बाल श्रम कानून के तहत बड़े वादे, लेकिन सब बेमानी

सदैव की भांति इस बार भी गणपति बप्पा अपने विभिन्न स्वरूपों में आनासागर चौपाटी पर विराजमान हो चुके है, आज ही भादप्रद शुक्ल पक्ष प्रारम्भ हुआ है और गणेश चतुर्थी तक ऐसे ही बप्पा हमे अपने दर्शन यहा देते रहेंगे , चौथ वाले दिन बप्पा को भक्त अपने घर ले जाकर आने वाले 10 दिन के लिए विराजमान करेंगे एवं सुख शांति समृद्धि की कामना करेंगे 🙏

Mrityunjay Kashyap
आने वाले 4-5 दिन ये नन्हे बच्चे बप्पा को ऐसे ही ध्यान रखेंगे , आज जब यहां से गुजर रहा था तो कोहतुलवश मैंने जब बच्ची से पूछा के आप स्कूल नही जाते तो बेहद मार्मिक अंदाज में उसने कहा कि दिन भर यही हो जाता है माँ और बापू यहां हमे छोड़के दिहाड़ी करने चले जाते है और मैं औऱ राकेश यहा संभालते है , मैंने मूल्य पूछ लिया तो तपाक से बोली 500 से शुरू है 2500 तक है , ज्ञान तो सारा है इन्हें ,अब आप बताए ये हमारा भविष्य है इनको भी अधिकार है जिंदगी जीने का , इस उम्र में खाना पीना खेलकूद पढ़ाई होनी चाहिए , इसमे इनका भी क्या दोष इन्हे तो वही करना है जो इनके माँ बाप ने किया और शायद इनकी आगे आने वाली पीढ़ी भी करे , सारा सरकारी अमला इसी रोड से गुजरता है लानत है कोई देख ले ,मंत्री संतरी का भी मुख्य मार्ग यही है लेकिन उनको भी फुरसत कहा ,सरकार ने बाल श्रम कानून के तहत बड़े वादे किए लेकिन सब बेमानी दिखाई पड़ते है ! इन्हें वाकई में संरक्षण की जरूरत है ! 🙏
~
क्योंकि बड़े होने के बाद बड़ी हसरत से इंसाँ बचपने को याद करता है
ये फल पक कर दोबारा चाहता है ख़ाम हो जाए
~
🙏 गणपति बप्पा मोरिया 🙏

Leave a Comment

error: Content is protected !!