निषाद समाज का विकास ही लक्ष्य, लेंगे हर उचित फैसला: मुकेश सहनी

2नवादा, 11.11.2017 : हमारा प्राथमिकता निषाद समाज तथा इसकी सभी उपजातियों को आरक्षण दिलाना है. इसके लिए हमने 2015 से अबतक सभी तरह के प्रयास किए हैं. अगले साल के मध्य तक आरक्षण पर केंद्र व राज्य सरकार के फैसले की स्थिति साफ़ हो जाएगी. उसके बाद हम समाजहित में कोई बड़ा फैसला लेंगे. उक्त बातें निषाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सन ऑफ़ मल्लाह श्री मुकेश सहनी ने नवादा में समाज की बैठक को संबोधित करते हुए कहा.
अपने 3 दिवसीय बिहार भ्रमण के दौरान सन ऑफ़ मल्लाह ने शनिवार को नवादा में नोनिया समाज के लोगों के साथ बैठक की. बैठक में निषाद/मल्लाह/बिंद/नोनिया तथा मल्लाह समाज की सभी उपजातियों के उत्थान के लिए सभी आवश्यक पहलुओं पर विचार किया गया.नवादा ने निषाद विकास संघ के संगठन विस्तार का कार्य किया जा रहा है. इसका लक्ष्य विधानसभा से पंचायत स्तर तक पदाधिकारियों की नियुक्ति कर निषाद समाज का एकात्मक संगठन बनाने की है. समाज के लोग भी पुरे उत्साह के साथ सन ऑफ़ मल्लाह का साथ दे रहे हैं.
बैठक में आम सहमति से नवादा में संघ की कमिटी का गठन किया गया. आम सहमति से ही कमिटी के सभी पदों पर पदाधिकारियों की नियुक्ति की गई. आगे तीव्र गति से सभी स्तर पर कमिटी का गठन किया जाएगा.
बैठक में सन ऑफ़ मल्लाह की अध्यक्षता में एकजुट होकर कार्य करने तथा आगे बढ़ने पर आम सहमती बनी. ज्ञात हो कि सन ऑफ़ मल्लाह के नेतृत्व में निषाद विकास संघ द्वारा पुरे बिहार में निषाद समाज के उत्थान के कार्य किए जा रे हैं. अभी तक राज्य में डेढ़ लाख पदाधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है. साथ ही तीन लाख पदाधिकारियों की नियुक्ति का लक्ष्य पूरा करने की दिशा में युद्ध स्तर पर कार्य किए जा रहे हैं.
बैठक में संघ के जिलाध्यक्ष श्री सुबेलाल चौहान, जमुई जिलाध्यक्ष श्री गीता बिंद, मुंगेर जिलाध्यक्ष श्री गौतम बिंद, श्री रवि चौहान, श्री बीरेंद्र चौहान, श्री रामइकबाल चौहान, श्री पप्पू चौहान, श्री जमुना चौहान, श्री रामबालक चौहान, श्रीमती मालती देवी, श्री नंदकिशोर चौहान, श्री अनिल चौहान, श्री अमीरक चौहान, श्री विशुनदेव चौहान, श्री सिद्धू चौहान, श्री धर्मेंद्र चौहान, श्री श्रवण कुमार निराला, श्री विद्याभूषण केवट, श्री राजकुमार मल्लाह, श्री सत्यनारायण चौहान तथा श्री दिनेश बिंद सहित नोनिया समाज के भाई-बंधू उपस्थित रहे.

Leave a Comment