ब्याज के धंधे पर रोक की मांग

अजमेर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस खेलकूद प्रकोष्ठ प्रदेश महासचिव वह मानव अधिकार परिषद के प्रदेश अध्यक्ष शैलेश गुप्ता ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर अजमेर जिले में वर्षों से खुलेआम जो ब्याज पर अवैध रूप से पैसा देते हैं उन पर कानूनी कार्रवाई करते हुए रोक लगाने की मांग की है कांग्रेस नेता शैलेश गुप्ता ने कहां की आए दिन समाचार पत्रों में व आम जनता से पता चलता है कि ब्याजखोरो से परेशान होकर अमुक आदमी ने आत्महत्या कर ली है। शैलेश गुप्ता ने कहा कि ब्याज दरों को कानून का कोई डर नहीं है वह भोली भाली जनता को सब्जबाग दिखाकर के कागजों पर दस्तखत करा लेते हैं ऐसे कागजों पर हस्ताक्षर करते हैं जो नियम वह भी पूरा कर ही नही सकते हैं ।ब्याजखोरो से जितना आदमी द्वारा मूल रकम ली जाती है उससे कई गुना तो वह जमा करा चुके होते हैं फिर भी मूल रकम वैसी की वैसी पूरी बाकी रहती है। आजकल तो फाइल सिस्टम से ब्याज दिया जाता है जिस पर रोजाना ब्याज लगता है 1 दिन आपने किश्त नही भरी तो ब्याज पर भी ध्यान देना पड़ता है ब्याज लेने वाला व्यक्ति इनके चंगुल में इतनी बुरी तरह फस जाता है कि उसे अंत में मौत को गले लगाना पड़ता है ।ये लोग उसको इतना परेशान कर देते है
शैलेश गुप्ता ने कहा कि मेरे द्वारा संपर्क पोर्टल व पुलिस अधीक्षक को पूर्व में भी पत्र 21-2-19 को लिखा गया परंतु उस पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई ।

Leave a Comment