केन्द्र को कोसने की बजाए अपनी गिरेबान में झांके गहलोत-देवनानी

प्रो. वासुदेव देवनानी
जयपुर, 30 जून।
प्रदेश में आसमान छूते पेट्रोल-डीजल के भावों को लेकर पूर्व शिक्षा मंत्री एवं अजमेर उत्तर विधायक वासुदेव देवनानी ने राजस्थान सरकार पर निशाना साधा है। राज्य के मुख्यमंत्री को आडे. हाथों लेते हुए देवनानी ने कहा कि गहलोत पेट्रोल डीजल महंगे होने के मामले में केन्द्र को कोसने की बजाए पहले अपनी गिरेबान में झांके। वे सस्ती राजनीति करने के स्थान पर प्रदेश में पेट्रोल डीजल तेल पर लग रहे भारी भरकम वैट को तुरंत प्रभाव से कम कर प्रदेश की जनता को सही मायने में राहत दें।
देवनानी ने कहा कि राज्य में डेढ साल में कांग्रेस सरकार द्वारा पेट्रोल व डीजल पर 10 से 12 प्रतिशत वैट की बढोत्तरी करना जग जाहिर है। अभी प्रदेश में पेट्रोल पर करीब 38 व डीजल पर करीब 28 प्रतिशत तक वैट है जो वर्तमान में हरियाणा, गुजरात जैसे कई राज्यों से ज्यादा है। देवनानी ने कहा कि तेल के भावों को लेकर केन्द्र को कोसने के बजाए गहलोत अपनी जिम्मेदारी भी समझे और प्रदेश में लग रहे भारी भरकम वैट को कम कर हरियाणा और गुजरात की भांति आठ-नौ रूपये तक सस्ता पेट्रोल डीजल तेल जनता को उपलब्ध कराये।
देवनानी ने कहा कि यह कांग्रेस का दौहरा चरित्र ही है। कांग्रेस एक तरफ विरोध रैली कर रही है वहीं दूसरी ओर कांग्रेस शासित राज्यों में भारी भरकम वैट लगाकर पेट्रोल डीजल के महंगे भाव जनता से वसूल रही हैं। कांग्रेस की इस नौटंकी को प्रदेश की जनता अच्छे से समझ रही है। कांग्रेस ऐसा कर अखबारों की सुर्खियां तो बटोर सकती है लेकिन समझदार जनता को गुमराह नहीं कर सकती।
मोदी जी का आभार
आगामी पांच माह नवम्बर तक देश के 80 करोड लोगों को मुक्त में हर माह पांच-पाॅच किलो अनाज और प्रत्येक परिवार को एक किलो दाल देने की घोषणा करने पर देवनानी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। देवनानी ने कहा कि भाजपा ‘सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास’ के विचार पर काम कर रही है। उसका हमेशा से ही प्रयास रहा है कि देश के गरीब, शोषित, वंचित व पीडित जनता का सतत विकास हो। कोरोना संकट के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा मुक्त में अनाज देने की यह योजना निश्चित ही जरूरतमंदों को राहत देने वाली है।
डिजिटल स्ट्राइक से चीन को मूंहतोड जवाब
देवनानी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी दुश्मनों को उसकी भाषा में जवाब देने में माहिर है। मोदी द्वारा पहले सर्जिकल स्ट्राइक, उसके बाद पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक और अब 59 चीनी एप्प को देश में वैन कर डिजिटल स्ट्राइक करना इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। डिजिटल स्ट्राइक चीन को उसकी भाषा में जवाब है। मोदी के 59 चीनी एप्प को वैन करने के निर्णय से न केवल चीन को आर्थिक नुकसान होगा बल्कि भारत डिजिटल क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर भी कदम बढायेगा। मोदी का यह कदम 130 करोड देशवासियों में एक प्रकार से सकारात्मक उर्जा भरने वाला है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!