HDFC बैंक और सरकार ने लॉन्च किया खास क्रेडिट कार्ड

कॉमन सर्विसेज सेंटर्स को मिलेगा सीधा फायदा

HDFC बैंक और भारत सरकार की यूनिट कॉमन सर्विसेज सेंटर्स ने मिलकर एक खास क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है. इसके जरिए अब कॉमन सर्विसेज सेंटर्स वाले लोगों को रोज-रोज के बिजनेस से जुड़े खर्चों के लिए कैश की किल्लत से नहीं जूझना होगा| HDFC Bank और सरकारी की इकाई कॉमन सर्विसेज सेंटर (CSC) SPV ने मिलकर एक स्मॉल बिजनेस मनीबैक क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है. देश में यह इकलौते ऐसा क्रेडिट कार्ड है जो विशेष तौर पर कॉमन सर्विसेज सेंटर्स के लिए डिजाइन हुआ है| यह कार्ड HDFC बैंक के एमडी आदित्य पुरी, सीएससी चीफ आईएएस दिनेश कुमार त्यागी और फेसबुक इंडिया के प्रबंध निदेशक अजीत मोहन ने लॉन्च किया है| इस मौके पर पहला क्रेडिट कार्ड किशनगढ़ के समकित जैन को प्रदान किया गया| वर्तमान में, कॉमन सर्विसेज सेंटर्स (CSCs) के नेटवर्क के जरिए करीब 70,000 करोड़ रुपये का कारोबार होता है। यह सरकारी और पब्लिक युटिलिटी सेवाओं के लिए एक मंच प्रदान करने के अलावा, सामाजिक कल्याण की योजनाओं, वित्तीय सेवाओं, शिक्षा व स्किल डेवलपमेंट कोर्सेस, स्वास्थ्य, कृषि सेवाओं और डिजिटल साक्षरता से संबंधित कार्य भी करता है। एचडीएफसी बैंक और सीएससी ने एक समझौता किया, जिसके तहत बैंक सीएससी के साथ रिमोट एरियाज में विभिन्न उत्पाद और सेवाएं प्रदान करेगा।

सीएससी चीफ आईएएस दिनेश कुमार त्यागी ने सीएससी दिवस समारोह के संबोधन मे कहा कि किशनगढ़ के कॉमन सर्विस सेंटर्स संचालक समकित जैन संस्कृत से शास्त्री आचार्य है| अपनी लगन और मेहनत से पिछले चार वर्षो मे टॉप वीएलई मे स्थान बनाया है साथ ही अन्य के लिए प्रेरणा स्त्रोत है|

सूचना-प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सीएससी दिवस समारोहों को संबोधित करते हुए कहा, “मैं चाहता हूं कि अगले पांच साल में सीएससी तीन लाख करोड़ रुपये मूल्य का कारोबारी लेनदेन करें।” उन्होंने कहा कि नेटवर्क की मौजूदा स्थिति एवं सेवाएं उपलब्ध कराने के सीएससी के रिकॉर्ड को देखते हुए यह लक्ष्य ‘हासिल’ किया जा सकता है| सीएससी के पास काम का कोई अभाव नहीं है।” इस मौके पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने विश्वास जताया कि साझा सेवा केंद्र ‘न्यू इंडिया’ के निर्माण में अहम भूमिका निभा सकते हैं। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ”आने वाले दिनों में एलपीजी वितरण एक नया आयाम होगा…विक्रय केंद्र..हम विक्रय केंद्र के रूप में सीएससी को प्राथमिकता देंगे।” संचार, इलेक्‍टॉनिक्‍स, सूचना प्रौद्योगिकी और मानव संसाधन विकास राज्‍य मंत्री धोत्रे संजय शामराव तथा इलेक्‍टॉनिक्‍स, सूचना प्रौद्योगिकी सचिव, श्री अजय प्रकाश साहनी भी इस अवसर पर उपस्थित थे|

Leave a Comment

error: Content is protected !!