गर्मी के शुरूआती दौर में ही फेल हो रही जलदाय विभाग की व्यवस्थाएं

*कहीं गंदा पानी हो रहा सप्लाई, तो कहीं पेयजल को तरस रहे लोग*

नवीन वैष्णव
अजमेर का जलदाय विभाग शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी व जिला कलक्टर गौरव गोयल के आदेशों के बावजूद भी अपने कर्तव्यों का ढंग से निर्वहन नहीं कर रहे। इसके चलते गर्मी के शुरूआती दिनों में ही जलदाय विभाग की व्यवस्थाएं फेल होती नजर आ रही है और आमजन को इनका खामियाजा उठाना पड़ रहा है।
भीषण गर्मी में लोगों को पेयजल संकट नहीं उठाना पड़े। इसके लिए शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी और जिला कलक्टर गौरव गोयल ने अलग-अलग बैठकें लेकर जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके बावजूद भी विभाग के अधिकारियों के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। शहर के कई ऐसे ईलाके हैं जहां पानी नहीं मिल पा रहा है तो वहीं कई ईलाकों में गंदा पानी आ रहा है जिससे लोग बीमार हो रहे हैं। शनिवार को नवाब का बेड़ा क्षेत्र के लोगों ने बताया कि पिछले काफी समय से वह गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। कई बार स्थानीय जलदाय विभाग के कार्यालय में शिकायत कर दी गई लेकिन इसके बाद भी किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। ऐसे में स्थानीय बाशिंदे गंदा पानी ही पी रहे हैं। स्थानीय शालू रामनानी की मानें तो उसकी एक साल की बेटी को इस पानी से उल्टी-दस्त की शिकायत भी हो गई। डॉक्टर ने पानी के कारण ही तबियत बिगड़ने की बात कही और बोतलबंद पानी पिलाने की हिदायत भी दी। शालू ने कहा कि इस संबंध में भी जलदाय विभाग को अवगत करवाया गया लेकिन फिर भी उन्होंने क्षेत्र में आकर पाईपलाईन की सुध लेने तक की जहमत भी नहीं उठाई।
*नहीं हो रही नियमित जलापूर्ति*
कई ईलाके ऐसे भी है जहां पर जलदाय विभाग की ओर से जलापूर्ति भी नहीं हो रही, या कहीं हो रही है तो प्रेशर से नहीं हो रही। इससे लोगों को पेयजल का संकट होने लगा है। इस संबंध में शिकायत भी की जाती है लेकिन विभाग के कार्मिक तो मानो कुम्भकर्णी नींद में सोए हुए हैं। सवाल तो यह उठता है कि जब मंत्री और कलक्टर के आदेश पर भी जब अधिकारी व कर्मचारी काम नहीं कर रहे तो फिर आम जनता के कहने पर तो क्या काम होगा?
नवीन वैष्णव
(पत्रकार), अजमेर
9252958987
14-04-2018
navinvaishnav5.blogspot.com

Leave a Comment