अजमेर लेखिका मंच की शानदार संगोष्ठी और कवि गोष्ठी

राष्ट्रीय पुस्तक न्यास भारत {एनबीटी }इंडिया मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार एवं निजी प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में चल रहे पुस्तक मेले में पटेल मैदान के बड़े पांडाल में बुधवार 17 अप्रैल को अजमेर लेखिका मंच द्वारा शानदार काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया।। काव्य गोष्ठी मे पडांल भरा हुआ था खचाखच और लोगों के बैठने की और समय की कमी का अभाव महसूस हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे श्री राधे चोयल जो एक उद्योगपति तो है ही उसके साथ साथ उनके द्वारा 10 पुस्तकें भी लिखी गई है ।और वे पुस्तके उन्होंने मोटिवेशन पर लिखी है ।।कार्यक्रम की दूसरी मुख्य अतिथि रही बीके रूपा बहन और विशिष्ट अतिथि के रूप में श्वेता ब्रझवर उपस्थित र्रहां जो एक बुद्धिज्म की बहुत अच्छी पुस्तकों की लेखिका है ।।कार्यक्रम का आगाज मोही माथुर मंच की जो सबसे छोटी सदस्या है उसके द्वारा किया गया ।।कार्यक्रम का संचालन अजमेर लेखिका मंच की संयोजिका श्रीमती मधु खंडेलवाल द्वारा किया गया ।कविताओं और रचनाकारों के द्वारा अलग-अलग विषय पर जब कविता और रचनाएं सुनाई जाने लगी तो पूरा पंडाल तालियों की गड़गड़ाहट से अंतिम कविता तक चलता रहा।। कविता अग्रवाल ने स्मार्टफोन पर जब अपनी एक कविता गुनगुनाए तो हंसी से सभी लोग लोटपोट हो गए।। उसी बीच ध्वनि मिश्रा की ग़ज़ल किस हसरत का एक कर्जा है तू ने जी भर कर तालियां बटोरी।। माहौल में ऐसी गुदगुदाहट रही सभी को कविताएं सुनने और बोलने की जैसे किसी ने स्वयं के दिल का दर्द ही निकाल कर रख दिया हो ।।इसी दौरान श्रुति गौतम द्वारा लड़कियां कैसी होनी चाहिए सुनकर लोग तालियां बजा उठे थे ।।कविता जोशी की पहली कविता पुस्तक मित्र पुस्तक मेले में सुनाए जाने पर पुस्तक मेले की सार्थकता सिद्ध हो उठी डॉ रीना व्यास ने मेरा अपना मन कविता सुनाई वहीं रशिका महर्षि ने समाज विकसित हो रहा है सुना कर लोगों की खूब तालियां बटोरी ।।कार्यक्रम में डॉ दीपा अग्रवाल ,अरुण माथुर कमला गोकलानी, सोनू सिंगल ,अनीता खुराना पूजा तवर ,विनीता बाड़मेरा ,शिखा शर्मा सीमा शर्मा , अंबिका हेड़ा, काजल खत्री सृष्टि ,नीलिमा ,नंदिता रवि चौहान, रेखा जैन सबा खान, उषा त्रिपाठी, रेखा भाटिया ,भारती प्रकाश चेतना उपाध्याय ,पूजा (हाडी रानी बटालियन से) ने भी कविताओं को समय की बाध्यता को देखते हुए संक्षिप्त में अपना कविता पाठ किया तथा अन्य बड़े साहित्यकारों में उमेश चौरसिया जी अतिथियों में शिखा शर्मा सुरेश कासलीवाल जी नीता टंडन ,अल्का भाटी ,और अजमेर शहर के कई अन्य प्रतिष्ठित लेखक और सज्जन वहां मौजूद थे जिन्होंने लेखिका मंच को भरपूर तालियां और जोश नवाजा।। क्रार्यक्रम की सफलता पर अंत में सभी अतिथियों के द्वारा भावभीनी सराहना की गई तथा अंत में अरुणा माथुर जी ने सब का धन्यवाद प्रेषित किया और सभी मुख्य अतिथियों को मोमेंटो देकर आभार व्यक्त किया।।द्स दौरान जिला प्रशासन एवं एनबीटी जिन के सहयोग से यह प्रोग्राम शानदार रूप से सफल हुआ को भी धन्यवाद प्रेषित किया गया ।।

Leave a Comment