 7 दिन बाद पुनः निरीक्षण पर आएंगे और अगर उस दिन भी कार्यालय की साफ-सफाई सहित अधिकारी कर्मचारियों की उपस्थिति यही रही तो उसके गंभीर परिणाम होंगे। सभी अधिकारी कर्मचारी यह अपनी आदत बना लें कि निश्चित समय पर ऑफिस में उपस्थित रहना है । सुबह 9.30 से शाम 6.00 बजे के बीच भी निगम का औचक निरीक्षण कर अधिकारी कर्मचारी उपस्थिति की जांच की जाएगी।

-✍️ मोहन थानवी

Leave a Comment