सेवानिवृत अधिकारी भूतपूर्व सैनिकों से जमीन आवंटन के मामले में मांग रहा था रिश्वत, एसीबी ने दलाल समेत पकड़ा

जयपुर स्थित बापू नगर आवास से मिले 8 लाख रुपए नकद मिले है। इसके अलावा
बाड़मेर ,जैसलमेर अन्य जिलों में बने आवासों पर भी छापे मारे है।
बाड़मेर बीकानेर में अतिरिक्त आयुक्त उपनिवेशन के पद से हाल में सेवानिवृत
हुए आरएएस अधिकारी प्रेमाराम परमार को पांच लाख की रिश्वत लेते देर रात
एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम ने बाड़मेर में पकड़ा है। इसके बाद टीम ने इस
अधिकारी के जयपुर, जोधपुर, जैसलमेर सहित कई ठिकानों पर रातभर छापे मारे
और नकदी, गहने और अचल सम्पत्तियों के दस्तावेज बरामद किए है। जयपुर स्थित
आवास पर छापे के दौरान इस अधिकारी के घर से 8 लाख रुपए बरामद हुए है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ये अधिकारी 31 अक्टूबर को
कॉलोनाइजेशन डिपार्टमेंट से एडिशनल कमिश्नर पद से सेवानिवृत्त हुआ था।
जमीन आवंटन के मामलों में चल रही पुरानी फाइलों को बैकडेट में क्लीयर
करने के मामले में ये अधिकारी एक दलाल नजीर खान के जरिए 5 लाख की लेते
हुए पकड़ा है।

तीन ठिकानों पर मारे छापे
एसीबी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अधिकारी प्रेमाराम को पकड़ने के
बाद उसके जोधपुर, जैसलमेर और बाड़मेर जयपुर आवास पर भी छापे मारे गए है।
जयपुर स्थित आवास से लगभग 8 लाख रुपए की नकदी बरामद होने की सूचना है।
इसी तरह जोधपुर आवास से 7.72 लाख की नकदी, 15 लाख रुपए के गहने, जालौर
में पत्नी के नाम से एग्रीकल्चर लैंड के कागजात बरामद हुए है। इसके अलावा
एलएण्डटी कंपनी के शेयर, साले के नाम से 65 लाख रुपए का फ्लैट और 30 लाख
रुपए से अधिक के कीमती आइटम बरामद भी बरामद हुए।

महंगी शराब पीने का है शौक
अधिकारी के जोधपुर आवास में सर्च के दौरान बड़ी तादाद में मिली विदेशी और
महंगी शराब की बोतलें भी मिली है। बताया जा रहा है कि इस मामले में
एक्साइज एक्ट के तहत प्रेमाराम के खिलाफ प्रकरण भी दर्ज करवाया गया है।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!