राजा दाहर सेन पर शोध करने सहित हुए कई अहम फैसले

बीकानेर । अखिल भारतीय पुष्टिकर सेवा परिषद की कार्यकारिणी की बैठक राष्‍ट्रीय अध्यक्ष प्रकाश छंगाणी की अध्यक्षता में जनेश्‍वर भवन में सम्पन्न हुई। इस अवसर पर छंगाणी ने युवाओं को रोजगार, महिलाओं में लघु उद्योग, स्वरोजगार, स्वास्थ्य बीमा योजना व कमजोर वर्ग के परिवारों को वितीय सहायता देने संबंधी योजनाओं को गति देने की बात कही।
संगठन प्रकोष्ठ के आर. सी. पुरोहित ने परिषद के संगठनात्मक ढांचे को मूर्तरूप देने का आग्रह किया। उपाध्यक्ष गोपाल कूड ने परिषद की 1962 से आज तक की यात्रा का वर्णन करते हुए कहा कि गत वर्षों की शिथिलता के बाद हमें अब शीघ्र गति से काम करना चाहिये। उपाध्यक्ष कैलाश पुरोहित ने समाज के छात्रों के लिये पुस्तकालय एवं बुक बैंक में अपनी तरफ से पूर्ण सहयोग करने की घोषणा की। महामंत्री राजेन्द्र पुरोहित ने गत बैठक के विवरण का सदन से अनुमोदन करवाया।
कोषाध्यक्ष महेश पुष्‍करणा ने आय व्यय का लेखा जोखा प्रस्तुत करते हुए एक स्थाई कोष के निर्माण का आग्रह किया। डॉ. एल. एन. हर्ष ने समाज के युवाओं के लिये निःशुल्क कोचिंग सेन्टर व्यवस्था का प्रारूप प्रस्तुत किया। तारानगर के डॉ. अर्जुन आचार्य एवं बीकानेर के मोहन थानवी ने राजा दाहिर सेन पर शोध करने का आग्रह किया। महिला सशक्तिकरण की संयोजिका संध्या पुरोहित, प्रेरणा पुरोहित, शुभलक्ष्मी, संगीता व्यास आदि ने महिलाओं के विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी। राष्‍ट्रीय युवा प्रकोष्‍ठ अध्यक्ष त्रिलोक नारायण पुरोहित ने युवाओं की भागीदारी अधिक बढाने पर जोर दिया। उन्‍होंने कोचिंग सेन्टर के लिये निःशुल्क भवन उपलब्ध कराने की घोषणा की।
राष्ट्रीय महिला प्रकोष्‍ठ अध्यक्ष डॉ. बसन्ती हर्ष ने समाज में व्याप्त कुरीतियां मिटाने एवं महिलाओं व बच्‍चों में संस्कार प्रदान योजना का प्रारूप प्रस्तुत किया। पुरुषोत्‍तम मापारा, डॉ. बाल नारायण पुरोहित, योगेश बोहरा, मनीष पुरोहित सहित अन्य प्रतिभागियो ने पुष्‍करणा सन्देश को घर-घर पहुंचाने, कलेवर बदलने एवं इसकी सदस्यता बढाने पर अपने विचार रखे। सुमन ओझा, के.के. कल्ला, रास बिहारी जोशी, डॉ. मधुसूदन व्यास, डॉ. कमला कल्ला, डॉ. विजयलक्ष्मी व्यास, राजेन्द्र पुरोहित, कन्‍हैया लाल जोशी, नवल जोशी, सीमा थानवी, सुशील आचार्य सहित अन्य लोगों ने भी परिषद् के विभिन्न कार्यकलापों पर अपने विचार रखे। बैठक का संचालन राष्‍ट्रीय महामंत्री डॉ. एस. एन. हर्ष ने किया।

-✍️ मोहन थानवी

Leave a Comment

error: Content is protected !!