वृद्ध रोगी के दोनों गुर्दों से एक साथ निकाली पथरी

मित्तल हॉस्पिटल के यूरोलोजिस्ट डॉ. कुलदीप शर्मा ने किया ट्यूबलेस पीसीएनएल तकनीक से ऑपरेशन

Dr Kuldeep Sharma
अजमेर, 13 सितम्बर( )। सूरजगढ़, रियांबड़ी नागौर निवासी वृद्ध रोगी उमराव अली के दोनों गुर्दों में स्थित पथरी एक ही बार में दूरबीन तकनीक से निकाल दी गई। मित्तल हॉस्पिटल के यूरोलोजिस्ट डॉ. कुलदीप शर्मा ने सीनियर कार्डियोलोजिस्ट डॉ. राहुल गुप्ता एवं नेफ्रोलोजिस्ट डॉ रणवीरसिंह चौधरी की मौजूदगी में अत्याधुनिक तकनीक से यह जटिल ऑपरेशन किया।
रोगी को पूर्व में हार्ट अटैक आ चुका था और उसके दोनों गुर्दे भी स्वस्थ रूप से काम नहीं कर रहे थे, ऐसी अवस्था में दोनों गुर्दें से पथरी का एक साथ निकाला जाना बहुत ही जटिल था किन्तु मित्तल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में एक ही छत के नीचे सभी सुपरस्पेशियलिटी चिकित्सा सेवाओं यथा कार्डियोलोजिस्ट एवं नेफ्रोलोजिस्ट के एक साथ होने तथा अत्याधुनिक तकनीक व संक्रमण रहित ऑपरेशन थियेटर की उपलब्धता से यह संभव हो सका। रोगी को ऑपरेशन के दो दिन बाद ही स्वस्थ अवस्था में मित्तल हॉस्पिटल से घर के लिए छुट्टी दे दी गई है।
रोगी के पुत्र इमरान के अनुसार उसके पिता को 4 माह पहले हार्ट अटैक आया था। हॉस्पिटल में भर्ती कर उनकी आवश्यक जांचें कराई र्गइं जिसमें उनके रक्त में अशुद्धि यानी क्रिएटिनिन बढ़े होने की जानकारी मिली। सोनोग्राफी कराए जाने पर उनके दोनों ही गुर्दों में स्टोन होने का पता चला। इसमें दाएं गुर्दे में स्टोन करीब 27 एमएम का था और बाएं गुर्दे में स्टोन 11 एमएम का था। रोगी का कार्डियोलोजिस्ट डॉ राहुल गुप्ता एवं नेफ्रोलोजिस्ट डॉ. रणवीरसिंह चौधरी की परामर्श से उपचार शुरू किया गया। इमरान ने बताया कि दोनों गुर्दों में पथरी के कारण उन्हें परेशानी होने लगी थी। उसके पिता अलग-अलग ऑपरेशन होने के डर से घबराए हुए थे, इस समस्या का एक ही बार की सजर्री में छुटकारा चाहते थे। रोगी की अवस्था को देखते हुए एक साथ दोनों गुर्दों से पथरी का बिना चीरे के दूरबीन तकनीक से निकाला जाना मुश्किल था। अन्य हॉस्पिटल में उन्हें दोनों गुर्दों से एक समय में पथरी निकालने के लिए मना कर दिया गया था। आखिर मित्तल हॉस्पिटल के यूरोलोजिस्ट डॉ. कुलदीप शर्मा ने रोगी का ट्यूबलेस पीसीएनएल तकनीक से ऑपरेशन कर पथरी निकाल दी।
बकौल डॉ. कुलदीप शर्मा पीसीएनएल (परक्यूटेनियस नेफ्रोलियोथोटॉमी ) तकनीक में ट्यूब डालनी होती है, किन्तु उन्होंने बिना ट्यूब डाले दूरबीन से एक ही बार में दोनों गुर्दों की पथरी को निकाल दिया। उन्होंने बताया कि ऑपरेशन में करीब दो घंटे का समय लगा। इस दौरान सभी आवश्यक सतर्कता बरती गई।
डॉ. कुलदीप शर्मा ने बताया कि सामान्य तौर पर गर्मी के दिनों में रोगियों को पथरी की समस्या होती है क्यों कि गर्मियों में बार-बार पसीना निकलता है, मूत्र का बनना कम हो जाता है। मूत्र कम बनने से सांद्रता बढ़ जाती है, जिससे क्रिस्टल बनना शुरू हो जाते हैं और यही क्रिस्टल आपस में जुड़ कर पथरी बन जाते हैं।
डॉ कुलदीप ने बताया कि अब जबकि मौसम में ठण्डक है, सर्दियों का सा मौसम होने लगा है इन दिनों पसीना कम आता है तो शरीर में मूत्र अधिक बनने लगता है। बार-बार मूत्र के निष्कासन के कारण मूत्र मार्ग में संक्रमण के रोगी इन दिनों बढ़ने लगे हैं। उन्होंने कहा यद्यपि पुरुषों में मूत्र मार्ग के संक्रमण की समस्या कम होती है फिर भी यदि ऐसा है तो उसकी तुरंत जांच करानी चाहिए। महिलाओं में मूत्र मार्ग का संक्रमण विभिन्न कारणों से हो जाता है, समुचित उपचार नहीं लेने पर संक्रमण बार-बार होने तथा रोग के बढ़ने की समस्या हो जाती है।
डॉ कुलदीप ने बताया कि अच्छे खान-पान, हाई फाइबर डाइट लेने एवं नियमित अंतराल में पानी पीने तथा घर में और बाहर बाथरूम वगैरहा में साफ सफाई, स्वच्छता का ध्यान रखने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि मित्तल हॉस्पिटल में पथरी, प्रौस्टेट एवं मूत्र रोग से संबंधित सभी तरह के ऑपरेशन की सुविधाएं उपलब्ध हैं।
उल्लेखनीय है कि मित्तल हॉस्पिटल अजमेर संभाग का एकमात्र एनएबीएच मान्यता प्राप्त हॉस्पिटल है, जहां एक ही छत के नीचे हृदय रोग, गुर्दा रोग, कैंसर रोग, पथरी, प्रोस्टेट व मूत्र रोग, ब्रेन व स्पाइन रोग आदि सभी सुपरस्पेशियलिटी चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं।
निदेशक मनोज मित्तल ने बताया कि राज्य सरकार की भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत सुपरस्पेशियलिटी स्वास्थ्य सेवाओं में उपचार के लिए अधिकृत मित्तल हॉस्पिटल अब तक 2000 से अधिक जरूरतमंद निर्धन पीडि़तों को निःशुल्क स्वास्थ्य लाभ पहुंचा चुका है। इन पीडि़तों को हृदय रोग से संबंधित एंजियोप्लास्टी, पेसमेकर, बाईपास व वाल्व सर्जरी, कैंसर सर्जरी, नाड़ी रोगों से संबंधित ब्रेन हेमरेज, ब्रेन ट्यूमर, सिर व रीढ़ की हड्डी में चोट, यूरोलोजी में पथरी, प्रौस्टेट व मूत्र रोग से संबंधित ऑपरेशन, गुर्दा रोगियों के डायलिसिस आदि की चिकित्सा सुविधा एवं सेवाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

सन्तोष गुप्ता/प्रबंधक जनसम्पर्क/9116049809

Leave a Comment

error: Content is protected !!