प्रशासन गांव के संग अभियान 10 जनवरी 2013 से

अजमेर। जिला कलक्टर वैभव गालरिया ने उपखंड अधिकारियों, तहसीलदार एवं ग्रामीण क्षेत्र में ग्रामीणों की समस्याओं से जुड़े अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि अजमेर जिले में आगामी 10 जनवरी से 28 फरवरी 2013 तक आयोजित होने वाले प्रशासन गावों के संग अभियान की पुख्ता तैयारियां अभी से ही शुरू कर दें और कार्यदक्षता से अभियान को लक्ष्य तक पहुंचायें । ग्रामीणों की समस्याओं के निस्तारण में देरी को गंभीरता से लिया जायेगा।
जिला कलक्टर कलेक्ट्रेट के सभागार में राजस्व अधिकारियों की बैठक ले रहे थे । उन्होंने उपखंड अधिकारियों से अभियान के तहत आयोजित शिविरों का कार्यक्रम तयकर प्रस्तुत करने, पूर्व में आयोजित अभियान की व्यवस्थाओं का लाभ लेने, मुख्य शिविर के आयोजन की तिथि से पूर्व ही काश्तकारों के भू संशोधन खातेदारी, गैर खातेदारी, गरीब व्यक्तियों को भूमि आवंटन, पंचायतों को पट्टे जारी करने आदि कार्यों का निस्तारण सुनिश्चित करने को कहा ।
गालरिया ने मुख्य सचिव द्वारा ली गई बैठक में दिये गये निर्देशों के अनुरूप सेक्टर्स आफिसर्स व्यवस्था को संवेदनशील बनाने के लिए नये सिरे से अधिकारियों की चयन सूची प्रस्तुत करने और राजस्व के पेचीदा मामलों के निस्तारण में आने वाली परेशानी को दूर करने के लिए दिशा निर्देशन लेने की आवश्यकता जाहिर की । उन्होंने जिम्मेदारियों को प्राथमिकता से समझने और पूरा करने, गांवों में सुनवाई अधिकारी नियुक्त करने, संभागीय आयुक्त स्तर पर प्राप्त प्रकरणों का निस्तारण प्रभावी तरीके से करने और ग्रामीणों को जमाबंदी पूर्व में ही पढ़कर सुनाने को कहा ।
उन्होंने पोलीथीन केरीबैग्स के होलसेल विक्रेताओं के गोदामों पर जांच करने, केरोसिन अनुदान योजना में उपभोक्ताओं के खाते खोलने के कार्य को तीव्रगति से करने को कहा ।
जिला रसद अधिकारी किशोर कुमार ने राशनकार्ड अभियान के तहत अब तक हुई प्रगति, केरोसिन अनुदान योजना में 45 प्रतिशत खाते खोलने पर क्रियान्वयन की स्थिति स्पष्ट की । उन्होंने राशन कार्ड के फार्म व दस्तावेज राशन कार्ड बनाने वाली एजेन्सी को देने कें निर्देश भी दिये। उन्होंने बताया कि जिले में उचित मूल्य की दुकानों के आवंटन के लिए ब्यावर में 10 दिसंबर को, पीसांगन 11, नसीराबाद 3, मसूदा 7, भिनाय 4, केकड़ी 6 तथा सरवाड़ उपखंड मुख्यालय पर 5 दिसंबर को आवेदनकर्ताओं के साक्षात्कार लिये जायेंगे।
अतिरिक्त जिला कलक्टर गजेन्द्र सिंह राठौड़ ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. लक्ष्मण हरचंदानी से चिकित्सा व्यवस्था व्यवस्थित बनाये रखने के लिए निगरानी कार्यक्रम प्रस्तुत करने, पुष्कर मेले में चिकित्सा प्रबंध माकूल बनाये रखने, कायड़ विश्राम स्थली की व्यवस्थाओं पर निगरानी रखने, जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता एल.के.करोल को पुष्कर सरोवर के कुंडों में पानी की स्थिति यथावत बनाये रखने, अवैध खनन रोकने आदि कई बिन्दुओं पर अधिकारियों से स्थिति स्पष्ट की ।
बैठक में अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन मौहम्मद हनीफ, भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी अभिमन्यु सिंह, उपखंड अधिकारी इन्द्रजीत सिंह के. के.त्रिवेदी, भरत शर्मा, गजेन्द्र सिंह चारण, श्रीमती कमला, एन.एल.राठी सहित अन्य अधिकारी थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!