पूर्व सांसद जैन ने किया नवग्रह आश्रम का अवलोकन

शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी)
पाली के पूर्व सांसद व महावीर इन्टरनेशनल के पूर्व अंर्तराष्ट्रीय अध्यक्ष, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्प जैन ने आज मोतीबोर का खेड़ा स्थित श्रीनवग्रह आश्रम पहुंच कर वहां हो रही मानवता की सेवा के कार्यो का अवलोकन किया। उनके साथ प्रदेश के पूर्व मंत्री तथा मेवाड़ जाट महासभा के अध्यक्ष डा. रतनलाल जाट भी मौजूद रहे।
पूर्व सांसद जैन ने आश्रम में केंसर सहित अन्य बिमारियों के उपचार के लिए किये जा रहे कार्यो के बारे में आश्रम संस्थापक हंसराज चोधरी से विस्तार से जानकारी लेने के बाद कहा कि मानवता के इस प्रकार के पुनित कार्यो में महावीर इन्टरनेशनल की ओर से हर संभव सहयोग किया जायेगा।
आश्रम के स्वयंसेवकों से चर्चा करने के बाद पूर्व सांसद पुष्प जैन ने कहा कि स्वयंसेवकों को आत्मनिर्भर भारत के महावीर इंन्टरनेशनल की ओर से स्किल डवलपमेंट कार्य योजना में जोड़ा जायेगा ताकि इसका लाभ देश व दुनियां के सुदूर अंचलों तक पहुंच सके। महावीर इन्टरनेशन आज अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर कार्य कर रही है। इसके अलावा अन्य सामाजिक संगठनों कों भी आश्रम के सेवा कार्यो से जोड़ा जायेगा।
पुष्प जैन ने कहा कि जरूरतमंद व्यक्ति सेवा करने से ही मानवता की सच्ची सेवा है। जीवन में तनाव मुक्त होने के लिए त्याग की भावना सर्वाेपरी है जो सेवा को जीवन में अंगीकार करना ही महावीर इन्टरनेशनल का उदेश्य है। उन्होंने कहा कि महावीर विकलांग सेंटर ने मानवता की वह मिसाल पैदा की हैं, जो अन्य संगठनों और संस्थाओं के लिए प्रेरणा स्रोत हैं।
पूर्व मंत्री डा. जाट ने नवग्रह आश्रम को न केवल मेवाड़ परन आज अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति वाला बताते हुए कहा कि आज आश्रम ने भीलवाड़ा जिले को ही पहचान दी है। आश्रम में आयुर्वेद व औषधीय पौधों से रोगोपचार से लाखों रोगी लाभान्वित हो चुके है। उन्होंने कहा कि वो स्वयं केंद्र सरकार तक आयुर्वेद के उत्थान के लिए कार्य योजना बढ़ाने पर अपनी बात को रखेंगें।
दोनो नेताओं ने नवग्रह गौदर्शन गौशाला व नवग्रह आयुष विज्ञान मंदिर का अवलोकन करते हुए कहा कि गौ सरंक्षण का यह बेमिसाल उदाहरण है। जहां देशी नस्ल की गायों का संरक्षण व संर्वधन किया जा रहा है। आज यहां 14 नस्लों की गायों का होना ही बहुत बड़ी बात है। यह जनून के बिना हो नहीं सकता है।
नवग्रह आश्रम के निदेशक मनफूल चोधरी ने दोनो नेताओं को आश्रम की गतिविधियों का अवलोकन कराने के साथ आश्रम द्वारा सामाजिक सरोकारों के तहत किये जाने वाले कार्यो के बारे में विसतार से बताया। जिस पर उन्होंने प्रसन्नता जतायी। आश्रम संस्थापक हंसराज चोधरी ने दोनो अतिथियों का स्वागत करते हुए उनको आश्रम का साहित्य भेंट किया।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!