जनशिकायतों का प्राथमिकता से निस्तारण के निर्देश

बीकानेर, 28 जनवरी। अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ बोर्ड व जिला प्रभारी मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि अधिकारी गंभीरता से कार्य करते हुए राज्य सरकार की 60 दिवसीय कार्ययोजना के अनुसार तय लक्ष्य समयबद्ध रूप से पूर्ण करें।
प्रभारी मंत्री ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेते हुए कहा कि अधिकारी जनता की शिकायतों के निस्तारण को प्राथमिकता पर रखते हुए कार्य करंे तथा राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन कर आमजन को राहत दें। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर कोताही व भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
पीबीएम अस्पताल में सुधरे व्यवस्थाएं
प्रभारी मंत्री ने कहा कि पीबीएम अस्पताल संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल है यहां पर स्वास्थ्य, जांच, दवा सहित व्यवस्थाओं से जुड़ी विभिन्न शिकायतें मिल रही है। उन्होंने अधिकारियों को व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश देते हुए कहा कि यहां पहुंचने वाले मरीजों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े यह सुनिश्चित किया जाए। चिकित्सकों के विजिट समय को निर्धारित किया जाए, साथ ही यह भी सुनिश्चित हो कि चिकित्सक मरीजों के साथ संयमित व्यवहार करें तथा वरिष्ठ चिकित्सक भी मरीजों के लिए उपलब्ध रहें।
स्वाइन फ्लू न हो एक भी मौत
जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित हो कि स्वाइन फ्लू से जिले में एक भी मौत न हों। डोर टू डोर सर्वे करवा कर संभावित मरीजों को उचित उपचार उपलब्ध करवाया जाना सुनिश्चित किया जाए। मच्छर प्रभावित क्षेत्रों में नगर निगम नियमित रूप से फोगिंग कार्य करें। उन्होंने निगम से साफ-सफाई कार्य को भी सुचारू रूप से संपादित करने के निर्देश दिए। आवारा पशुओं की समस्या से निपटने के लिए निगम जिले की विभिन्न गोशालाओं से सहयोग लें।
रात आठ बजे बाद न मिले शराब
प्रभारी मंत्री ने कहा कि आबकारी तथा पुलिस विभाग आपसी समन्वय से यह सुनिश्चित करें कि रात आठ बजे के बाद शराब की कोई भी दुकान न खुले। इस सम्बंध में सम्बंधित एसएचओ की जिम्मेदारी तय की जाए। सादे कपड़ों में पुलिस कर्मी तैनात रह कर पेट्रोलिंग करें।
समय पर हो मनरेगा श्रमिकों का भुगतान
शाले मोहम्मद ने कहा कि मनरेगा के तहत श्रमिकों के भुगतान समय पर होना सुनिश्चित करें तथा भुगतान में भ्रष्टाचार से जुड़ी कोई शिकायत न मिले। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत सूखाग्रस्त क्षेत्रों में श्रमिकों द्वारा मंागे जाने पर तुरंत रोजगार उपलब्ध करवाया जाए। उन्होंने कहा कि दीन दयाल उपाध्याय विद्युतीकरण योजना के तहत कनेक्शन से जुड़ी कोई भी शिकायत मिले। भ्रष्टचार आदि से जुड़ी शिकायतों पर सक्षम अधिकारी मौके पर जाकर प्रकरण की जांच करें। इन शिकायतों को हल्के में न लें। इनसे जुड़े किसी भी प्रकरण पर कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि बिजली कनेक्शन के लिए जिन आवेदकों द्वारा डिमांड नोटिस जमा करवाए जा चुके हैं उनके कनेक्शन जल्द से जल्द जारी किए जाएं। जिले में जहां भी सड़कें टूटी है उनकी मरम्मत, पेंच आदि कार्य शुरू किये जाए। मिसिंग लिंक, गौरव पथ सहित विभिन्न योजनाओं में गुणवता के साथ किसी भी प्रकार का कोई समझौता न हो। पुष्करणा सावे के मददेनजर शहर के अंदरूनी हिस्सों में सड़क और प्रकाश व्यवस्था को सुचारू किया जाए।
प्रभारी मंत्री ने कृषि उपनिदेशक को यूरिया कालाबाजारी जैसी किसी भी शिकायत पर गंभीरता से कार्य करने के निर्देश दिए तथा कहा कि बीज किट का समय पर वितरण हो तथा डिग्गी निर्माण का लक्ष्य बढ़ाए जाएं। प्रभारी मंत्री ने कहा कि गर्मी के मौसम में नहरबंदी को देखते हुए सभी तैयारियां समय रहते पूर्ण कर ली जाए। जीएलआर निर्माण का कार्य पीएचईडी से एनओसी प्राप्त करने के पश्चात ही किया जाए ताकि इन्हें पाइपलाइन से जोड़ा जा सके। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले के जो उपखंड पीने के पानी के लिए नहरी पानी से वंचित है वहां नहर का पानी पहुंचाने के लिए प्रस्ताव बनाकर भिजवाए जाएं। शहर में पेयजल पाइप लाइन में लीकेज की शिकायतों को तुरंत ठीक करवाते हुए पेट्रोलिंग बढ़ाएं ताकि पानी को बेकार बहने से रोका जा सके।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि शिक्षा, चिकित्सा सहित विभिन्न विभाग अपने यहां खाली पदों की सूचना भिजवाएं तथा विधानसभा चुनाव आदि के दौरान प्रतिनियुक्ति पर भेजे गए कार्मिकों को पुनः मूल विभाग में भेजा जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि फसल ऋण माफी योजना के तहत लाभार्थियों के नामों की सूची ग्राम पंचायत मुख्यालय, सोसाइटी तथा अटल सेवा केन्द्रों पर चस्पा की जाए।
पूर्ण सूचना के साथ बैठक में आएं अधिकारी
प्रभारी मंत्री ने कहा कि सम्बंधित विभाग बैठक में सारी सूचना के साथ पूर्ण तैयारी करके उपस्थित हों, विभाग से जुड़ी समस्त जानकारी अधिकारियों के टिप्स पर हों।
बैठक में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भंवरसिंह भाटी ने कहा कि भल्लूरी जीएसएस को पूरा करने में क्या समस्याएं आ रही है इसके लिए सक्षम अधिकारी मौके पर जाकर निरीक्षण करें तथा इस जीएसएस को जल्द पूर्ण करवाया जाए। उन्होंने कहा कि जिले भर में ढीले तारों की शिकायतों को देखते हुए विभाग कार्ययोजना बनाकर इस सम्बंध में कार्य करें। उन्होंने कहा कि देशनोक में सीवरेज लाइन चॉक होने से गंदा पानी लोगों के घरों में जाने की शिकायत मिल रही है। इसके निस्तारण के लिए नगर पालिका अधिकारी तुरंत प्रभाव से कार्यवाही करें।
बैठक में जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि जिले में गत पांच वर्षों में पहली बार मनरेगा के तहत श्रमिकों की संख्या 1 लाख से अधिक हुई। इसे और बढ़ाने की दिशा में काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में 189 गांव फसल खराबे से प्रभावित है। सर्वाधिक नुकसान खाजूवाला उपखंड में है जहां 60 में से 58 गांव प्रभावित है। जिले के 1 लाख 10 हजार किसान प्रभावित हुए हैं इनको मदद देने के लिए ऑनलाइन ट्रांसफर की व्यवस्था की जा रही है। प्रभारी मंत्री ने सूखा प्रभावित क्षेत्रों में रोजगार तथा पशुधन के लिए चारे आदि की पुख्ता व्यवस्था के निर्देश दिए।
बैठक में खाजूवाला विधायक गोविन्द चौहान, नगर निगम आयुक्त प्रदीप गवांडे, जिला प्रमुख सुशीला सींवर, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी, जिला परिषद की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रतिभा देवठिया, यशपाल गहलोत, महेन्द्र गहलोत, जियाउर रहमान आरिफ, राजकुमार किराडू, जावेद परिहार सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।
——
बीकानरे को मिलेंगे तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग
गडकरी ने किया छब्बीस सौ करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास
बीकानेर, 28 जनवरी। बीकानेर को तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग मिलेंगे। इन में प्रथम बीकानेर से सत्तासर तक दूसरा एनएच कोलायत बज्जू से बांसुरी तक तथा तीसरा राष्ट्रीय राजमार्ग सांखला फांटा से बज्जू होकर निकलेगा। यह घोषणा सोमवार को स्थानीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग परिवहन व जल संसाधन नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने की।
इस अवसर पर गडकरी ने 26 सौ करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली 534 किलोमीटर लम्बी सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। उन्होंने कहा कि बीकानेर शहर के अंदरूनी क्षेत्र में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए रोपवे पर भी विचार किया जाएगा। लोकार्पण और शिलान्यास समारोह में नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 5 बीकानेर से फलोदी तक बने सड़क का लोकार्पण किया। इस सड़क के निर्माण पर 822 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च हुए है। इस सड़क के कार्यों में चौड़ाईकरण का कार्य सहित अन्य निर्माण कार्य शामिल हैं। सड़क परिवहन मंत्री ने 1755.26 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले दो राष्ट्रीय राजमार्गों का शिलान्यास किया। इसमें 860. 26 करोड़ रुपए की लागत से अनूपगढ़, घड़साना, सत्तासर, सड़क चौड़ाईकरण करने का कार्य, जिस की कुल लंबाई 162 किलोमीटर से अधिक है, शामिल है। उन्होंने कहा कि सड़कों के सुदृढ़ीकरण हो जाने से यातायात और सुुलभ हो जाएगा तथा नई सड़कों के निर्माण से स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार के नए अवसर सृजित हो सकेंगे।
केंद्रीय मंत्री ने खाजूवाला पूगल खंड की 212 किलोमीटर लंबी सड़क का भी शिलान्यास किया। इस पर 895 रूपए का खर्च आएंगा। सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि विकास की राजनीति करना हमारी प्रथम प्राथमिकता है। गत 4 वर्षों में केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में विकास की गंगा बहाई गई है और आप सब लोग देखना कि राजस्थान में भी जो बड़े तालाब हैं वहां हवाई जहाज भी उतरेगा। साथ ही प्रदेश के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्ति को रोजगार मिले और किसान को उसकी खेती का पूरा पैसा मिले, इसके लिए सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में 3 नए राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण सहित स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल द्वारा बीकानेर के विकास के लिए दिए गए प्रस्ताव पर शीघ्र ही कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि बीकानेर में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए वेब कोर्ट के माध्यम से एक तकमीना बनाया जाएगा, जिसमें शहर के हेरिटेज रूट पर रोपवे के माध्यम से आम लोगों को गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जाएगा, इसमें प्रथम चरण में 10 किलोमीटर का एरिया चिन्हित किया जाएगा। जिसमें रेलवे स्टेशन से पीबीएम अस्पताल, शीतला गेट और हेरिटेज रास्ते पर यह रोपवे चलेगा। इस कार्य पर प्रथम चरण के लगभग 715 करोड रुपए खर्च होंगे और इसका किराया इतना रखा जाएगा कि आम आदमी इसका लाभ ले सकेगा। यह कार्य बीकानेर में मॉडल ट्रांसपोर्ट सल्यूशन के तहत विकसित किया जाएगा।
इस अवसर पर पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय मानकों तथा देश के विभिन्न शहरों में चल रहे रोपवे के बारे में बीकानेर शहर के आम लोगों को बताया गया कि किस तरह रोपवे से यातायात सुगम किया जा सकेाग। उन्होंने कहा कि इसके बनने से स्टेशन के आसपास बाजार भी विकसित होगा, जिससे स्थानीय लोगों के रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।
इस अवसर पर स्थानीय सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि सड़कों के लोकार्पण हो जाने से यातायात सुगम होगा और बीकानेर से जैसलमेर फलोदी तक का यात्रा का समय भी कम लगेगा। जिला मुख्यालय सहित बीच में आने वाले गांव के लोगों को भी इससे फायदा होगा। बीकानेर देश के लिए सामाजिक रूप से भी महत्वपूर्ण जिला है । इन सड़कों के बन जाने से सेना को फायदा होगा।
पॉलिटेक्निक कॉलेज के ग्राउंड में आयोजित समारोह में श्रम और रोजगार राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा कि सड़कों के बन जाने से यातायात सुगम हुआ है और देश में लोगों को रोजगार भी मिला है साथ ही व्यापार में भी बढ़ोतरी हुई है। इस अवसर पर गंगानगर सांसद निहालचंद मेघवाल सहित अन्य वक्ताओं ने विचार रखे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!