सिन्ध मिलकर अखण्ड भारत बनेगा – इन्द्रेष कुमार

भारतीय सिन्धु सभा की केन्द्रीय कार्यकारिणी बैठक जयपुर में सम्पन्न
24 मार्च – सिन्ध मिलकर अखण्ड भारत बनेगा इसलिये युवा पीढी में गौरव बढाने का कार्य सिन्धु सभा को करना है। परिवार को जोडने के लिये पारिवारिक सदस्यता करनी है, उक्त मार्गदर्शन भारतीय सिन्धु सभा केन्द्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय जयपुर में आयोजित बैठक में पालक अधिकारी इन्द्रेश कुमार जी ने दिया। उन्होने कहा कि राष्ट्रीय सिन्धी भाषा विकास परिषद के साथ प्रदेशों की अकादमियों को जोडकर भाषा व संस्कृति बढाने के प्रयास करने चाहिये। सिन्धु सभा को युवा, मातृशक्ति ईकाईयों के साथ छात्र कार्यकर्ताओं को कार्यक्रमों के माध्यम से जोडना है क्योंकि संगठन अब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जुड गया है। चेटीचण्ड व वर्ष प्रतिपदा मनाने सेे संस्कारों को बढावा मिलता है। बैठक की अध्यक्षता करते हुये राष्ट्रीय अध्यक्ष लक्षमणदास चंदीरामाणी ने कार्यकर्ताओं को देश के सभी राज्यों में ईकाईयों का पूर्ण गठन कर कार्य का विस्तार करना है। संगठन महामंत्री वासदेव वासवाणी ने कहा कि सभा के 40 वर्ष पूर्ण होने पर यह वर्ष सशक्तिकरण वर्ष को संगठन साधना वर्ष के रूप में कार्यक्रम आयोजित किये जायेगें जिसकी रचना करने के लिये आगामी 27 व 28 जुलाई को भोपाल में चिंितन शिविर किया जायेगा जिसमें देश भर से प्रमुख कार्यकर्ताओं से कार्यक्रमों की चर्चा करके वर्ष भर गतिविधियों के माध्यम से जोडने का कार्य होगा।
राष्ट्रीय मंत्री महेन्द्र कुमार तीर्थाणी ने बताया कि दो दिवसीय बैठक में केन्द्रीय पदाधिकारी, सभी प्रदेशों के प्रदेश अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री, कोषाध्यक्ष, संगठन मंत्री, युवा व महिला ईकाई के प्रदेशाध्यक्ष व प्रदेश मंत्री उपस्थित थे। बैठक का शुभारंभ भारत माता, ईष्टदेव झूलेलाल, सिन्ध व शहीद हेमू कालाणी के चित्र पर दीप प्रज्जवलन व माल्यार्पण कर किया गया। संगठन गीत जिलाध्यक्ष डाॅ. कैलाश शिवलाणी ने प्रस्तुत किया। स्वागत भाषण संभाग प्रभारी हीरालाल तोलाणी व आभार प्रदेशाध्यक्ष मोहनलाल वाधवाणी ने प्रकट किया।
राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष लधाराम नागवाणी व संगठन महामंत्री भगतराम छाबडिया सभी प्रदेशाध्यक्ष व केन्द्रीय पदाधिकारियों द्वारा की गई गतिविधियों पर विस्तार चर्चा की व संगठन वर्ष में विस्तार के लिये किये जाने वाले प्रवास कार्यक्रमों की रूपरेखा रखी। केन्द्रीय पदाधिकारियों को अलग अलग प्रदेशों के प्रभारी की जिम्मेदारी भी तय की गई।
बैठक में अलग अलग विषयों पर चर्चा हुई जिसमें गतिविधियों पर चर्चा महामंत्री भगवानदास सबनाणी, मातृशक्ति कार्यक्रमों पर डाॅ. मायाबेन कोडनाणी, निर्मला चावला, वीरू डूलाणी, वन्दना वजीराणी, थैलीसीमिया बीमारी रोकथाम पर थदाराम तोलाणी, मुरलीधर माखीजा ने सिन्धुदर्शन यात्रा कार्यक्रम, मुकेश लखवाणी व डाॅ. रोमा बजाज ने दो प्रस्ताव सिन्धु दर्शन यात्रा व सामूहिक परिवार को बढावा देने के रखे जिसे सभी ने पारित किया।

(महेन्द्र कुमार तीर्थाणी) राष्ट्रीय मंत्री, मो.9414705705

Leave a Comment

error: Content is protected !!