स्वाभिमान और दृढ़ता की उपेक्षा होगी घातक:किरण माहेश्वरी

उदयपुर। भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव व विधायक किरण माहेश्वरी ने कहा कि कांग्रेस सरकार की विदेश नीति में दुर्बलता और राष्ट्रहितों की अनदेखी से देश की सुरक्षा प्रभावित हो रही है। स्वाभिमान और दृढ़ता की उपेक्षा अत्यंत घातक होगी। स्वामी विवेकानंद की 150वीं जयंती पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि विवेकानंद की वाणी अक्षय ऊर्जा की भण्डार है। किरण मृगेन्द्र भारती द्वारा आयोजित विवेक वाणी संगोष्ठी को संबोधित कर रही थी।
किरण ने कहा कि अभय रहने, साहसी बनने और लक्ष्य के प्रति सतत चेष्टा स्वामी विवेकानन्द का सबसे महत्वपूर्ण संदेश है। स्वामी जी ने कहा था कि पवित्रता, दृढ़ता और उद्यमशीलता ये तीनों गुण ही देश को आगे बढ़ा सकते है।
किरण ने पाकिस्तान द्वारा भारतीय जवानों पर किए गए बर्बर एवं अमानुषिक अत्याचारों पर केन्द्र सरकार की संवेदना शून्य टिप्पणी पर गहरा रोष व्यक्त किया। पाकिस्तान एक चरमपंथी, अलोकतांत्रिक एवं असहिष्णु सामाजिक संरचना का देश है। उससे उसी भाषा में बात की जानी चाहिए। पाकिस्तान ने भारतीय जवानों के सिर काट कर देश के स्वाभिमान को चुनौती दी है।
संगोष्ठी में मृगेन्द्र भारती के अध्यक्ष डा. कैलाश सोडाणी, महासचिव डॉ. सत्यनारायण माहेश्वरी, प्रवक्ता अनिल चतुर्वेदी, राजेश शर्मा, गोविन्द दीक्षित, चेतन सनाढ़्य, विरेन्द्र बापना, जगदीश देवपुरा, के.एल. समदानी, नरेन्द्र पोरवाल, चेतन लुणदिया, योगेश पोखरणा, इन्दरसिंह मेहता, अनिता दरक ने भी स्वामी विवेकानन्द पर विचार व्यक्त किए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!