जल शक्ति अभियान को जन आनंदोलन बनाया जाए-जिला कलक्टर

बीकानेर, 11 जुलाई। देश में गहराते जल संकट के निवारण के लिए भारत सरकार की पहल पर राज्य सरकार के विभिन्न विभागों, जन प्रतिनिधियों स्वयसेवी संगठनों की व्यापक एवं सक्रिय भागीदारी से जिले के सभी खण्डों में जल शक्ति अभियान प्रारम्भ किया गया है।
जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने इस संबंध में गुरूवार को वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से जिले के उपखण्ड अधिकारियों और विकास अधिकारियों को जलशक्ति अभियान को जन आनंदोलन बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने जल शक्ति अभियान को लेकर की गई तैयारियों का अधिकारियों से फीड बैक लिया और कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारियों का दल सोमवार को बीकानेर आएगा। यह दल जिले में तीन दिन रहेगा और ब्लाॅक में जलशक्ति अभियान के बारे में जानकारी जुटाने और अधिकारियों और जन प्रतिनिधियों से चर्चा करेगा। उन्होंने कहा कि इस दौरान जिले के जलसंरक्षण प्लान को अंतिम रूप दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि यह दल सभी ब्लाॅक और जिला मुख्यालय पर बैठक आयोजित करेगा।
जिला कलक्टर ने जल संरक्षण एवं वर्षा जल संचयन, परम्परागत एवं अन्य जलाशयों का जीर्णोंद्धार, बोरवेल रिचार्ज स्ट्रक्चर्स का रियूज, जलग्रहण क्षेत्र विकास, सधन वृक्षारोपण के कार्य के संबंध में संबंधित विभागों को द्वारा तैयार जिले के प्लान के बारे में जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण करना आज की आवश्यकता है। इस संबंध में जन सहयोग,जनप्रतिनिधियों और स्वयं सेवी संस्थाओं का सहयोग लिया जाए। उन्होंने जलसंक्षण के लिए एक रणनीति के तहत कार्य करने और पुराने तालाबों का सुदृढ़ीकरण तथा तालाबों में पानी की आवक में बने अवरोधों के बारे में इस दौरान जानकारी ली।
इस अभियान के तहत जिले के प्रत्येक ब्लाॅक में प्रधानमत्री आवास योजना के तहत जो आवास बन रहे हैं, उनमें टांका निर्माण के काम समय रहते स्वीकृत किए जाए। जिन विभागों में जल संरक्षण के संबंध में काम चल रहे है, उनके काम इस प्रोजेक्ट में शामिल हुए है या नहीं की भी विभागीय अधिकारियों से जानकारी भी ली।
जल शक्ति अभियान में इन विभागों की रहेगी विशेष भूमिका-जिले में जल शक्ति अभियान में ग्रामीण विकास,इंदिरा गांधी नहर परियोजना,सिंचाई,सिंचित क्षेत्र विकास विभाग,कृषि एवं बागवानी,वन, वाटर शैड, नगर निगम,नगर विकास न्यास,भू-जल,स्वच्छ भारत मिशन आदि विभागों की विशेष भूमिका रहेगी।
जल बचत के लिए होंगे सामूहिक प्रयास- गौतम ने अधिकारियों से कहा कि जल शक्ति अभियान के लिए आमजन को पानी के प्रति सजग करने के साथ ही जल संरक्षण एवं संचय का संदेश दिया जायेगा। अतः इस संबंध में गांव-ढाणी व नगरीय क्षेत्र में व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए।
जल शक्ति अभियान की सफलता के लिए जिला कोर ग्रुप गठित- जिले में जल शक्ति अभियान के प्रभावी एवं सफल क्रियान्वयन के लिए जिला कोर ग्रुप का गठन किया गया है। जिला कलक्टर की अध्यक्षता में गठित इस कोर ग्रुप में संयोजन तथा 19 सदस्य होंगे।
इस ग्रुप में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी संयोजक तथा अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकार, उप वन संरक्षक, अधीक्षण अभियंता आईजीएनपी, अधीक्षण अभियंता सीएडी, अधीक्षण अभियंता पीएचईडी, अधीक्षण अभियंता जविभूस, अधिशाषी अभियंता जल संसाधन मेडता, वरिष्ठ भूजल वैज्ञानिक भू जल विभाग, क्षेत्रीय उपनिदेशक स्थानीय निकास विभाग, आयुक्त नगर निगम, सचिव नगर विकास न्यास, संयुक्त निदेशक कृषि, उपनिदेशक कृषि, उपनिदेशक उद्यान, जिला परियोजना समन्वयक राजीविका, जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन, प्राचार्य राजकीय डूंगर महाविद्यालय, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, अधिशाषी अभियंता मनरेगा जिला परिषद को सदस्य बनाया गया है।
जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि जिला स्तरीय कोर ग्रुप की बैठक में जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संगठनों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, नेहरू युवा केन्द्र, जिला स्तरीय एनसीसी/एनएसएस, स्काउट एवं गाइड के अधिकारी भी विशेष आमंत्रित सदस्यों के रूप में भाग लेंगे।
—–
खरीफ फसल में से दो समूह में चलेगा सिंचाई के लिए पानी
बीकानेर,11 जुलाई। आयुक्त सिंचित क्षेत्र विकास तन्मय कुमार ने इंदिरा गांधी नहर परियोजना की नहरों को खरीफ फसल के दौरान 12 जुलाई सुबह 6 बजे से 15 जुलाई सुबह 6 बजे तक 4 समूह में से 2 समूह में पानी सिंचाई के लिए चलाने जाने का चक्रीय कार्यक्रम जारी किया है। उन्होंने इंदिरा गांधी नहर परियोजना को खरीफ फसल 2019 हेतु 4 समूहों में विभक्त कर एक समय मंे से 2 समूहों में चलाकर सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने के प्रस्तावों का अनुमोदन किया है।

Leave a Comment